Submit your post

Follow Us

आयरलैंड में बैठे फेसबुक के एम्पलॉई को ऐसा क्या दिखा कि मुंबई में एक शख्स की जान बच गई?

फेसबुक के एक कर्मचारी की मदद से दिल्ली और मुंबई पुलिस ने मिलकर एक व्यक्ति को आत्महत्या से बचा लिया. वह व्यक्ति पैसों की तंगी से जूझ रहा था. दिल्ली का रहने वाला था और मुंबई में काम कर रहा था. अधिकारियों ने बताया कि वह फेसबुक पर जिस तरह के वीडियो पोस्ट कर रहा था. उसे देखकर फेसबुक के एक कर्मचारी को कुछ गड़बड़ लगी. उस कर्मचारी ने दिल्ली और मुंबई की पुलिस को कॉल किया. इसके बाद दिल्ली और मुंबई पुलिस के तीन डीसीपी और एक इंस्पेक्टर ने मिलकर उस व्यक्ति की तलाश की और उसे आत्महत्या के ख्याल से दूर किया.

ऐसे शुरू हुई कहानी

दिल्ली पुलिस ने बताया कि 8 अगस्त को शाम 7.51 बजे साइबर सेल के डीसीपी अनयेश रॉय के मोबाइल पर एक आईएसडी कॉल आई. यह कॉल आयरलैंड के नंबर से फेसबुक के एक अधिकारी की थी. फेसबुक के अधिकारी ने दिल्ली के रहने वाले एक व्यक्ति के बारे में जानकारी दी. बताया कि उनके सिस्टम पर कुछ ऐसी जानकारी मिल रही है, जिसके मुताबिक लग रहा है एक शख्स आत्मघाती कदम उठा सकता है. उस व्यक्ति ने कई लाइव वीडियो पोस्ट किए हैं जिनमें वह सुसाइड की बात कर रहा है. उसने उस अनजान शख्स की ईमेल आईडी और फोन नंबर डीसीपी को मेल कर दिया. उस व्यक्ति के फोन नंबर की लोकेशन दिल्ली के मंडावली इलाके की आई. इसके बाद डीसीपी ने यह जानकारी डीसीपी ईस्ट जसमीत सिंह को दी.

मंडावली के एड्रेस पर फोन मिला

डीसीपी ईस्ट ने एक पुलिस टीम मंडावली भेजी. वहां लोकेशन पर एक महिला मिली. उसने बताया कि फोन नंबर तो उसके पास है, लेकिन इससे जुड़ा फेसबुक अकाउंट उसके पति चलाते हैं. उसके पति दो सप्ताह पहले घर पर झगड़ा करके मुंबई चले गए. वह वहां पर किसी होटल में कुक के रूप में काम करते हैं. पुलिस ने महिला से उसके पति की जानकारी मांगी. महिला के पास केवल मोबाइल नंबर था. पति का एड्रेस नहीं था.

व्यक्ति का नंबर मिला पर फोन बंंद आया

इसके बाद मुंबई साइबर सेल की डीसीपी डॉ. रश्मि करनदिकर से बात की गई. उन्हें पूरा मामला बताया गया. करनदिकर ने इंस्पेक्टर प्रमोद खोपिकर को उस व्यक्ति को तलाशने का काम सौंपा. फोन नंबर के आधार पर मुंबई पुलिस ने खोजबीन शुरू की. पहले तो नंबर बंद आया. फिर उसने फोन नहीं उठाया. लेकिन पुलिस फोन करती रही. फोन की लोकेशन का भी पता लगाया गया. साथ ही उसकी पत्नी से वॉट्सऐप पर इमोशनल मैसेज और बच्चों की फोटो भेजने को कहा.

9 अगस्त की सुबह कई कोशिशों के बाद उस व्यक्ति से बात हुई. बातचीत में पता चला कि वह पैसों को लेकर काफी तनाव में था. बातचीत के दौरान ही उसकी लोकेशन भी ट्रेस हो गई. वह भांयदर में रह रहा था. वहां पर पुलिस की एक टीम भेजी गई.

सैलरी कम होने और कोरोना के चलते था तनाव

इंस्पेक्टर खोपिकर ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया,

उसने कॉल में बताया कि वह मरना चाहता है. वह दो बार इस तरह की कोशिश भी कर चुका है. कोरोना वायरस और लॉकडाउन के चलते उसकी सैलरी काफी कम हो गई थी. साथ ही उसे कोरोना वायरस होने का डर भी सता रहा था. वह करीब एक घंटे तक रोता रहा. उसकी पत्नी ने उसे समझाया लेकिन दोनों के बीच तूतू-मैंमैं भी हुई.

उन्होंने कहा,

वह अपनी पत्नी और मेरी बात से सहमत नहीं हो रहा था. इस पर मैंने अपनी पत्नी को भी कॉल में शामिल किया. मेरी पत्नी ने कहा कि वह और मैं भी झगड़ते हैं. लेकिन फिर भी साथ हैं. उस व्यक्ति ने कहा कि उसे कोरोना होने का डर लग रहा है. इस पर मेरी पत्नी ने झूठ बोला कि मुझे भी हुआ था और मैं ठीक भी हो चुका हूं. जब उसने कहा कि वह पैसों की कमी से जूझ रहा है तो मैंने कहा कि मेरी कार ओला के साथ रजिस्टर है. वह उसे चला सकता है. मैंने उससे कहा कि मुंबई पुलिस हमेशा उसके साथ है. साथ ही उसकी पत्नी से मुंबई आने को कहा.

उन्होंने कहा कि बाद में पुलिस टीम ने भी उस व्यक्ति की काउंसलिंग की. उन्होंने भी फोन तभी काटा जब उसकी हालत सही हुई. 9 अगस्त को सुबह 10 बजे उन्होंने फिर से फोन कर उसके बारे में पता किया. आगे भी उस पर नज़र रखी जाएगी.


Video: मध्य प्रदेश: बैतूल-भोपाल नेशनल हाइवे पर किसान ने जो किया, उससे NHAI हैरान है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

तस्वीरों में देखिए मुजफ्फरनगर में किसानों की महापंचायत

500 लंगर, 100 चिकित्सा शिविर, 5 हज़ार वॉलेंटियर्स.

Hurricane Ida से अमेरिका में तबाही, दिल दहलाने वाली तस्वीरें आ रही हैं

न्यूयॉर्क समेत पूरे अमेरिका में अब तक 44 लोगों के मारे जाने की बात कही गई है.

तालिबान का समर्थन करने वाले भारतीय मुसलमानों को नसीरुद्दीन शाह ने तगड़ा पाठ पढ़ाया

सोशल मीडिया पर नसीरुद्दीन शाह का ये वीडियो वायरल है.

सिद्धार्थ शुक्ला की आखिरी सोशल मीडिया पोस्ट दिल दुखा देगी

फ्रंटलाइन वारियर्स को ट्रिब्यूट देते हुए की थी सिड ने अंतिम पोस्ट.

WHO का अनुमान, कोविड-19 से यूरोप में अभी भी बहुत बड़ी संख्या में मौतें हो सकती हैं

कोरोना संक्रमण से होने वाली मौतों के मामले में यूरोप पहले ही सबसे आगे है.

किसानों पर लाठीचार्ज, सत्यपाल मलिक बोले- बिना खट्टर के इशारों पर ये नहीं हुआ होगा

मेघालय के राज्यपाल ने कहा-सीएम को किसानों से माफी मांगनी चाहिए.

उज्जैन में मुस्लिम युवक से हाथापाई, जबरदस्ती जय श्रीराम के नारे लगवाए

बीजेपी ने कहा-ऐसे वीडियो कांग्रेस को ही क्यों मिलते हैं?

रेप के मामले में पूर्व IPS अमिताभ ठाकुर पर क्या आरोप है कि यूपी पुलिस ने इस तरह धर लिया?

रेप का आरोप लगाने वाली महिला ने कुछ दिन पहले आत्मदाह कर लिया था.

डॉ. कफील खान को CAA पर 'भड़काऊ' भाषण देने के मामले में बहुत बड़ी राहत मिल गई है

डॉ. कफील खान ने कहा- भारतीय लोकतंत्र अमर रहे!

काबुल एयरपोर्ट के बाहर सीरियल ब्लास्ट में 12 US कमांडो समेत 100 से ज्यादा की मौत, IS ने ली जिम्मेदारी

इन धमाकों में 143 से ज्यादा लोगों के घायल होने की खबर है.