Submit your post

Follow Us

अबकी बार कड़ाके की सर्दी पड़ेगी, मौसम विभाग ने चेता दिया है!

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग, IMD ने बुधवार, 14 अक्टूबर को कहा कि इस साल सर्दी अधिक पड़ने की संभावना है. मौसम विभाग के डीजी मृत्युंजय महापात्रा ने कहा कि इस बार पहले के मुकाबले अधिक सर्दी पड़ेगी. इसका मुख्य कारण ‘ला नीना’ कंडिशन है.

महापात्रा ने कहा,

कमजोर नीना हालत के कारण हम इस साल और अधिक ठंड की उम्मीद कर सकते हैं. भारत में मौसम के रुख को तय करने में ‘अल नीनो’ और ‘ला नीना’ की स्थिति एक प्रमुख भूमिका निभाती है. ‘ला नीना’ की स्थिति शीतलहर के लिए अनुकूल है, जबकि ‘अल नीनो’ की स्थिति इसके लिए प्रतिकूल होती है. 

महापात्र ने कहा कि ठंड की वजह से सबसे ज्यादा मौतें राजस्थान, उत्तर प्रदेश और बिहार में होती हैं. उन्होंने कहा कि हर साल नवंबर में मौसम विभाग आधिकारिक तौर पर सर्दियों का पूर्वानुमान जारी करता है.

‘ला नीना’ क्या है 

दक्षिणी अमेरिका के पश्चिमी तट पर दो देश हैं- पेरू और इक्वाडोर. यहा के तटों पर दक्षिण से उत्तर की ओर हम्बोल्ट नाम की ठंडी जलधारा बहती है. ऊपर से भूमध्य रेखा से एक गर्म जलधारा आकर मिलती है. सामान्य परिस्थितियों में जब धारा ठंडी रहती है, तो एक साइकिल चलती है. ये ठंडी धाराएं प्रशांत महासागर के पश्चिमी तट यानी कि ऑस्ट्रेलिया के पूर्वी तट, फिलिपींंस आदि तक जाती हैं और वर्षा कराती हैं. लेकिन अक्सर पांच या छह साल में किन्हीं कारणों से गर्म जल की धाराएं आकर ठंडी जल धाराओं को हटा देती है. इससे वहां का तापमान बढ़ जाता है. तीन से चार डिग्री सेल्सियस. तापमान बढ़ने की इस प्रक्रिया को ‘अल नीनो’ कहते हैं. ये दिसंबर के आसपास शुरू होता है.

‘अल नीनो’ जब आता है, तो पेरू के आसपास भारी वर्षा कराता है, जिससे यहां से ऑस्ट्रेलिया की ओर गुजरने वाली व्यापारिक पवनों में पर्याप्त नमी की कमी हो जाती है.

‘अल नीनो’ का ठीक उल्टा ‘ला नीना’ होता है. यानी पेरू में ठंडी जलधारा सही से बहेगी, तो ऑस्ट्रेलिया और फिलिपींस में अच्छी बारिश होगी. भारत में आने वाली मॉनसूनी जलधारा ऑस्ट्रेलिया से होकर आती है. कोरल इफेक्ट की वजह से भूमध्य रेखा से घूमकर भारत में आकर बारिश कराती है. इसकी वजह से मॉनसून अच्छा रहता है. यहां भी जमकर बारिश होती है.


क्या होते हैं एल नीन्यो और ला निन्या, जो हमारे मौसम तय करते हैं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

हैदराबाद में भारी बारिश से सड़कों पर भरा पानी, परीक्षाएं टलीं, 11 लोगों की मौत

एनडीआरएफ की टीम मदद में जुटी. लोगों से घरों में रहने की अपील.

सीएम जगनमोहन ने सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमना की शिकायत चीफ जस्टिस से क्यों कर दी?

ये पूरा मामला तो वाकई हैरान कर देने वाला है.

फारुख अब्दुल्ला बोले- चीन के सपोर्ट से दोबारा लागू किया जाएगा अनुच्छेद 370

कहा- आर्टिकल 370 को हटाया जाना चीन कभी स्वीकार नहीं करेगा.

पीएम मोदी ने जिस स्वामित्व योजना की शुरुआत की है, उसके बारे में जान लीजिए

2024 तक देश के 6.62 लाख गांवों तक सुविधा पहुंचाने का लक्ष्य है.

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने CJI को चिट्ठी लिखी, सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमन्ना पर लगाए गंभीर आरोप

जस्टिस एनवी रमन्ना अगले संभावित चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया बन सकते हैं.

TRP स्कैम: FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर मुंबई पुलिस ने क्या कहा है?

रिपब्लिक टीवी का आरोप है कि FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर एक्शन नहीं लिया गया.

IPL 2020: मयंक-राहुल के विकेट से नहीं, इन छह गेंदों से हार गया पंजाब

सीजन बदला पर पंजाब की हालत नहीं.

मुंबई पुलिस का दावा, पैसे देकर TRP खरीदता है रिपब्लिक टीवी

रैकेट में दो और चैनलों के भी नाम हैं, उनके मालिक गिरफ्तार कर लिए गए है.

दो बार छह छ्क्के लगा चुका वह भारतीय, जिसे करोड़पति बनना रास ना आया

गणित के मास्टर भी हैं CSK को पीटने वाले राहुल त्रिपाठी.

आधी रात को क्यों जलाई थी हाथरस विक्टिम की बॉडी, यूपी सरकार ने अब बताया है

साथ ही ये भी बताया कि 14 सितंबर से अब तक क्या-क्या किया.