Submit your post

Follow Us

जासूसी के आरोप में पाकिस्तान जेल में कैद कुलभूषण से उनके परिवार की मुलाकात की तस्वीरें

देश विदेश की अदालतों में चक्कर लगाने के बाद आखिर वो दिन आ ही गया. पाकिस्तान जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव से उनकी पत्नी और मां की मुलाकात हो ही गई. 25 दिसंबर वाकेयी में इस परिवार के लिए बड़ा दिन बन गया है. इस्लामाबाद में हुई ये मुलाकात महज 30 मिनट की रही. जाधव और परिवार के बीच एक मोटा ग्लास लगा था. बातचीत फोन के जरिए हुई. मुलाकात की रिकॉर्डिंग भी की गई है. मुलाकात के दौरान इस्लामाबाद में भारतीय उपउच्चायुक्त जेपी सिंह भी मौजूद रहे. मुलाकात की तस्वीरें भी आ गई हैं. देखिए-

कुलभूषण और उनके परिवार के बीच 30 मिनट की मुलाकात चली.
कुलभूषण और उनके परिवार के बीच 30 मिनट की मुलाकात चली.
कुलभूषण और उनके परिवार के बीच एक मोटा शीशा लगा था.
कुलभूषण और उनके परिवार के बीच एक मोटा शीशा लगा था.
मुलाकात के बाद 25 दिसंबर को ही परिवार भारत वापस आ जाएगा.
मुलाकात के बाद 25 दिसंबर को ही परिवार भारत वापस आ जाएगा.

मुलाकात तो हो गई मगर इसके तरीके पर सवाल उठने लगे हैं. आखिर दोनों के बीच इतना मोटा शीशा क्यों लगाया गया. एक परिवार की मुलाकात से पाकिस्तान को ऐसा क्या डर था जो इतनी बंदिश लगाई गई. बातचीत के लिए भी टेलीफोन का इस्तेमाल किया गया. 22 महीने के इंतजार के बाद हुई इस मुलाकात में उन्हें एक-दूसरे को छूने तक नहीं दिया गया.

मुलाकात के बाद कुलभूषण का वीडियो आया

पाकिस्तान की ओर से जारी इस वीडियो में कुलभूषण ने कहा कि उन्होंने पाकिस्तान सरकार से उनकी मुलाकात मां और पत्नी से करवाने की दरख्वास्त की थी. इसे पाकिस्तान ने मान लिया. मुलाकात से पहले मुझे इसकी जानकारी दे दी गई थी. इसके लिए मैं पाकिस्तान सरकार का शुक्रिया अदा करता हूं.

आतंकी हमले की थी आशंका

पाकिस्तान की मीडिया के मुताबिक, इस मुलाकात पर आतंकी साया भी मंडरा रहा था. इसी के मद्देनजर वहां ऐंटी टेररिस्ट स्क्वॉड भी तैनात किया गया था. जबकि भारतीय हाई कमिशन से पाकिस्तान विदेश मंत्रालय(जहां मुलाकात होनी थी) का फासला सिर्फ 5 मिनट का है. कड़ी सुरक्षा के बीच परिवार को विदेश मंत्रालय के दफ्तर ले जाया गया. बताया जा रहा है कि 25 दिसंबर को ही कुलभूषण की मां और पत्नी की वापसी भी हो जाएगी. 4 बजे दोनों भारत के लिए रवाना हो जाएंगी.

मुलाकात के बाद भारतीय दूतावास लौटता परिवार.
मुलाकात के बाद भारतीय दूतावास लौटता परिवार.

47 वर्षीय कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने कथित जासूसी और आतंकवाद के आरोपों में अप्रैल 2017 में मौत की सजा सुनाई थी. इसके विरोध में भारत ने अंतरराष्ट्रीय न्यायालय का दरवाजा खटखटाया था, जहां जाधव की फांसी पर आखिरी फैसले तक रोक लगा दी गई थी.


ये भी पढ़ें-

खुद को ‘हिन्दू धर्म का रक्षक’ बताने वाला ये मूर्ख अब ‘हिन्दुओं’ से क्या कहेगा?

IPS कुलदीप द्विवेदी का दिल ‘सिंघम’ से भी बड़ा है

क्या गुजरात में गोधरा सीट पर जितने वोट पड़े, उससे ज्यादा काउंटिंग में निकले?

उग्रवादियों को खत्म करने वाले ‘ऑपरेशन ऑल आउट’ से इस IPS को इतनी दिक्कत क्यों है?

वायरल वीडियो: क्या सच में गंगा से बाहर आई है ये जलपरी?

ईवीएम में गड़बड़ी पर इलेक्शन कमीशन ने क्या सच में ये लेटर जारी किया था?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

चीनी सेना की यूनिट 61398, जिससे पूरी दुनिया के डेटाबाज़ डरते हैं

बड़ी चालाकी से काम करती है ये यूनिट.

गलवान घाटी में झड़प के बाद भी चीनी सेना मौजूद, 200 से ज्यादा ट्रक और टेंट लगाए

सैटेलाइट से ली गई तस्वीरों में यह सामने आया है.

पेट्रोल-डीजल के दाम में फिर से उबाल क्यों आ रहा है?

रोजाना इनके दाम घटने-बढ़ने की पूरी कहानी.

उत्तर प्रदेश में एक IPS अधिकारी के ट्रांसफर पर क्यों तहलका मचा हुआ है?

69000 भर्ती में कार्रवाई का नतीजा ट्रांसफर बता रहे लोग. मगर बात कुछ और भी है.

गलवान घाटी: LAC पर भारत के तीन नहीं, 20 जवान शहीद हुए हैं, कई चीनी सैनिक भी मारे गए

लड़ाई में हमारे एक के मुकाबले तीन थे चीनी सैनिक.

गलवान घाटीः वो जगह जहां भारत-चीन के बीच झड़प हुई

पिछले कुछ समय से यहां पर दोनों देशों की सेनाएं आमने-सामने हैं.

लद्दाख: गलवान घाटी में भारत-चीन झड़प पर विपक्ष के नेता क्या बोले?

सेना के एक अधिकारी समेत तीन जवान शहीद हुए हैं.

क्या परवीन बाबी की राह पर चल पड़े थे सुशांत?

मुकेश भट्ट ने एक इंटरव्यू में कहा.

सुशांत के पिता और उनके विधायक भाई ने डिप्रेशन को लेकर क्या कहा?

फाइनेंशियल दिक्कत की ख़बरों पर भी बोले.

मुंबई में सुशांत सिंह राजपूत को दी गई अंतिम विदाई, ये हस्तियां हुईं शामिल

मुंबई में तेज बारिश के बीच अंतिम संस्कार.