Submit your post

Follow Us

तेलंगाना पुलिस ने खुद बताई एनकाउंटर के पीछे की पूरी कहानी

हैदराबाद गैंगरेप के आरोपियों के एनकाउंटर पर पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. 6 दिसंबर की दोपहर करीब 3 बजकर 10 मिनट में पुलिस की कॉन्फ्रेंस शुरू हुई. साइबराबाद पुलिस कमिश्नर वी. सी. सज्जनार ने कहा,

‘वेटनरी डॉक्टर का शव मिलने के बाद हमने जांच शुरू की. हमने चारों आरोपियों को पकड़ा. हमारे पास ठोस सबूत हैं. सारे आरोपियों को 30 नवंबर के दिन कोर्ट में पेश किया गया. फिर चेरापल्ली जेल भेजा गया.’

पुलिस के मुताबिक,

क्राइम सीन को रिक्रिएट करने के लिए चारों आरोपियों को 6 दिसंबर की सुबह उसी जगह ले जाया गया था, जहां 28 नवंबर की सुबह दिशा की जली हुई लाश मिली थी. चारों आरोपियों को 4 दिसंबर के दिन चेरापल्ली जेल से लाया गया था. उनसे पूछताछ की गई थी. उन्होंने जहां पर पीड़िता का सेल फोन रखा था उसके बारे में बताया. उसके बाद उन्हें घटनास्थल ले जाया गया, ताकि वो सेल फोन के बारे में बता सकें. क्राइम सीन पर उन्होंने पुलिस पर आक्रमण किया, फायरिंग की. उन्होंने दो पुलिसकर्मियों से बंदूक छीनीं और फायरिंग की. इसके अलावा उन्होंने शार्प ऑब्जेक्ट, लकड़ी और पत्थर से भी पुलिस पर हमला किया. इसलिए बचाव में पुलिस ने भी फायरिंग की.

पुलिस के मुताबिक, चारों में से दो आरोपी चेन्नाकेशवुलु और मोहम्मद आरिफ ने पुलिसवालों से हथियार छीना था. दोनों के पास से छिने हुए हथियार भी बरामद हुए हैं. दो पुलिसकर्मियों को भी इस एनकाउंटर में चोट आई है. उन्हें लोकल अस्पताल में भर्ती कराया गया है. अभी चारों शवों का पोस्टमार्टम हो रहा है. उसके बाद उनके परिवार वालों को शव सौंपा जाएगा. चारो आरोपियों का डीएनए प्रोफाइलिंग भी किया गया है.

पुलिस ने बताया कि एनकाउंटर की घटना 6 दिसंबर की सुबह 5.45 और 6.15 के बीच हुई है. पुलिस ने एनकाउंटर के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि सबसे पहले पुलिस पहल हमला मोहम्मद आरिफ ने किया था, उसके बाद बाकी लोगों ने भी पुलिस पर हमला किया, जिसके बचाव में पुलिसवालों ने फायरिंग की. 10 पुलिसवाले चारों आरोपियों को लेकर क्राइम सीन रिक्रिएट करने गए थे.

पुलिस का कहना है कि उनके पास चारों आरोपियों के खिलाफ ठोस सबूत हैं. अब ये पता लगाने की भी कोशिश हो रही है कि ये चार किसी और अपराध में भी शामिल थे क्या. आगे भी जांच की जाएगी. सज्जनार से जब सवाल किया गया कि आरोपियों ने बंदूक कैसे छीन ली. तब उन्होंने कहा कि वो अनलॉक थे. सज्जनार से जब पूछा गया कि कितनी गोलियां चली हैं, तब उन्होंने ठीक से जवाब नहीं दिया. फिर अपील की कि पीड़िता के परिवार की रिस्पेक्ट की जाए. उनकी प्राइवेसी की रिस्पेक्ट की जाए. उनके नाम को रिवील न किया जाए.


वीडियो देखें:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

'ज़िंदगी कैसी है पहेली...' जैसे बेहतरीन गीत लिखने वाले गीतकार योगेश नहीं रहे

'आनंद' के अलावा उन्होंने रजनीगंधा, छोटी सी बात जैसी फिल्मों में गीत लिखे.

'वर्ल्ड कप में भारत जान-बूझकर इंग्लैंड से हारा था' इस बयान पर बेन स्टोक्स ने क्या सफाई दी?

पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर पर भड़क गए स्टोक्स.

क्या गंगा में डूबने वाले पांच लड़कों की मौत की वजह टिकटॉक था?

बनारस में इस घटना को लेकर ग़मगीन माहौल है.

मेरठ: क्या उत्पाती बंदरों ने लैब टेक्नीशियन से कोरोना जांच के सैंपल छीन लिए?

वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

केरल में फंसी 177 महिलाओं के लिए सोनू सूद ने ग़ज़ब की दरियादिली दिखलाई है

लॉकडाउन के चलते अपने घर नहीं जा पा रही थीं महिलाएं.

सोनू सूद का 22 साल पुराना लोकल का पास, जब वो ट्रेनों में धक्के खाते हुए स्ट्रगल करते थे

बात तब की है जब सोनू मुंबई में काम की तलाश कर रहे थे.

छत्तीसगढ़ के पहले मुख्यमंत्री अजीत जोगी नहीं रहे

20 दिन से रायपुर के अस्पताल में चल रहा था इलाज.

BJP सांसद गौतम गंभीर के पिता की महंगी कार को चुरा ले गए चोर

वारदात की CCTV फुटेज मिल गई है.

छत्तीसगढ़: 48 घंटे के अंदर अलग-अलग क्वारंटीन सेंटर में तीन बच्चियों की मौत हो गई

इस पर अधिकारी और राज्य के स्वास्थ्य मंत्री क्या कह रहे हैं?

अस्पताल में कोरोना संक्रमित शवों की दुर्दशा, हाईकोर्ट ने दिल्ली सरकार को हड़काया

जवाब में दिल्ली सरकार ने बड़ी परेशानी गिना दी.