Submit your post

Follow Us

तेलंगाना पुलिस ने खुद बताई एनकाउंटर के पीछे की पूरी कहानी

हैदराबाद गैंगरेप के आरोपियों के एनकाउंटर पर पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. 6 दिसंबर की दोपहर करीब 3 बजकर 10 मिनट में पुलिस की कॉन्फ्रेंस शुरू हुई. साइबराबाद पुलिस कमिश्नर वी. सी. सज्जनार ने कहा,

‘वेटनरी डॉक्टर का शव मिलने के बाद हमने जांच शुरू की. हमने चारों आरोपियों को पकड़ा. हमारे पास ठोस सबूत हैं. सारे आरोपियों को 30 नवंबर के दिन कोर्ट में पेश किया गया. फिर चेरापल्ली जेल भेजा गया.’

पुलिस के मुताबिक,

क्राइम सीन को रिक्रिएट करने के लिए चारों आरोपियों को 6 दिसंबर की सुबह उसी जगह ले जाया गया था, जहां 28 नवंबर की सुबह दिशा की जली हुई लाश मिली थी. चारों आरोपियों को 4 दिसंबर के दिन चेरापल्ली जेल से लाया गया था. उनसे पूछताछ की गई थी. उन्होंने जहां पर पीड़िता का सेल फोन रखा था उसके बारे में बताया. उसके बाद उन्हें घटनास्थल ले जाया गया, ताकि वो सेल फोन के बारे में बता सकें. क्राइम सीन पर उन्होंने पुलिस पर आक्रमण किया, फायरिंग की. उन्होंने दो पुलिसकर्मियों से बंदूक छीनीं और फायरिंग की. इसके अलावा उन्होंने शार्प ऑब्जेक्ट, लकड़ी और पत्थर से भी पुलिस पर हमला किया. इसलिए बचाव में पुलिस ने भी फायरिंग की.

पुलिस के मुताबिक, चारों में से दो आरोपी चेन्नाकेशवुलु और मोहम्मद आरिफ ने पुलिसवालों से हथियार छीना था. दोनों के पास से छिने हुए हथियार भी बरामद हुए हैं. दो पुलिसकर्मियों को भी इस एनकाउंटर में चोट आई है. उन्हें लोकल अस्पताल में भर्ती कराया गया है. अभी चारों शवों का पोस्टमार्टम हो रहा है. उसके बाद उनके परिवार वालों को शव सौंपा जाएगा. चारो आरोपियों का डीएनए प्रोफाइलिंग भी किया गया है.

पुलिस ने बताया कि एनकाउंटर की घटना 6 दिसंबर की सुबह 5.45 और 6.15 के बीच हुई है. पुलिस ने एनकाउंटर के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि सबसे पहले पुलिस पहल हमला मोहम्मद आरिफ ने किया था, उसके बाद बाकी लोगों ने भी पुलिस पर हमला किया, जिसके बचाव में पुलिसवालों ने फायरिंग की. 10 पुलिसवाले चारों आरोपियों को लेकर क्राइम सीन रिक्रिएट करने गए थे.

पुलिस का कहना है कि उनके पास चारों आरोपियों के खिलाफ ठोस सबूत हैं. अब ये पता लगाने की भी कोशिश हो रही है कि ये चार किसी और अपराध में भी शामिल थे क्या. आगे भी जांच की जाएगी. सज्जनार से जब सवाल किया गया कि आरोपियों ने बंदूक कैसे छीन ली. तब उन्होंने कहा कि वो अनलॉक थे. सज्जनार से जब पूछा गया कि कितनी गोलियां चली हैं, तब उन्होंने ठीक से जवाब नहीं दिया. फिर अपील की कि पीड़िता के परिवार की रिस्पेक्ट की जाए. उनकी प्राइवेसी की रिस्पेक्ट की जाए. उनके नाम को रिवील न किया जाए.


वीडियो देखें:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

कश्मीर में आतंकवादियों ने बीजेपी नेता वसीम बारी, उनके पिता और भाई की हत्या की

परिवार को आठ सुरक्षाकर्मी मिले हैं, लेकिन घटना के समय कोई भी साथ नहीं था.

BCCI प्रेसिडेंट सौरव गांगुली ने पाकिस्तान को दिया करारा झटका

साथ ही कहा- IPL पर अभी कुछ नहीं कह सकते.

कुलभूषण जाधव को लेकर पाकिस्तान के नए दावे पर भारत ने तीखी प्रतिक्रिया दी है

पाकिस्तान ने कहा था कि जाधव ने मौत की सजा मामले में रिव्यू पिटिशन दाखिल करने से इनकार कर दिया है.

पहली फिल्म रिलीज होने से पहले ही इस एक्टर ने सुसाइड कर लिया

टीवी सीरियल से नाम कमाया था, पहली फिल्म भी मिल गई थी.

प्रवासी मजदूरों को किराए पर सस्ते घर दिए जाएंगे, मोदी कैबिनेट के पांच फैसले जानिए

उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों के लिए क्या घोषणा की गई?

गैंगस्टर विकास दुबे की तलाश के बीच लखनऊ वाले घर का क्या होने वाला है?

LDA ने घर पर नोटिस चिपका दिया है.

नेपोटिज़म की बहस के बीच पूजा भट्ट ने कंगना के लिए कहा, 'हमने ही लॉन्च किया था'

कहा, "पूरी इंडस्ट्री की तुलना में कहीं ज्यादा नए टैलेंट, एक्टर्स, म्यूज़िशियन्स को हमने लॉन्च किया'.

इरफ़ान के बेटे की खरी बात, 'बॉक्स ऑफिस पर मेरे पिता ज़िंदगीभर सिक्स पैक एब्स वालों से हारते रहे'

"वो हारते रहे हांस्यास्पद वन लाइनर बोलने वालों से, फिजिक्स के नियमों को चुनौती देने वालों से".

कांग्रेस ने कहा- RGF की जांच तो ठीक, लेकिन क्या RSS की भी जांच कराएगी सरकार?

गांधी परिवार से जुड़े ट्रस्टों की जांच कराएगी सरकार, कांग्रेस ने पूछे ये छह सवाल.

जम्मू-कश्मीर के इस IPS अधिकारी को किस बात के लिए सस्पेंड कर दिया गया?

हाल ही में उन्होंने एक लेटर लिखा था, जो वायरल हो गया था.