Submit your post

Follow Us

व्यवस्थाओं की पोल ना खुले इसलिए CM के दौरे से ठीक पहले लोगों को ये पट्टी पढ़ाते दिखे अधिकारी

सरकारी व्यवस्था को लेकर अधिकारी दो ही बार सजग होते हैं. एक, जब अपने शहर के लिए उन्हें कुछ करना हो और दूसरा जब उनके शहर में सीएम का दौरा हो. सड़कें बनने लगती हैं, साफ-सफाई होने लगती है. इंतज़ामों पर वाहवाही और शहर में चकाचक व्यवस्था का क्रेडिट लेने के लिए अधिकारी सब कुछ कर डालना चाहते हैं. ऐसे ही एक सरकारी ऑफिसर की करतूत कैमरे में कैद हुई. जो सीएम के सामने अच्छा दिखने के लिए लोगों को ”सब अच्छा है” कहना सिखलाते नज़र आए.

सीएम के दौरे से पहले की तैयारी

मामला बिहार के हाजीपुर का है. जहां कोरोना को लेकर सरकारी व्यवस्था का हाल जानने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने यहां के सामुदायिक किचन का वर्चुअल टूर किया. सामुदायिक किचन क्या है? दरअसल ये एक सरकारी पहल है. जिसमें गरीबों और मजबूर लोगों के लिए सरकारी इंतजाम पर खाने की व्यवस्था की जाती है. इसका मकसद यही है कि कोई भूखा न रहे. 18 मई की सुबह से ही पूरा सरकारी अमला किचन केंद्र पर जमा दिखाई दिया. खूब साफ-सफाई हुई. बैनर-पोस्टर लगे. ताकि किसी भी तरह की कमी ना दिखें.

किसी बात की शिकायत ना हो

लेकिन सीएम के वर्चुअल दौरे से ठीक पहले हाजीपुर के इस सामुदायिक किचन केंद्र का एक वीडियो कैमरे में कैद हो गया. जो बताता है कि सरकार को फील गुड कराने के लिए स्थानीय स्तर पर अधिकारी किस तरह मैनेज सिस्टम का इस्तेमाल कर रहे हैं. किचन में मिलने वाले खाने या किसी अन्य बात की शिकायत न हो इसके लिए अधिकारी खाना खाने वाले लोगों को समझाते दिखे की सीएम के सामने क्या कहना है.

”सब अच्छा है”

ये वीडियो सोशल मीडिया पर तेज़ी से वायरल हो रहा है. इस वीडियो में अधिकारी, लोगों से ये कहते दिख रहे हैं कि सीएम के सामने ”सब अच्छा है”, ”सब ठीक है” कहें. किचन में मिलने वाले खाने और किसी भी दूसरी व्यवस्था की शिकायत ना हो. सीएम की क्लास ना लगे इस डर से आम जनता को क्लास देते अधिकारियों का ये वीडियो खूब शेयर किया जा रहा है.

ये ठीक है कि सरकार के इंतजाम को ज़मीनी स्तर पर पूरा करने की ज़िम्मेदारी अधिकारियों की होती है. कई जगह ये इंतज़ाम अच्छे होते भी हैं. मगर कई जगहों पर ये पूरी तरह ध्वस्त होते हैं. रही सही कसर तब पूरी हो जाती है जब आम जनता को बहला-फुसलाकर पट्टी पढ़ाकर उनसे इंतज़ामों की हकीकत को छुपाने के लिए कहा जाता है.


वीडियो:  वैक्सीन लगवाने के बाद खून के थक्के बनने जैसे साइड इफेक्ट्स पर स्वास्थ्य मंत्रालय ने क्या बताया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

लखनऊ: अप्रैल में कोविड से 672 की मौत, 2327 डेथ सर्टिफिकेट उठा रहे दावों पर सवाल

लखनऊ: अप्रैल में कोविड से 672 की मौत, 2327 डेथ सर्टिफिकेट उठा रहे दावों पर सवाल

वाराणसी और देवरिया के आंकडे क्या कहते हैं.

अपने पैतृक गांव में कोरोना से 30 मौतों की खबर पर क्यों भड़क गए केंद्रीय मंत्री वीके सिंह?

अपने पैतृक गांव में कोरोना से 30 मौतों की खबर पर क्यों भड़क गए केंद्रीय मंत्री वीके सिंह?

बीते दो हफ्ते में 30 लोगों की मौत से गांव में दहशत का माहौल है.

कोरोना काल के बीच चीन ने मंगल ग्रह पर उतारा ‘आग का देवता’!

कोरोना काल के बीच चीन ने मंगल ग्रह पर उतारा ‘आग का देवता’!

ऐसा करने वाला दुनिया का तीसरा देश बना.

मुसीबत में भी चालाकी करने से बाज नहीं आ रहा है चीन, मदद के नाम पर भेज रहा घटिया माल

मुसीबत में भी चालाकी करने से बाज नहीं आ रहा है चीन, मदद के नाम पर भेज रहा घटिया माल

ऑक्सीजन कंसंट्रेटर में वो बात नहीं जो पहले थी, कई चीजें गायब.

यूपी के हर जिले में कोरोना से जुड़ी शिकायतों की सुनवाई की हाई कोर्ट ने स्पेशल व्यवस्था कर दी है

यूपी के हर जिले में कोरोना से जुड़ी शिकायतों की सुनवाई की हाई कोर्ट ने स्पेशल व्यवस्था कर दी है

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने चुनावी ड्यूटी में जान गंवाने वालों पर भी अहम फैसला दिया है.

नदी में कोरोना पीड़ितों के शव बहाने से क्या पानी संक्रमित हो जाता है?

नदी में कोरोना पीड़ितों के शव बहाने से क्या पानी संक्रमित हो जाता है?

बिहार और यूपी में ऐसे मामले सामने आ रहे हैं.

कनाडा के बाद अब अमेरिका में भी 12 से 15 साल के बच्चों को लगेगी फाइज़र की वैक्सीन

कनाडा के बाद अब अमेरिका में भी 12 से 15 साल के बच्चों को लगेगी फाइज़र की वैक्सीन

ये वैक्सीन भारत कब तक आएगी.

डॉक्टरों की सबसे बड़ी संस्था IMA ने कोरोना पर सरकार को खूब सुनाया है!

डॉक्टरों की सबसे बड़ी संस्था IMA ने कोरोना पर सरकार को खूब सुनाया है!

कहा-स्वास्थ्य मंत्रालय का रवैया हैरान करने वाला.

दिल्ली में फिर बढ़ा लॉकडाउन, इस बार और भी सख़्ती

दिल्ली में फिर बढ़ा लॉकडाउन, इस बार और भी सख़्ती

दिल्ली के सीएम ने क्या बताया?

बंगाल में केंद्रीय मंत्री के काफिले पर हमला हुआ तो ममता बनर्जी ने उलटा क्या आरोप मढ़ दिया?

बंगाल में केंद्रीय मंत्री के काफिले पर हमला हुआ तो ममता बनर्जी ने उलटा क्या आरोप मढ़ दिया?

लगातार हो रही हिंसा की जांच के लिए होम मिनिस्ट्री ने अपनी टीम बंगाल भेज दी है.