Submit your post

Follow Us

62 साल पुरानी गणित की किस समस्या को इस भारतीय गणितज्ञ ने हल कर अमेरिका का शीर्ष पुरस्कार जीता?

निखिल श्रीवास्तव. भारतीय मूल के अमेरिकी गणितज्ञ. बर्कले स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ कैलीफोर्निया में गणित पढ़ाते हैं. अपने क्षेत्र के चुनिंदा बेहतरीन लोगों में शामिल हैं. कई प्रतिष्ठित अवॉर्ड जीत चुके हैं. हाल फिलहाल में उन्हें एक और प्रतिष्ठित अवार्ड के लिए संयुक्त रूप से चुना गया है. अमेरिकन मैथमेटिकल सोसाइटी ने निखिल श्रीवास्तव, एडम मार्कस और डेनियन स्पाइलमैन को पहले सिप्रियन फोयस प्राइज के लिए चुना है. इन तीनों को ये अवॉर्ड 6 दशक पुरानी एक गणितीय पहेली का हल निकालने के लिए दिया जा रहा है. अमेरिकन मैथमेटिकल सोसाइटी ने कहा है कि इन तीन गणितज्ञों ने अपनी मौलिक समझ के चलते उस समस्या का हल निकाला है.

62 साल से नहीं निकला था हल

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, निखिल श्रीवास्तव और उनके साथियों को मेट्रिसेस को समझने और सरल करने के लिए इस पुरस्कार के लिए नामित किया गया है. तीनों गणितज्ञों को अवॉर्ड के लिए नॉमिनेट करते हुए अमेरिकन मैथमेटिकल सोसाइटी ने कहा कि इन तीनों ने मिलकर उस समस्या समस्या को हल कर दिया है, जो पिछले 62 साल से बनी हुई थी. सोसाइटी की तरफ से ये भी कहा गया कि तीनों गणितज्ञों ने लीनियर एलजेब्रा, पॉलीनॉमियल्स और ग्राफ थ्योरी के बीच नए और गहरे संबंध खोज निकाले हैं. साथ ही साथ इन्होंने रामानुजन ग्राफ्स के नए एक्सटेंशन प्रस्तुत किए हैं, जो इंटर-कनेक्टेड डेटा नेटवर्क को विस्तृत तरीके से परिभाषित करते हैं.

तीनों गणितज्ञों को सिप्रियन प्राइज जनवरी, 2022 में दिया जाएगा. ये अवार्ड सिएटल में होने वाली दुनिया की सबसे बड़ी मैथमेटिक्ल मीटिंग के दौरान दिया जाएगा. आपको बता दें, सिप्रियन फोयस ऑपरेटर थ्योरी और फ्लुइड मेकानिक्स के क्षेत्र में एक बहुत बड़े और प्रभावशाली विद्वान थे. साल 2020 में उनके नाम पर ही इस अवॉर्ड को शुरू करने का फैसला लिया गया था. इस पुरस्कार के तहत विजेता को पांच हजार अमेरिकी डॉलर मिलेंगे.अवार्ड की घोषणा के बाद Nikhil Srivastava और उनके साथियों ने कहा कि वे इसे केडिसन सिंगर समस्या को हल करने में योगदान देने वालों की तरफ से स्वीकार करेंगे. (फोटो: ट्विटर)

सिर्फ गणित तक सीमित नहीं थी समस्या

निखिल श्रीवास्तव, एडम मार्कस और डेनियल स्पाइलमैन ने जिस गणितीय समस्या का हल निकाला है, उसे केडिसन-सिंगर प्रॉब्लम के तौर पर जाना जाता है. और ये समस्या केवल गणित तक ही सीमित नहीं थी. इंजीयनरिंग और क्वांटम फिजिक्स के क्षेत्र में काम करने वालों को भी इस समस्या से गणितज्ञों की तरह ही दो चार होना पड़ता था.

अवॉर्ड के लिए अपने नामों की घोषणा के बाद निखिल श्रीवास्तव, एडम मार्कस और डेनियल स्पाइलमैन ने एक संयुक्त बयान जारी किया है. इसमें कहा गया कि वे इस पुरस्कार को उन लोगों की तरफ से स्वीकार करना चाहते हैं, जिन्होंने केडिसन-सिंगर समस्या का हल निकालने के में लिए मेहनत की.

निखिल श्रीवास्तव को पहले भी मिला है अवॉर्ड

मैथ की फील्ड में निखिल श्रीवास्तव अमेरिका में काफी चर्चित नाम हैं, इससे पहले भी कई तरह की गणितीय समस्याओं को सरल बनाने के लिए वे अवॉर्ड जीत चुके हैं. साल 2014 में उन्होंने जॉर्ज पोयला और इसी साल माइकल एंड शीला हेल्ड प्राइज जीता है.


वीडियो- 68 साल पहले लिए 28 रुपए लौटाने US से हिसार आए पूर्व नेवी अफसर

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

रुचि सोया के FPO के 'चमत्कार' को नमस्कार करने के बजाय SEBI ने क्यों दिखाई सख्ती?

रुचि सोया के FPO के 'चमत्कार' को नमस्कार करने के बजाय SEBI ने क्यों दिखाई सख्ती?

वजह पतंजलि समूह का एक कथित संदेश बताया गया है?

योगी सरकार 2.0 में राज्यमंत्री बने नेताओं के बारे में ये बातें जानते हैं आप?

योगी सरकार 2.0 में राज्यमंत्री बने नेताओं के बारे में ये बातें जानते हैं आप?

कई पुराने तो कुछ नए चेहरों को मंत्रीमंडल में जगह मिली है.

योगी आदित्यनाथ ने ली CM पद की शपथ, जानें कौन-कौन बना मंत्री

योगी आदित्यनाथ ने ली CM पद की शपथ, जानें कौन-कौन बना मंत्री

योगी आदित्यनाथ के साथ 52 मंत्रियों ने भी ली शपथ

बीरभूम हिंसा पर सीएम ममता बनर्जी ने क्या कहकर अपनी ही पुलिस पर निशाना साधा?

बीरभूम हिंसा पर सीएम ममता बनर्जी ने क्या कहकर अपनी ही पुलिस पर निशाना साधा?

ममता बनर्जी ने घटना के पीछे साजिश होने की आशंका भी जताई.

बिहार विधानसभा में शून्य हुई VIP, तीनों विधायक बीजेपी में शामिल

बिहार विधानसभा में शून्य हुई VIP, तीनों विधायक बीजेपी में शामिल

बोचहां विधानसभा उपचुनाव और एमएलसी इलेक्शन से पहले मुकेश सहनी को तगड़ा झटका.

यूनिवर्सिटी बनी ही नहीं, राजस्थान सरकार ने बिल पेश कर दिया, फिर हुई मिट्टी पलीद!

यूनिवर्सिटी बनी ही नहीं, राजस्थान सरकार ने बिल पेश कर दिया, फिर हुई मिट्टी पलीद!

सरकार को बिल वापस लेना पड़ा, बीजेपी बोली- पूरे कुएं में भांग है.

थोक ग्राहकों के लिए 25 रुपये प्रति लीटर महंगा हुआ डीजल, आम लोगों पर ये असर पड़ेगा

थोक ग्राहकों के लिए 25 रुपये प्रति लीटर महंगा हुआ डीजल, आम लोगों पर ये असर पड़ेगा

कीमतें बढ़ने से ब्लैक मार्केटिंग बढ़ने की आशंका. बंद हो सकते हैं कई पंप.

हरभजन सिंह को राज्यसभा में भेजने के साथ AAP उन्हें एक और बड़ी जिम्मेदारी दे सकती है

हरभजन सिंह को राज्यसभा में भेजने के साथ AAP उन्हें एक और बड़ी जिम्मेदारी दे सकती है

पंजाब के सीएम भगवंत मान और भज्जी काफी करीबी दोस्त माने जाते हैं.

इराक में अमेरिकी दूतावास के पास मिसाइल हमला करने की ईरान ने क्या वजह बताई?

इराक में अमेरिकी दूतावास के पास मिसाइल हमला करने की ईरान ने क्या वजह बताई?

ईरान ने इजरायल का नाम क्यों लिया है?

यूक्रेन संकट के बीच केमिकल हथियारों की चर्चा से डरना क्यों चाहिए?

यूक्रेन संकट के बीच केमिकल हथियारों की चर्चा से डरना क्यों चाहिए?

रूस ने US पर यूक्रेन में जैविक हथियार बनाने का आरोप लगाया है, नाटो का कुछ और कहना है.