Submit your post

Follow Us

पटना में इंडिगो के मैनेजर रूपेश की हत्या, इन सवालों के मिलें जवाब तो खुले राज़

बिहार की राजधानी पटना में दिनदहाड़े हुई एक हत्या के बाद कानून-व्यवस्था पर सवाल खड़े किए जा रहे हैं. मंगलवार की शाम पटना एयरपोर्ट पर काम करने वाले इंडिगो एयरलाइंस के स्टेशन मैनेजर रूपेश कुमार की गोली मारकर हत्या कर दी गई. बताया जा रहा है कि बाइक सवार बदमाशों ने रूपेश पर ताबड़तोड़ 6 राउंड फायरिंग की, और फरार हो गए. रूपेश सिंह की उनके घर के बाहर हुई हत्या से बिहार पुलिस ही नहीं, सीएम नीतीश कुमार भी विपक्षी दलों के निशाने पर हैं. कई ऐसे पहलू हैं, जो इस हत्याकांड और इसकी जांच को लेकर सवाल उठा रहे हैं.

हत्या का कारण क्या है?

रूपेश सिंह के तमाम बड़े लोगों के साथ अच्छे सम्बंध थे, क्या राजनेता और क्या अभिनेता, सभी रूपेश को जानते थे. कई सिलेब्रिटीज से भी उनके अच्छे रिलेशन थे. हालिया विधानसभा चुनाव में भी रूपेश के चुनाव लड़ने की चर्चा थी. इस हाई प्रोफ़ाइल हत्याकांड के बाद से ही पुलिस महकमे और सरकारी तंत्र में हड़कंप मचा हुआ है.

आजतक संवाददाता उत्कर्ष सिंह के मुताबिक, इस हत्या को लेकर सबसे बड़ा सवाल ये उठ रहा है कि आखिर रूपेश की हत्या के पीछे कारण क्या है. फ़िलहाल उनके जानने वाले रूपेश की किसी से दुश्मनी की बात से इनकार कर रहे हैं. सभी का कहना है कि रूपेश काफ़ी मिलनसार थे. हालांकि इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि रसूखदार लोगों के साथ रूपेश के सम्बंध और ऊंची पहुंच की वजह से उनके कुछ दुश्मन भी हो सकते हैं. लेकिन अभी तक साफ़ नहीं है कि किसने और क्यों रूपेश की हत्या की.

Sale(809)
रूपेश को जानने वाले कहते हैं कि हंसमुख स्वाभाव के चलते उनका शायद ही कोई दुश्मन हो.

क्या प्लानिंग करके की गई हत्या?

जिस तरह से इस हत्याकांड को अंजाम दिया गया है, उससे तो यही लग रहा है कि हत्यारों को रूपेश के घर आने-जाने की टाइमिंग की अच्छी तरह से जानकारी थी. मंगलवार को भी रूपेश के एयरपोर्ट से निकलने और घर पहुंचने के टाइम के बारे में हत्यारों को पता था. या तो हत्यारे पहले से ही अपार्टमेंट के बाहर घात लगाकर बैठे हुए थे, या फिर वो उनकी गाड़ी के साथ-साथ ही अपार्टमेंट तक आए थे. इसके अलावा, जिस गली में रूपेश का अपार्टमेंट है, वो एक तरफ़ से बंद है. ज़ाहिर तौर पर अपराधियों को इसकी भी जानकारी थी. हत्याकांड के बाद वो उसी रास्ते से भागे, जिधर से रूपेश आए थे. हत्याकांड के तरीक़े से लग रहा है कि अपराधियों ने रेकी भी की होगी.

Sale(805)
जिस तरह से हत्यारे वारदात को अंजाम देकर फरार हुए उससे साफ लगता है कि हत्यारों ने इलाके की रेकी कर रखी थी.

अपार्टमेंट के CCTV का बंद क्यों?

राकेश के अपार्टमेंट के नीचे क़रीब आधा दर्जन CCTV कैमरे लगे हुए हैं. इनमें से एक तो गेट की तरफ़ मुड़ा हुआ है. यानी हत्याकांड की पूरी रिकॉर्डिंग उस CCTV में होनी चाहिए थी. लेकिन अपार्टमेंट के लोग बता रहे हैं कि CCTV कई सालों से ख़राब पड़े हैं.

Sale(803)
जहां पर मर्डर हुआ उस तरफ लगे CCTV कैमरे काम नहीं कर रहे थे.

हत्या के वक्त गार्ड कहां था?

इस अपार्टमेंट में एक ही गार्ड तैनात है, जो 24 घंटे परिवार के साथ ग्राउंड फ्लोर पर रहता है. जिस वक्त रूपेश का मर्डर हुआ, अपार्टमेंट का गार्ड मनोज लाल मौजूद नहीं था. गार्ड का कहना है कि वो अपने एक दोस्त की मां के दाह संस्कार में सुबह 9 बजे ही चला गया था. जब शाम 7.30 बजे लौटा तो देखा कि रूपेश की हत्या हो चुकी है. गार्ड के मुताबिक़, रूपेश ने जब गाड़ी का हॉर्न बजाया तो उसकी (गार्ड की) बेटी गेट खोलने आई. लेकिन तब तक हत्यारे घटना को अंजाम देकर फ़रार हो चुके थे. रूपेश की हत्याकांड के दिन ही गार्ड का न होना एक संयोग भी हो सकता है लेकिन फ़िलहाल ये जांच के घेरे में है.

Sale(807)
रूपेश सिंह के मर्डर के वक्त अपार्टमेंट का गार्ड छुट्टी पर था. यह संयोग हो सकता है लेकिन जांच का विषय है.

हत्याकांड की जांच में पुलिस का रवैया

आमतौर पर पुलिस किसी भी क्राइम सीन को सील कर देती है ताकि जांच में दिक़्क़त न हो. लेकिन रूपेश सिंह हत्याकांड का क्राइम सीन सील नहीं किया गया है. पुलिस गाड़ी को थाने तो ले गई लेकिन स्पॉट पर गाड़ी के शीशे बिखरे छोड़ दिए. सीट बेल्ट का लॉक क्लिप भी सड़क पर गिरा पड़ा मिला. मामला गरमाने के बाद हत्याकांड की जांच के लिए विशेष जांच दल (SIT) का गठन कर दिया गया है. पुलिस को शुरुआती जांच में घटना के पीछे सुपारी किलर का हाथ लग रहा है. वारदात में 3-4 लोगों के शामिल होने का शक है.

इस हत्याकांड को लेकर विपक्षी दलों ने नीतीश सरकार को घेरा. डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद ने आजतक से कहा कि रूपेश की हत्या दुर्भाग्यपूर्ण है. सरकार इसको लेकर काफी चिंतित है. सीएम नीतीश कुमार ने भी वरिष्ठ अधिकारियों को मामले का जल्दी से जल्दी खुलासा करने के निर्देश दिए हैं. हत्यारों को गिरफ्तार करने के लिए जिस हद तक जाना होगा, हम जाएंगे.


वीडियो – महिला ने पहले चाकू मारकर अपने पति की हत्या की, फिर फेसबुक पर पूरी कहानी बताई

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सुप्रीम कोर्ट ने जिन चार लोगों की कमिटी बनाई है, क्या उनमें ज्यादातर कृषि कानूनों के समर्थक हैं?

सुप्रीम कोर्ट ने जिन चार लोगों की कमिटी बनाई है, क्या उनमें ज्यादातर कृषि कानूनों के समर्थक हैं?

किसान आंदोलन को लेकर सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले से किसे ख़ुश होना चाहिए?

क्या सुप्रीम कोर्ट ने तीनों कृषि कानूनों को ग़लत माना?

क्या सुप्रीम कोर्ट ने तीनों कृषि कानूनों को ग़लत माना?

क्या सुप्रीम कोर्ट कृषि कानूनों को होल्ड पर रखने जा रही है?

डॉनल्ड ट्रम्प के समर्थकों ने अमेरिका की राजधानी में मचाया दंगा, 4 लोगों की मौत, वॉशिंगटन में कर्फ़्यू

डॉनल्ड ट्रम्प के समर्थकों ने अमेरिका की राजधानी में मचाया दंगा, 4 लोगों की मौत, वॉशिंगटन में कर्फ़्यू

फ़ेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम ने ट्रम्प पर बैन लगा दिया है.

चांदनी चौक: हनुमान मंदिर तोड़ने के पीछे की असल वजह क्या है, जान लीजिए

चांदनी चौक: हनुमान मंदिर तोड़ने के पीछे की असल वजह क्या है, जान लीजिए

BJP, AAP और कांग्रेस मंदिर ढहाने का ठीकरा एक दूसरे पर फोड़ रही हैं.

शाहजहांपुर बॉर्डर से हरियाणा में घुस रहे किसानों पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज

शाहजहांपुर बॉर्डर से हरियाणा में घुस रहे किसानों पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज

किसान नेताओं ने क्या ऐलान किया है?

कॉमेडियन मुनव्वर फारुकी को किस मामले में जेल भेज दिया गया है?

कॉमेडियन मुनव्वर फारुकी को किस मामले में जेल भेज दिया गया है?

मध्य प्रदेश में बीजेपी विधायक के बेटे ने दर्ज करवाया था केस.

तीसरे टेस्ट से पहले टीम इंडिया के पांच खिलाड़ियों को आइसोलेट क्यों कर दिया गया?

तीसरे टेस्ट से पहले टीम इंडिया के पांच खिलाड़ियों को आइसोलेट क्यों कर दिया गया?

इसमें रोहित शर्मा का नाम भी शामिल है.

देश के स्वास्थ्य मंत्री बोले सबको फ्री देंगे वैक्सीन, फिर ट्वीट करके कुछ और बात कह दी

देश के स्वास्थ्य मंत्री बोले सबको फ्री देंगे वैक्सीन, फिर ट्वीट करके कुछ और बात कह दी

जानिए देश में कहां-कहां वैक्सीन का ड्राई रन चल रहा है.

BCCI अध्यक्ष और पूर्व क्रिकेटर सौरव गांगुली अस्पताल में भर्ती

BCCI अध्यक्ष और पूर्व क्रिकेटर सौरव गांगुली अस्पताल में भर्ती

ममता बनर्जी का ट्वीट-गांगुली को हल्का कार्डियक अरेस्ट आया है.

राजीव गांधी सरकार में नंबर-2 रहे बूटा सिंह का निधन, PM मोदी ने ट्वीट कर दुख जताया

राजीव गांधी सरकार में नंबर-2 रहे बूटा सिंह का निधन, PM मोदी ने ट्वीट कर दुख जताया

बूटा सिंह 86 साल के थे, अक्टूबर-2020 में उन्हें ब्रेन हैमरेज के बाद AIIMS में भर्ती कराया गया था.