Submit your post

Follow Us

अक्षर पटेल ने बताया टीम मैनेजमेंट उनसे क्या चाहता है

 

वानखेड़े क्रिकेट मैदान पर खेले गए भारत और न्यूज़ीलैंड मुकाबले में अक्षर पटेल ने दोनों पारियों में लाजवाब बैटिंग की 93 रन बनाए. वहीं गेंदबाज़ी में उन्होंने तीन विकेट भी निकाले. अक्षर पटेल भारत की जीत में योगदान देकर खासे खुश हैं. उन्होंने मैच के दौरान कहा है कि साल 2021 उनके लिए एक ड्रीम ईयर की तरह गुज़र रहा है.

अक्षर पटेल ने न्यूज़ीलैंड के खिलाफ बेमिसाल प्रदर्शन कर अपने खेल पर बात की और कहा,

‘मेरी कोशिश रहती है कि मैं सुधार करता रहूं. और उन एरियाज़ को देखूं जहां मुझे बेहतर होने की ज़रूरत है. इतने साल मैंने जितनी भी मेहनत की आखिरकार उसका नतीजा मुझे इस साल मिल रहा है.’

अक्षर ने अपनी बल्लेबाज़ी पर बात करते हुए कहा,

‘बैटिंग कोच और टीम प्रबंधन को मेरी बल्लेबाज़ी क्षमताओं पर भरोसा है. उन्होंने मुझे हमेशा कहा है कि तुम ये कर सकते हो. पहले, जब मुझे मौके मिले थे, मैं अपनी शुरुआत को बड़ी पारी में कनवर्ट नहीं कर पाया. लेकिन इस बार जब मुझे मौका मिला तो मैं ये कर पा रहा हूं.’

बल्लेबाजी पर ही अपनी बात आगे रखते हुए अक्षर बोले,

‘मेरी बल्लेबाजी मेरी टीम की मदद कर रही है. और अगर आप देखें तो मैं, जड्डू (जडेजा) और ऐश(अश्विन) भाई ऑल-राउंडर के तौर पर खेलते हैं. ये हमारे बल्लेबाजों पर से प्रेशर हटा देता है. जो कि एक अच्छा साइन है. अब जब तक मैं योगदान कर रहा हूं ये मेरे और मेरी टीम के लिए अच्छा है.’

गौर हो कि अक्षर पटेल को बीते कुछ सालों में ज्यादा मौके नहीं मिले थे. ऐसा इसलिए क्योंकि रविन्द्र जडेजा टीम के लिए शानदार परफॉर्म कर रहे हैं. लेकिन साल 2021 में अक्षर ने जडेजा के साथ ही टीम में अपनी जगह बना ली. अपनी इस परफॉर्मेंस पर अक्षर ने कहा,

‘दरअसल, ये मेरा ड्रीम ईयर है, आप ऐसा कह सकते हैं. मैंने इंग्लैंड सीरीज में जिस तरह से गेंदबाजी की और अब न्यूज़ीलैंड सीरीज जिस तरह से गुज़री, इस बीच IPL भी था. तो ये मैं व्यक्तिगत रूप से कह सकता हूं कि ये मेरे लिए अच्छा साल था.’

अक्षर पटेल ने साल 2021 में घरेलू सीरीज में इंग्लैंड के खिलाफ अपना डेब्यू किया था. जिसके बाद से उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया है. अक्षर ने अब तक सिर्फ पांच मुकाबले खेले हैं और 36 विकेट के साथ 179 रन बनाए हैं.


1983 वर्ल्ड कप में इन पांच के बिना जीत पाना शायद मुश्किल होता

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

मृतक व्यक्ति पर नाबालिग से बलात्कार का आरोप था.

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5G के रोल आउट को लेकर दिक्कतें चालू.

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

बीमा कंपनी गाड़ी चोरी या दुर्घटनाग्रस्त होने का बहाना बनाए तो ये आदेश दिखा देना.

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

दबी जुबान में क्या कह रही है पुलिस?

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

जानेंगे बैंक FD में क्यों घट रही है लोगों की दिलचस्पी.

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

तौकीर रजा कांग्रेस पर आरोप लगा चुके हैं कि उसने मुसलमानों पर आतंकी का टैग लगाया.

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

जानिए UPA के समय हुई इस डील ने कैसे देश को शर्मसार किया.

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

बीबीसी का आरोप, टीम के साथ नरसिंहानंद के समर्थकों ने गाली-गलौज और धक्का-मुक्की की.

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

मुख्य आरोपी के साथ उसके दोस्तों को पुलिस ने पकड़ लिया है.

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

पार्टी के इस कदम से आहत हरक सिंह रावत मीडिया के सामने भावुक हो गए.