Submit your post

Follow Us

हरभजन सिंह से जानें, क्यों पक्की होगी T20 वर्ल्ड कप टीम में धोनी की जगह?

ऑफ-स्पिनर हरभजन सिंह का मानना है कि T20 वर्ल्ड कप टीम में धोनी की सीट पक्की होनी चाहिए. भज्जी को लगता है कि अगर धोनी उपलब्ध होते हैं तो सेलेक्टर्स के लिए उन्हें चुनने का फैसला लेना मुश्किल नहीं होगा. T20 वर्ल्ड कप इस साल अक्टूबर-नवंबर में होना है. भज्जी ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया में होने वाले इस टूर्नामेंट में धोनी टीम इंडिया के काफी काम आएंगे. वह दुनिया के महानतम प्लेयर्स, कैप्टंस में से एक हैं.

कोरोना वायरस के चलते इस साल IPL होना बेहद मुश्किल लग रहा है. फैन्स ने IPL2020 से धोनी की वापसी की उम्मीद लगा रखी थी. लेकिन अब उनकी वापसी बेहद मुश्किल दिख रही है.

# कैसे जज करेंगे?

38 साल के हो चुके धोनी ने 2019 क्रिकेट वर्ल्ड कप के बाद से कंपटिटिव क्रिकेट नहीं खेली है. भारत इस टूर्नामेंट के सेमी-फाइनल में न्यूज़ीलैंड से हार गया था. इसके बाद से धोनी ने अपने भविष्य पर कुछ क्लियर नहीं कहा था. हालांकि उन्होंने मार्च में अपनी IPL टीम चेन्नई सुपरकिंग्स (CSK) का ट्रेनिंग कैंप जॉइन कर क्रिकेट खेलते रहने के अपने इरादे क्लियर कर दिए थे.

न्यूज़ एजेंसी IANS से बात करते हुए भज्जी ने कहा,

‘आप धोनी को कैसे जज करेंगे? आप उनकी IPL फॉर्म देखेंगे या उनकी इज्जत करेंगे और इस बात को दिमाग में रखेंगे कि वह भारत के महानतम प्लेयर्स और कैप्टंस में एक हैं? उन्होंने इंडियन क्रिकेट के लिए बहुत कुछ किया है. MS धोनी एक बड़े, बहुत बड़े प्लेयर हैं.

उन्हें यह बताने की जरूरत नहीं है कि वह काबिल हैं या नहीं. इसलिए मुझे नहीं लगता कि आपको इस पर बहुत चिंतन करने की जरूरत है. अगर आपको लगता है कि आपको धोनी की जरूरत है, अगर वह उपलब्ध हैं, आपको उन्हें सेलेक्ट करना ही होगा.’

हाल ही में CSK स्टार सुरेश रैना ने भी धोनी पर बात की थी. उन्होंने कहा था कि धोनी को प्रैक्टिस करते देख कहीं से नहीं लग रहा था कि उनकी उमर हो गई है. वह लंबे-लंबे छक्के मार रहे थे.


अगर सुरेश रैना की ये बात सही है, तो टीम इंडिया में धोनी को वापसी करने से कोई नहीं रोक पाएगा

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

20 अप्रैल से कौन-कौन से लोग अपना काम-धंधा शुरू कर सकते हैं?

और खाने-पीने के सामान को लेकर सरकार ने क्या कहा?

लॉकडाउन के बीच ज़रूरी सामान भेजना है? बस एक कॉल पर हो जाएगा काम

रेलवे अधिकारियों ने शुरू की है 'सेतु' सर्विस.

सड़क पर मजदूरों संग खाना खाने वाले अर्थशास्त्री ने सरकार को कमाल का फॉर्मूला सुझाया है

कोरोना और लॉकडाउन ने मजदूर को कहीं का नहीं छोड़ा.

सरकार की नई गाइडलाइंस, जानिए किन इलाकों में, किन लोगों को लॉकडाउन से छूट

कोरोना से निपटने के लिए लॉकडाउन पहले ही बढ़ाया जा चुका है.

टेस्टिंग किट की बात पर राहुल गांधी ने भारत की तुलना किन देशों से की?

कहा, 'हम पूरे खेल में कहीं नहीं हैं.'

चीन से भारत के लिए चली टेस्टिंग किट की खेप अमरीका निकल गयी!

और अभी तक भारत में नहीं शुरू हो पाई मास टेस्टिंग.

कोरोना: मरीजों की खातिर बेड और लैब के लिए कितना तैयार है भारत, PM मोदी ने बताया

लॉकडाउन बढ़ाने के अलावा पीएम ने क्या-क्या कहा?

15 अप्रैल को लॉकडाउन-2 की जो गाइडलाइंस आनी हैं, उनमें क्या-क्या हो सकता है

पूरे देश में 3 मई तक लॉकडाउन बढ़ चुका है.

सुप्रीम कोर्ट ने बता दिया है कि किन लोगों का कोरोना वायरस टेस्ट फ्री में होगा

प्राइवेट लैब भी नहीं ले सकेंगे इनसे पैसा.

PM CARES Fund पर लगातार उठ रहे सवाल, अब हिसाब-किताब की होगी जांच

वकील ने PM Cares फंड को रद्द करने की मांग की है.