Submit your post

Follow Us

दिल्ली हिंसा पर लोकसभा में ओवैसी ने बड़ी बात बोल दी है

दिल्ली हिंसा पर लोकसभा में 11 मार्च को चर्चा हुई. चर्चा के दौरान AIMIM के नेता असदुद्दीन ओवैसी ने केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला. ओवैसी ने कहा कि बीजेपी के नेताओं पर दिल्ली दंगे को लेकर कोई पछतावा दिखाई नहीं देता. देश में ‘हिंदुत्व के नफरत की सुनामी’ आ गई है.

ओवैसी ने कहा,

1100 मुस्लिम डिटेंशन सेंटर में हैं. पुलिस उनसे रिश्वत ले रही है. जांच कहां है? अंकित, फैजान या किसी और की हत्या की बात हो, सबकी हत्या की जांच बिना किसी भेदभाव के होनी चाहिए. अंकित की हत्या और फैजान की हत्या में अंतर नहीं हो सकता. दोनों ही भारतीय हैं. लेकिन यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि एक मुस्लिम था और एक मुस्लिम नहीं था. इसलिए एक की हत्या की ज्यादा चर्चा हो रही है.

ओवैसी ने कहा, “मैं आपका ध्यान उस वीडियो की तरफ दिलाना चाहता हूं जिसमें कुछ लोगों को कहते सुना जा सकता है कि फिक्र की क्या बात है पुलिस हमारे साथ है. क्या इन वीडियो की निष्पक्ष जांच होगी?”

जुबैर की पिटाई को IS ने अपने मैगजीन में फ्रंट पेज पर छापा. आप चाहते हैं कि मुस्लिम कट्टरपंथी हो जाएं. आपने हिंदुओं में धार्मिक उन्माद फैलाया, मुस्लिमों में मत फैलाइये. हमें IS जॉइन नहीं करना है, हम उनसे लड़ रहे हैं. इस संविधान को बचाने के लिए हम अपनी जान तक दे देंगे. हम संविधान को हमेशा अपने दिल के करीब रखेंगे. मुझ पर आरोप लग रहे हैं क्योंकि मैं संविधान को बचाने की कोशिश कर रहा हूं, यही मेरा इकलौता अपराध है. मैं संविधान की प्रस्तावना पढ़ रहा था, मैं मांग कर रहा था कि मुझे मेरे संवैधानिक अधिकार दिए जाएं, इसलिए ये सरकार मुझे सज़ा दे रही है.

ओवैसी ने सिख कम्युनिटी की तारीफ की. उन्होंने मिस्टर बागेल का भी जिक्र किया जो एक मुस्लिम को बचाने की कोशिश में 60 प्रतिशत जल गए. उन्होंने कहा, “ये छोटे-छोटे दीये हैं जो हिंदुत्व की सुनामी के बीच टिमटिमा रहे हैं. इस सुनामी ने हमारे देश को जकड़ लिया है, और ये हमें बर्बाद करके रख देगा. ये सरकार यही करना चाहती है. लेकिन हम खुद की रक्षा करेंगे.”

ओवैसी ने कहा कि हिंसा प्रभावित क्षेत्रों में सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल भेजा जाना चाहिए और सुप्रीम कोर्ट या हाई कोर्ट के मौजूदा जज की अध्यक्षता में जांच आयोग का गठन कर निष्पक्ष जांच होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि उन्हें SIT पर भरोसा नहीं है. इसके बाद ओवैसी ने आवेश में कुछ ऐसा बोल दिया जिसे संसद की कार्यवाही से हटाना पड़ा.

दिल्ली हिंसा पर जवाब देते हुए गृहमंत्री अमित शाह ने 11 मार्च को लोकसभा में बताया कि दिल्ली हिंसा में 52 भारतीयों की मौत हुई है. 526 भारतीय इस हिंसा में घायल हुए हैं. 300 से ज्यादा भारतीयों के घर जलाए गए.

शाह ने कहा कि मैं दंगों में हुए नुकसान का आंकड़ा तो दे सकता हूं लेकिन उसमें हिन्दू-मुसलमान नहीं कर सकता. आपको भी ऐसा नहीं करना चाहिए. यह क्या तरीका है कि बताइए हिंसा में कितने मुसलमानों का नुकसान हुआ, कितने हिंदुओं का नुकसान हुआ दंगों में जिनका नुकसान हुआ वे सभी भारतीय हैं. शाह ने कहा कि देश में दंगों के दौरान मारे गए लोगों में से 76 प्रतिशत लोग कांग्रेस के शासन के दौरान मारे गए. शाह ने कहा, “आपको कोई हक नहीं है कि आप दंगों पर इस तरह की बात करें. आप लोग तो कहते हैं कि जब बड़ा पेड़ गिरता है तो धरती हिलती है.”


क्या मनगढ़ंत है 8 साल की पर्यावरण एक्टिविस्ट लिकिप्रिया कंगुजाम की कहानी?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

प्रशांत भूषण ने कही ये बात, तो कोर्ट बोला- हजार अच्छे काम से गुनाह करने का लाइसेंस नहीं मिल जाता

बचाव में उतरे केंद्र की अपील, सजा न देने पर विचार करें, सुप्रीम कोर्ट ने दिया दो-तीन दिन का वक्त

सुशांत पर सुप्रीम कोर्ट ने CBI जांच का आदेश दिया, महाराष्ट्र के वकील को आपत्ति

कोर्ट ने कहा, सारे काग़ज़ CBI को दे दीजिए.

बिहार : महीनों से बिना सैलरी के पढ़ा रहे हैं गेस्ट टीचर, मांगकर खाने की आ गई नौबत!

इस पर अधिकारियों ने क्या जवाब दिया?

सलमान खान की रेकी करने वाला शार्प शूटर पकड़ा गया

जनवरी में रची गई थी सलमान खान की हत्या की साजिश!

रोहित शर्मा और इन तीन खिलाड़ियों को मिलेगा इस साल का खेल रत्न!

इसमें यंग टेबल टेनिस सेंसेशन का भी नाम शामिल है.

प्रसिद्ध शास्त्रीय गायक पंडित जसराज नहीं रहे

पिछले कुछ समय से अमेरिका में रह रहे थे.

प. बंगाल: विश्व भारती यूनिवर्सिटी में जबरदस्त हंगामा, उपद्रवियों ने ऐतिहासिक ढांचे भी ढहाए

एक फेमस मेले ग्राउंड के चारों तरफ दीवार खड़ी की जा रही थी.

धोनी के 16 साल के क्रिकेट करियर की 16 अनसुनी बातें

धोनी ने रिटायरमेंट का ऐलान कर दिया है.

धोनी के तुरंत बाद सुरेश रैना ने भी इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहा

इंस्टाग्राम पोस्ट के ज़रिए रिटायरमेंट की बात बताई.

धोनी क्रिकेट से रिटायर, फैंस ने बताया, एक जनरेशन में एक बार आने वाला खिलाड़ी

एक इंस्टाग्राम पोस्ट करके विदा ले ली धोनी ने.