Submit your post

Follow Us

ओवल में काली पट्टी बांध क्यों खेल रही है टीम इंडिया?

भारत और इंग्लैंड के बीच ओवल में खेले जा रहे चौथे टेस्ट मैच में भारतीय टीम अपनी बांह पर काली पट्टी पहनकर मैदान में उतरी है. यह पट्टी टीम ने पूर्व कोच वासुदेव परांजपे को श्रद्धांजलि देने के लिए पहनी है. बुधवार 30 अगस्त को मशहूर कोच वासुदेव परांजपे का निधन हो गया था. भारत के महान प्लेयर्स में शुमार सुनील गावस्कार, सचिन तेंडुलकर, रोहित शर्मा जैसे क्रिकेट सितारे उन्हीं की कोचिंग से निकले हैं.

बताते चलें, BCCI के डायरेक्टर ऑफ कोचिंग रह चुके वासुदेव परांजपे ने खुद भी क्रिकेट खेला है. उन्होंने मुंबई के लिए 28 फर्स्ट क्लास मुकाबले खेले हैं. जिसमें उन्होंने दो शतक और दो अर्धशतकों के साथ 785 रन बनाए हैं. वासू अपनी क्रिकेटिंग स्किलस से ज्यादा कोचिंग के लिए मशहूर थे.

कोच वासुदेव परांजपे के निधन पर BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली ने दुख जताते हुए कहा था,

”मुझे वासू सर के साथ अपनी बातचीत स्पष्ट रूप से याद है. वह न केवल एक शानदार कोच थे, बल्कि उनका सेंस ऑफ ह्यूमर भी कमाल का था. उनके साथ कभी भी कोई सुस्त पल नहीं होता था, क्योंकि वह हमें क्रिकेटरों की आकर्षक कहानियों से रूबरू कराते थे, जिन्हें हम देखकर बड़े हुए हैं. उन्होंने क्रिकेटरों के पोषण में पर्दे के पीछे से एक शानदार भूमिका निभाई है, जिन्होंने भारतीय क्रिकेट की विशिष्ट सेवा की है. जतिन और पूरे परांजपे परिवार के प्रति मेरी संवेदना.”

सौरव के अलावा सचिन तेंडुलकर ने भी उनके निधन पर दुख जताया था. सचिन के जीवन में वो कितने अहम थे. इसका अंदाज़ा इस बात से लगाया जा सकता है कि सचिन ने उनके जाने को अपने जीवन का एक टुकड़ा खत्म होना बताया है. सचिन ने कहा है कि

”वासू सर मेरे साथ काम करने वाले सर्वश्रेष्ठ कोचों में से एक थे. बचपन से वो मेरी क्रिकेटिंग जर्नी का अहम हिस्सा थे और कई मायनों में मेरे मेंटर थे. मेरे करियर की शुरुआत में मुझे याद है उन्होंने मुझे मराठी में कहा था, ‘तुम शुरू के 15 मिनट विरोधियों को संभल कर खेलो, फिर वो पूरे दिन तुम्हें देखेंगे.’ वो ज्ञानी थे, जीवंत थे, और उनका सेंस ऑफ ह्यूमर कमाल का था. मैं कुछ महीने पहले उनसे मिला भी था और वो वैसे ही थे ह्यूमरस. इंदौर में अंडर 15 नेशनल कैम्प के दौरान, केयरटेकर रात में बॉल से खेलने के लिए, हमारी शिकायत करने भी वासू सर के पास गए थे. लेकिन वासू सर ने अपने ही स्टाइल से कहा, ‘वो बच्चे है, खेलेंगे. तुम जाकर उनके लिए फिल्डिंग क्यों नहीं करते.’ वो हमारे लिए कई यादें और हंसने के लम्हें छोड़ कर गए है. मुझे लगता है कि मेरा एक टुकड़ा दुनिया से चला गया है.”

 

क्रिकेट जगत में वासू का कद इतना बड़ा था कि सौरव से लेकर सचिन तक ने उन्हें श्रद्धांजलि दी है. उन्हीं के जाने पर भारतीय टीम ओवल के मैदान पर बांह में काली पट्टी बांध कर उतरी है.

भारत और इंग्लैंड के बीच ओवल में पांच मैचों की टेस्ट सीरीज़ का चौथा टेस्ट खेला जा रहा है. सीरीज़ में दोनों ही टीमें 1-1 की बराबरी पर है.


मरियप्पन को हराकर गोल्ड जीतने वाले सैम ग्रीवे से जुड़ी कहानी जानना ज़रूरी है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

राकेश टिकैत ने भी मीडिया से बात की है.

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

कुरान को लेकर अफवाह उड़ी और बांग्लादेश के कई हिस्सों में सांप्रदायिक तनाव फैल गया.

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

जज ने दोनों पक्षों की दलीलें तो सुनी लेकिन अपना फैसला रिज़र्व रख दिया.

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

किसी ने लोन लेकर परिवार को नया घर दिया था तो कोई दिवंगत पिता के शोक में जाने वाला था.

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

पुलिस ने संदिग्ध आतंकी के पास से एके-47, हैंड ग्रेनेड और कई कारतूस मिलने का दावा किया है.

Urban Company की महिला 'पार्टनर्स' ने इसके खिलाफ मोर्चा क्यों खोल दिया है?

Urban Company की महिला 'पार्टनर्स' ने इसके खिलाफ मोर्चा क्यों खोल दिया है?

ये महिलाएं अर्बन कंपनी के लिए ब्यूटिशियन या स्पा वर्कर का काम करती हैं.

लखीमपुर केस में आशीष मिश्रा 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार

लखीमपुर केस में आशीष मिश्रा 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार

जांच में सहयोग नहीं करने का आरोप.

नवाब मलिक ने कहा-NCB ने 11 को हिरासत में लिया था फिर 3 को छोड़ क्यों दिया?

नवाब मलिक ने कहा-NCB ने 11 को हिरासत में लिया था फिर 3 को छोड़ क्यों दिया?

NCB की रेड को फर्जी बताया, ज़ोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े की कॉल डिटेल की जांच की मांग की

आशीष मिश्रा लखीमपुर में हैं या नहीं? पिता अजय मिश्रा और रिश्तेदारों के जवाबों ने सिर घुमा दिया

आशीष मिश्रा लखीमपुर में हैं या नहीं? पिता अजय मिश्रा और रिश्तेदारों के जवाबों ने सिर घुमा दिया

अजय मिश्रा कुछ और कह रहे, परिवारवाले कुछ और कह रहे.

RBI ने ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर करने वालों को बड़ी खुशखबरी दी है

RBI ने ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर करने वालों को बड़ी खुशखबरी दी है

RBI की मॉनिटरी पॉलिसी कमिटी (MPC) की बैठक आज खत्म हो गई.