Submit your post

Follow Us

चीन के साथ टेंशन में भारत ने इमरजेंसी हवाई पट्टी का निर्माण शुरू कर दिया!

चीन और इंडिया के बीच टेंशन है. और इसी बीच भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण यानी NHAI ने जम्मू-कश्मीर में एक इमरजेंसी लैंडिंग स्ट्रिप का निर्माण करना शुरू कर दिया है. 

ख़बर है हिंदुस्तान टाइम्स की. दक्षिणी कश्मीर में जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर NHAI ने इमरजेंसी लैंडिंग स्ट्रिप का निर्माण शुरू किया है. इमरजेंसी लैंडिंग स्ट्रिप मतलब वो हवाईपट्टी जहां हवाईजहाज़ किसी इमरजेंसी में उतर सकें. 

लेकिन अधिकारियों ने दावा किया है कि इस इमरजेंसी लैंडिंग स्ट्रिप का चीन और भारत के बीच हुए तनाव से कोई लेनादेना नहीं है. उन्होंने ये भी कहा है कि ये एक पुराना प्रोजेक्ट है, जिस पर काम करने की कुछ ही वक़्त पहले अनुमति मिली थी. 

इस इमरजेंसी लैंडिंग स्ट्रिप की लम्बाई लगभग 3.5 किलोमीटर है. NHAI के अधिकारी ने मीडिया से कहा,

“जब कश्मीर में नए नेशनल हाईवे का निर्माण शुरू हुआ, तभी इस इमरजेंसी लैंडिंग स्ट्रिप का प्लान बनाया गया. लेकिन लॉकडाउन की वजह से इस पर काम शुरू नहीं किया जा सका.”

वहीं दी ट्रिब्यून में छपी ख़बर बताती है कि इस बारे में रक्षा प्रवक्ता राजेश कालिया ने कुछ भी जानकारी देने के लिए वक़्त मांगा. वहीं सूत्रों ने चीन और पाकिस्तान के साथ चल रहे तनाव से इसे जोड़ने से इंकार कर दिया. कहा कि इस परियोजना को पिछले साल जून में मंज़ूरी मिली थी. और इस तरह के 13 इमरजेंसी लैंडिंग स्ट्रिप पूरे देशभर में बनाए जायेंगे. 


वीडियो : लद्दाख की इस सड़क को लेकर क्यों आमने-सामने हैं भारत और चीन की सेनाएं? 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

उत्तर प्रदेश में एक IPS अधिकारी के ट्रांसफर पर क्यों तहलका मचा हुआ है?

69000 भर्ती में कार्रवाई का नतीजा ट्रांसफर बता रहे लोग. मगर बात कुछ और भी है.

गलवान घाटी: LAC पर भारत के तीन नहीं, 20 जवान शहीद हुए हैं, कई चीनी सैनिक भी मारे गए

लड़ाई में हमारे एक के मुकाबले तीन थे चीनी सैनिक.

गलवान घाटीः वो जगह जहां भारत-चीन के बीच झड़प हुई

पिछले कुछ समय से यहां पर दोनों देशों की सेनाएं आमने-सामने हैं.

लद्दाख: गलवान घाटी में भारत-चीन झड़प पर विपक्ष के नेता क्या बोले?

सेना के एक अधिकारी समेत तीन जवान शहीद हुए हैं.

क्या परवीन बाबी की राह पर चल पड़े थे सुशांत?

मुकेश भट्ट ने एक इंटरव्यू में कहा.

सुशांत के पिता और उनके विधायक भाई ने डिप्रेशन को लेकर क्या कहा?

फाइनेंशियल दिक्कत की ख़बरों पर भी बोले.

मुंबई में सुशांत सिंह राजपूत को दी गई अंतिम विदाई, ये हस्तियां हुईं शामिल

मुंबई में तेज बारिश के बीच अंतिम संस्कार.

सुशांत ने किस दोस्त को आख़िरी कॉल किया था?

दोस्त फोन रिसीव न कर सका. जब तक कॉल बैक किया, देर हो चुकी थी.

सुशांत के साथ काम कर चुके मनोज बाजपेयी, राजकुमार राव और अनुष्का शर्मा ने क्या कहा?

सुशांत ने 11 फिल्मों में काम किया था.

सुशांत के सुसाइड से जुड़ी शुरुआती डिटेल्स आ गई हैं, सुबह 10 बजे तक सब ठीक था

किसे कॉल किया था? घर में कितने लोग थे? वगैरह.