Submit your post

Follow Us

भारतीय बास्केटबॉल टीम ने अब क्या कमाल कर दिया?

FIBA एशिया कप. एशिया और ओशेनिया देशों की टीमों के बीच हर चार साल में होने वाला बास्केटबॉल टूर्नामेंट. इस टूर्नामेंट के लिए भारतीय टीम ने एक बार फिर क्वॉलिफाई कर लिया है. भारतीय टीम उन 16 टीमों में शुमार हो गई है जो 2022 में खिताब के लिए इंडोनेशिया में भिड़ने वाली हैं.

बता दें कि भारतीय टीम ने 10वीं बार इस टूर्नामेंट के लिए क्वॉलिफाई किया है. जेद्दा में किंग अब्दुल्ला स्पोर्ट्स सिटी हॉल में हुए क्वॉलिफाइंग टूर्नामेंट में भारत को सउदी अरब और फिलिस्तीन टीम के साथ ग्रुप एच में रखा गया था. भारत ने इस क्वॉलिफाइंग टूर्नामेंट को एक जीत और एक हार के साथ दूसरे नंबर पर खत्म किया.

#कैसा रहा क्वॉलिफाइंग टूर्नामेंट

वर्ल्ड रैंकिंग में 78वें नंबर वाली भारतीय टीम का पहला मुकाबला वर्ल्ड रैंकिंग में 87वें नंबर वाली टीम सउदी अरब से हुआ. शुक्रवार को हुए इस मुकाबले में भारतीय टीम को हार का सामना करना पड़ा था. टीम के लिए जोगिंदर सिंह ने सबसे ज्यादा 17 प्वाइंट किए थे, इसके साथ ही उन्होंने चार असिस्ट भी किए. वहीं अमृतपाल सिंह ने नौ रिबाउंड किए.

इस हार के बाद भारतीय टीम का अगला मुकाबला वर्ल्ड नंबर 83 फिलिस्तीन के खिलाफ हुआ. मैच के पहले क्वॉर्टर में भारतीय टीम 25-13 से पिछड़ गई, उसके बाद भारतीय टीम ने दूसरे और तीसरे क्वॉर्टर में 23-21 और 16-15 से वापसी की. चौथे और आखिरी क्वॉर्टर में भारत ने 14 प्वाइंट निकाले, जिसके बाद फिलिस्तीन के किंडल डाइक्स भी टीम के लिए स्कोर करते हुए स्कोर को 67-67 की बराबरी पर पहुंचा दिया.

मैच के अंतिम समय में थ्री-प्वाइंटर्स के जरिए फिलिस्तीन ने मैच जीतने की कोशिश भी की, लेकिन गिल और जोगिंदर के क्लच थ्री-पॉइंटर्स ने भारत को बचा लिया. वहीं सहज प्रताप सिंह सेखों ने कड़े डिफेंस के जरिए डाइक्स को पीछे रखा. जोगिंदर सिंह, अमृतपाल सिंह और अमज्योत सिंह ने मिलकर 65 प्वाइंट्स स्कोर किए.

वहीं कप्तान विशेष भृगुवंशी ने सात असिस्ट किए. क्वॉलिफाइंग टूर्नामेंट में भारत ने दूसरे नंबर पर रहकर क्वॉलिफाई किया है, वहीं सउदी ने दोनों मैच जीतकर टॉप पर रहकर क्वॉलिफाई किया जबकि फिलिस्तीन टूर्नामेंट से बाहर हो गया है.

गौरतलब है कि एशिया कप में भारत 1965 से हिस्सा ले रहा है. सिर्फ 1993 और 1999 के एडिशन में भारत इस टूर्नामेंट में शामिल नहीं हुआ था. साल 1975 में टीम ने चौथे नंबर पर फिनिश किया था. यह हमारी बेस्ट फिनिश थी. जबकि 2017 के एडिशन में टीम ग्रुप स्टेज में ही हार गई थी. बताते चलें कि एशिया कप का आयोजन अगस्त 2021 में होना था. कोरोना के कारण अब इसका आयोजन 2022 में होगा.


सचिन तेंडुलकर से नहीं तो फिर किस भारतीय से खौफ खाते थे मुरलीधरन?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

केरल के साथ उत्तराखंड में भी बारिश का कहर, सड़कें, इमारतें, पुल ध्वस्त, 16 की मौत

केरल के साथ उत्तराखंड में भी बारिश का कहर, सड़कें, इमारतें, पुल ध्वस्त, 16 की मौत

केरल में भारी बारिश के कारण हुई मौतों की संख्या 35 तक पहुंची.

जिस CBI अफसर को केस बंद करने के लिए सौंपा गया था, उसी ने सलाखों के पीछे पहुंचा दिया राम रहीम को

जिस CBI अफसर को केस बंद करने के लिए सौंपा गया था, उसी ने सलाखों के पीछे पहुंचा दिया राम रहीम को

इंसाफ दिलाने के लिए धमकियों और खतरों की परवाह नहीं की.

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

पुलिस और सुरक्षा बलों ने इलाके को घेरा.

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

पीएम मोदी ने केरल के मुख्यमंत्री से की बात.

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

कश्मीर ज़ोन पुलिस ने बताया घटनास्थलों को खाली कराया गया. तलाशी जारी.

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

राकेश टिकैत ने भी मीडिया से बात की है.

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

कुरान को लेकर अफवाह उड़ी और बांग्लादेश के कई हिस्सों में सांप्रदायिक तनाव फैल गया.

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

जज ने दोनों पक्षों की दलीलें तो सुनी लेकिन अपना फैसला रिज़र्व रख दिया.

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

किसी ने लोन लेकर परिवार को नया घर दिया था तो कोई दिवंगत पिता के शोक में जाने वाला था.

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

पुलिस ने संदिग्ध आतंकी के पास से एके-47, हैंड ग्रेनेड और कई कारतूस मिलने का दावा किया है.