Submit your post

Follow Us

भारत-चीन के सैनिकों के बीच फिर झड़प, चीन के 20 सैनिक घायल

भारतीय सेना के साथ हुई एक और झड़प में चीन की सेना के कम से कम 20 जवानों के घायल होने की जानकारी सामने आ रही है. खबर के मुताबिक, इस हिंसक संघर्ष में भारत ने चीनी घुसपैठ की कोशिश को एक बार फिर नाकाम किया है. सूत्रों के हवाले से आई रिपोर्टों की मानें तो ये घटना तीन दिन पहले सिक्किम के नाकु ला (Naku La) बॉर्डर पर हुई है. इंडिया टुडे के संवाददाता राहुल श्रीवास्तव के अनुसार, पिछले हफ्ते चीनी सैनिकों ने भारतीय सीमा को क्रॉस करने की कोशिश की थी. इसी दौरान, दोनों तरफ के सैनिकों के बीच हिंसक संघर्ष हुआ, जिसे सेना के एक सूत्र ने ‘मामूली’ बताया है. हालांकि घटनास्थल पर हालात तनावपूर्ण बताए गए हैं.

इस बीच, भारतीय सेना के एक सूत्र ने भी इस घटना की पुष्टि की है। रिपोर्ट के मुताबिक, सूत्र ने कहा है,

“सिक्किम सेक्टर में भारतीय और पीएलए (पीपल्स लिबरेशन आर्मी) के बीच हुई झड़प को लेकर कई सवाल किए जा रहे हैं. यह साफ किया जाता है कि बीती 20 जनवरी को उत्तरी सिक्किम के नाकु ला एरिया में (भारत-चीन सेनाओं के बीच) मामूली झड़प हुई थी, जिसे स्थानीय कमांडरों द्वारा निर्धारित प्रोटोकॉल के तहत सुलझा लिया गया था. मीडिया से अपील की जाती है कि वो ऐसी रिपोर्टों को बढ़ा-चढ़ाकर दिखाने से बचे, जो तथ्यात्मक रूप से सही नहीं हैं.”

गलवान के बाद दूसरी झड़प

बीते हफ्ते से पहले 15 जून 2020 को भारतीय सेना और चीन की सेना के बीच गलवान घाटी में झड़प हुई थी. तब भारतीय सेना पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी के पॉइंट 14 पर गश्त करने गई थी. झड़प में कई भारतीय और चीनी सैनिक मारे गए थे. इस घटना के बाद इलाके में काफी तनाव हो गया था. तब से गलवान से सटी भारत-चीन सीमा पर दोनों ही तरफ की सेनाओं का भारी जमावड़ा है. इस वक्त मौसम काफी खराब है, लेकिन दोनों देशों की सेनाएं डटी हुई हैं.

इस बीच, भारत और चीन लगातार हालात सुधारने के लिए बातचीत करते रहे हैं. इस सिलसिले में रविवार को 9वें दौर की बातचीत हुई है. पूर्वी लद्दाख सेक्टर के चुशूल में हुई यह वार्ता तकरीबन 15 घंटे तक चली.

तस्वीर में जो लाल घेरा है, उसी जगह पर 15 जून को भारत-चीन के सैनिकों में लड़ाई हुई थी. इसमें 20 भारतीय जवान शहीद हुए थे.
तस्वीर में जो लाल घेरा है, उसी जगह पर 15 जून को भारत-चीन के सैनिकों में लड़ाई हुई थी. इसमें 20 भारतीय जवान शहीद हुए थे.

नाकु ला में पहले भी हुई है घुसपैठ

चीन की सेना पहले भी नाकु ला में घुसपैठ करने की कोशिश कर चुकी है। रिपोर्टों के मुताबिक, पिछले साल 9 मई को भी चीन के सैनिक सिक्किम के नाकु ला सेक्टर में भारत के इलाके में घुस गए थे. उस समय भी चीनी और भारतीय सैनिकों के बीच झड़प हुई थी. तब भारत के चार और चीन के सात जवानों के जख्मी होने की खबर आई थी. बताया जाता है कि झड़प में दोनों तरफ से मिलाकर करीब 150 जवान लड़ाई में शामिल थे. हालांकि यहां स्थानीय सैन्य कमांडर स्तर पर झगड़ा सुलझा लिया गया था.

बाद में इस हिंसा का एक वीडियो वायरल हुआ था. इसमें भारत और चीन के सैनिक हाथ-पैर और छोटे-मोटे हथियारों से आपस में लड़ते दिख रहे थे. वीडियो नॉर्थ सिक्किम के करीब 22 हज़ार फुट ऊंचे चोमो युमो पहाड़ के बेस का था. चोमो युमो नाकु ला से सिर्फ छह किलोमीटर दूर है. चीन से तनाव के चलते नाकु ला में भी भारत पहले से ज्यादा सतर्कता बरत रहा है.


वीडियो – गलवान वैली में हुई झड़प बाद चीन अब नई मुसीबत खड़ी कर रहा है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

बिहार : पुलिस अधिकारी ने कहा कि शराब की अवैध बिक्री हो रही, फिर अधिकारी के साथ ही खेल हो गया

लेटर गया ठंडे बस्ते में, फिर आया 'आलोचना रोकने' वाला फ़रमान

भारतीय अर्थव्यवस्था के अच्छे दिन क्या वापस आ गए हैं?

सेंसेक्स का पहली बार 50 हज़ार का आंकड़ा पार करना क्या बताता है?

जो कंपनी कोरोना की वैक्सीन बना रही, उसकी बिल्डिंग में आग लगी; 5 की मौत

आग बुझाने में फायर ब्रिगेड की 15 गाड़ियां लगीं. 4 लोग बचाए भी गए.

पहली बार सेंसेक्स हुआ 50 हजारी, जानिए इस बम-बम की वजह क्या है?

क्या अमेरिकी में बाइडेन का गद्दी संभालना भारत के लिए शुभ संकेत बन गया?

इलाहाबाद हाईकोर्ट का बड़ा फैसला- शादीशुदा होकर लिव-इन में रहना अपराध

जानिए कोर्ट ने अपने फैसले में क्या कहा है.

टीम बाइडेन में 20 भारतवंशियों को मिलेगी जगह, शपथ ग्रहण के लिए वॉशिंगटन किले में तब्दील

जानिए किन 20 लोगों को मिल रहा है मौका.

सुशांत सिंह राजपूत केस में मीडिया कवरेज को लेकर बॉम्बे हाईकोर्ट ने तीखी बात कही है

दो चैनलों की कवरेज पर हाईकोर्ट ने नाराजगी जताई है.

सरकार के साथ बातचीत में शामिल इस यूनियन के नेता को NIA ने समन क्यों भेजा?

NIA का समन मिलने के बाद क्या बोले बलदेव सिंह सिरसा.

कोविड-19 वैक्सीन लॉन्च करते हुए PM मोदी ने कही ये ज़रूरी बातें

आज से देशभर में वैक्सीनेशन शुरू.

BJP का तमिलनाडु प्लान क्या है?

क्यों BJP को अबकी तमिलनाडु में अपनी जगह बनती दिख रही है?