Submit your post

Follow Us

IND vs AUS : एमएस धोनी बलिदान निशान वाले ग्लव्स पहनेंगे या नहीं?

286
शेयर्स

इंडिया वर्सेज ऑस्ट्रेलिया. भारत का दूसरा वर्ल्डकप मैच चल रहा है. रोहित शर्मा और शिखर धवन ने टीम को मजबूत शुरुआत दिलवाई. मगर इन सबके अलावा पिछले दिनों से एक और चीज काफी चर्चा में है. कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के ग्लव्स. वो ग्लव्स जिन पर पैरा स्पेशल फोर्सेज़ का ‘बलिदान’ बैज का निशान था. फिलहाल इस पर विवाद चल रहा है. आईसीसी ने इस पर आपत्ति जतायी तो बीसीसीआई ने इस मामले में अनुमति देने का आग्रह किया. पर इसे आईसीसी ने माना नहीं. इसके बाद से ही हर आदमी यही जानना चाहता है कि धोनी इस मैच में वो ग्लव्स पहनेंगे या नहीं. तो इस पर से पर्दा उठ गया है. ईएसपीएन क्रिक इंफो ने कुछ फोटो शेयर की हैं, जिनमें धोनी के नए ग्लव्स दिख रहे हैं. पहले खुद देखिए ये फोटोज –

हर तरफ से कयास लगाए जा रहे थे कि धोनी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ क्या करेंगे. ज्यादातर को सेकंड इनिंग का इंतजार था कि जब टीम फील्डिंग करने उतरेगी, तब ही ये पता चल सकेगा. पर अब स्थिति साफ हो गई है. धोनी के नए ग्लव्स आ गए हैं. वो अब बलिदान बैज वाले ग्लव्स के साथ नहीं खेलेंगे. पता हो कि धोनी सेना में लेफ्टिनेंट कर्नल हैं. भारत सरकार भी इस मामले में धोनी के साथ खड़ी नजर आ रही थी. मगर आईसीसी ने किसी की नहीं सुनी.

2014 में इसी तरह मोईन अली के रिस्टबैंड हटवाए गए थे जिसमें सेव गाजा और फ्री फिलस्तीन लिखा था. तब इंग्लैंड भारत के खिलाफ ही टेस्ट मैच खेल रही थी.


लल्लनटॉप वीडियो देखें-

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

महाराष्ट्र में नहीं बनी शिवसेना-एनसीपी की सरकार, अब लगेगा राष्ट्रपति शासन

एनसीपी को सरकार बनाने के लिए आज शाम साढ़े आठ बजे तक का समय मिला था.

करतारपुर कॉरिडोर: PM मोदी ने इमरान को शुक्रिया कहा, लेकिन इमरान का जवाब पीएम मोदी को पसंद नहीं आएगा

वहां पर भी कॉरिडोर से ज़्यादा 'विवादित मुद्दे' पर ही बोलता नज़र आया पाकिस्तान.

सुप्रीम कोर्ट का फैसला: विवादित ज़मीन रामलला को, मुस्लिम पक्ष को कहीं और मिलेगी ज़मीन

जानिए, कोर्ट ने अपने फैसले में और क्या-क्या कहा है...

नेहरु से इतना प्यार? मोदी अब बिना कांग्रेस के नेहरू का ख्याल रखेंगे

एक भी कांग्रेस का नेता नहीं. एक भी नहीं.

शरद पवार बोले- महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगने से बचाना है, तो बस एक ही तरीका है

शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने की मिस्ट्री पर क्या कहा?

मोदी को क्लीन चिट न देने वाले चुनाव अधिकारी को फंसाने का तरीका खोज रही सरकार!

11 कंपनियों से सरकार ने कहा, कोई भी सबूत निकालकर लाओ

दफ़्तर में घुसकर महिला तहसीलदार पर पेट्रोल छिड़का, फिर आग लगाकर ज़िंदा जला दिया

इस सबके पीछे एक ज़मीन विवाद की वजह बताई जा रही है. जिसने आग लगाई, वो ख़ुद भी झुलसा.

दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट में पुलिस और वकीलों के बीच झड़प, गाड़ियां फूंकी

पुलिस और वकील इस झड़प की अलग-अलग कहानी बता रहे हैं.

US ने जारी किया विडियो, देखिए कैसे लादेन स्टाइल में किया गया बगदादी वाला ऑपरेशन

अमेरिका ने इस ऑपरेशन से जुड़े तीन विडियो जारी किए हैं.

लल्लनटॉप कहानी लिखिए और एक लाख रुपये का इनाम जीतिए

लल्लनटॉप कहानी कंपटीशन लौट आया है. आपका लल्लनटॉप अड्डे पर पहुंचने का वक्त आ गया है.