Submit your post

Follow Us

कोरोना में हॉट स्पॉट तो सुना पर ये कोल्ड स्पॉट क्या चीज है?

भारत में कोरोना वायरस के मामले 10,000 के करीब पहुंच चुके हैं. मामले बढ़ने के साथ ही सरकार भी कड़े कदम उठा रही है. जिन इलाकों में मामले ज्यादा थे, उन्हें हॉट स्पॉट घोषित किया. इन इलाकों को पूरी तरह से सील कर दिया गया. साथ ही यहां रहने वाले लोगों की लगातार टेस्टिंग भी हो रही है. अब सरकार ने हॉट स्पॉट के साथ ही कोल्ड स्पॉट में भी जांच शुरू करने का फैसला किया. टाइम्स ऑफ इंडिया ने यह खबर दी है. कोल्ड स्पॉट में जांच को कोरोना से लड़ाई में बड़ा कदम बताया जा रहा है.

है क्या ये कोल्ड स्पॉट

जैसा कि नाम से साफ है कि यह हॉट स्पॉट का उल्टा है. हॉट स्पॉट वो जगह है जहां कोरोना के मामले मिले हैं. देश के 133 जिलों में अभी कोरोना के कई हॉट स्पॉट्स हैं. वहीं कोल्ड स्पॉट ऐसी जगहें हैं जहां कोरोना का अभी तक एक भी मामला नहीं आया है. देश में 720 जिले हैं. इनमें से 400 के करीब जिलों में कोरोना के केस नहीं आए हैं. सरकार अब इन जिलों में कोरोना के टेस्ट करना चाहती है. इसके लिए जिलों की पहचान की जा रही है.

Coronavirus Test
मुंबई में डॉक्टर्स एक महिला का कोरोना टेस्ट करते हुए. प्रतीकात्मक तस्वीर. क्रेडिट- PTI.

सरकार क्यों करना चाहती है कोल्ड स्पॉट में टेस्ट

इसके पीछे दो बड़े कारण है.

एक- देश में कोरोना की क्या स्थिति है, इसका पता लगाना. जिससे कि इस बीमारी को लेकर ज्यादा से ज्यादा डेटा जुटाया जाए. ताकि रणनीति बनाई जा सके.

दो- कम टेस्ट को लेकर भारत की काफी आलोचना हो रही है. आरोप है कि भारत में कोरोना पॉजीटिव मामलों को दबाकर रखा गया है. ऐसे में सरकार पर टेस्ट का दायरा बढ़ाने का दबाव भी है. कोल्ड स्पॉट में जांच इसी तरफ एक कदम है.

अभी तक सरकार ने दूसरे देशों से आए लोगों, कोरोना पॉजीटिव व्यक्ति के संपर्क में आए व्यक्तियों की जांच पर ही ध्यान दिया है. इसके बाद हॉट स्पॉट में खांसी, बुखार जैसे लक्षण दिखाने वाले लोगों की जांच शुरू की है.

जिन्हें सांस लेने में पहले से दिक्कत है ऐसे जो भी मरीज़ अस्पतालों में भर्ती हैं उनकी टेस्टिंग की जाएगी (तस्वीर सांकेतिक PTI)
ऐसे मरीज़ जिन्हें सांस लेने में पहले से दिक्कत है, उनकी भी टेस्टिंग की जाएगी (तस्वीर सांकेतिक PTI)

क्या योजना है?

सरकार चाहती है कि कोल्ड स्पॉट वाले इलाकों में जिन लोगों में भी खांसी-जुकाम के लक्षण हैं, उनकी जांच की जाए. इसके लिए RT-PCR और रैपिड एंटीबॉडी दोनों तरह के टेस्ट का सहारा लिया जाएगा. पहले कहां पर ये टेस्ट होंगे, इसका फैसला इंटीग्रेटेड डिज़ीज सर्विलांस प्रोग्राम नेटवर्क और आरोग्य सेतु ऐप पर मौजूद डेटा के हिसाब से होगा. हिंदुस्तान टाइम्स ने स्वास्थ्य मंत्रालय के हवाले से लिखा है कि कई सारे लोगों के टेस्ट किए जाएंगे. इससे पता चल जाएगा कि वह इलाका कोरोना मुक्त है या नहीं. बीमारी कहां तक फैली है, यह जानने के लिए पूल टेस्टिंग की जाएगी.

पर एक समस्या भी है

भारत अगर कोल्ड स्पॉट में टेस्ट शुरू करता है तो उसे RT-PCR टेस्ट ही करने होंगे. क्योंकि चीन से मंगाई गई रैपिड एंटीबॉडी टेस्ट किट अभी तक आई नहीं है. रैपिड किट से टेस्ट केवल 30 मिनट में हो जाता है. वहीं RT-PCR टेस्ट में पांच घंटे लगते हैं. भारत पांच लाख रैपिड टेस्ट किट का ऑर्डर दे चुका है. इसके अलावा आईसीएमआर ने 11 अप्रैल को 45 लाख किट का ऑर्डर और दिया. यह ऑर्डर टुकड़ों में आएगा और 31 मई तक सभी किट के भारत पहुंचने की उम्मीद है.

चीन में बनी किट की क्वॉलिटी पर सवालिया निशान है. कई देशों में चाइनीज़ किट खराब निकली है. इस बारे में ICMR ने कहा कि वह चीन से आने वाली किट की रैंडम जांच भी करेगा ताकि गड़बड़ होने पर उसे पकड़ा जा सके. इसके लिए सभी बैच में से किट की क्वॉलिटी चेक की जाएगी. भारत में भी रैपिड टेस्ट किट बनाई जा रही है. HLL Lifecare ने 13 अप्रैल से निर्माण शुरू कर दिया है. यह रोजाना 20 हजार किट बनाएगी.

भारत में कोरोना वायरस के मामलों का स्टेटस


Video: वो टेस्टिंग जो पता लगा रही है कि भारत में कोरोना वायरस का कम्यूनिटी ट्रांसमिशन शुरू तो नहीं हो गया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

SRHvKKR : पहले मैच में पिटे पैट कमिंस ने अब क्या किया?

SRHvKKR : पहले मैच में पिटे पैट कमिंस ने अब क्या किया?

IPL2020 के सबसे महंगे प्लेयर हैं कमिंस.

छत्तीसगढ़: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कांग्रेसियों की इस गुंडई पर चुप क्यों हैं?

छत्तीसगढ़: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कांग्रेसियों की इस गुंडई पर चुप क्यों हैं?

सरेआम पत्रकारों को पीटा जा रहा है.

तमिलनाडु: पिता-बेटे की पुलिस हिरासत में मौत, CBI की चार्जशीट में 9 पुलिसवालों पर क्या आरोप हैं?

तमिलनाडु: पिता-बेटे की पुलिस हिरासत में मौत, CBI की चार्जशीट में 9 पुलिसवालों पर क्या आरोप हैं?

जून में हुई थी पिता-बेटे की मौत, एक आरोपी सब इंस्पेक्टर की कोरोना से मौत हो चुकी है.

अब मथुरा की कृष्ण जन्मभूमि का मामला अदालत पहुंच गया है

अब मथुरा की कृष्ण जन्मभूमि का मामला अदालत पहुंच गया है

मथुरा में जन्मभूमि परिसर से लगी हुई है ईदगाह मस्जिद.

किसानों के भारत बंद के अगले दिन पंजाब और हरियाणा के लिए मोदी सरकार ने कर दी ये घोषणा

किसानों के भारत बंद के अगले दिन पंजाब और हरियाणा के लिए मोदी सरकार ने कर दी ये घोषणा

25 सितंबर को देश के अलग-अलग हिस्सों से प्रदर्शन और चक्काजाम की तस्वीरें आईं.

बिहार चुनाव की घोषणा के अगले दिन बीजेपी की नई टीम बनी

बिहार चुनाव की घोषणा के अगले दिन बीजेपी की नई टीम बनी

जानिए किन्हें मिली जगह और कौन हुए बाहर.

करण जौहर ने खुद की पार्टी में ड्रग्स की बात पर लंबा-चौड़ा पोस्ट लिखकर क्या कहा है?

करण जौहर ने खुद की पार्टी में ड्रग्स की बात पर लंबा-चौड़ा पोस्ट लिखकर क्या कहा है?

मीडिया को भी चेतावनी दी है.

अनिल अंबानी ने लंदन की कोर्ट में कहा-पैसे नहीं हैं, पत्नी के गहने बेचकर केस लड़ना पड़ रहा है!

अनिल अंबानी ने लंदन की कोर्ट में कहा-पैसे नहीं हैं, पत्नी के गहने बेचकर केस लड़ना पड़ रहा है!

कहा- खर्चा पत्नी और परिवार उठा रहा है. बैंकों का पैसा कहां से दूं.

मुख्यमंत्री शिवराज को खाना ठंडा मिला, तो अधिकारी ही सस्पेंड हो गया!

मुख्यमंत्री शिवराज को खाना ठंडा मिला, तो अधिकारी ही सस्पेंड हो गया!

इंदौर के डीएम ने कार्रवाई की.

जिस महोबा कांड से यूपी पुलिस की भद्द पिटी, उसमें SIT ने जांच रिपोर्ट में क्या बताया है?

जिस महोबा कांड से यूपी पुलिस की भद्द पिटी, उसमें SIT ने जांच रिपोर्ट में क्या बताया है?

व्यापारी इंद्रकांत त्रिपाठी के गले में गोली लगी थी. मौत से पहले उन्होंने महोबा SP पर गंभीर आरोप लगाए थे.