Submit your post

Follow Us

अमेरिका से हॉकी मैच हारकर भी ओलंपिक के लिए कैसे क्वालिफाई कर गईं अपनी लड़कियां?

2 नवंबर 2019. भारतीय हॉकी के लिए ये दिन काफी शानदार रहा. महिला और पुरुष दोनों हॉकी टीमों ने 2020 में होने वाले टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वॉलिफाई कर लिया. पुरुष टीम ने जहां रूस को 7-1 से हराकर ओलंपिक में अपनी जगह पक्की की, वहीं महिला टीम अमेरिका से  4-1 से हारने के बावजूद पहले मैच में बढ़त के कारण ओलंपिक के लिए क्वॉलिफाई कर गई.

पहला मैच जीत दूसरा हार गई लड़कियां

भारतीय महिला हॉकी टीम ने ओलंपिक का टिकट हासिल करने के लिए दो क्वॉलिफायर मैच खेले. 1 नवंबर को पहले मैच में अमेरिका को भारत ने 5-1 से हराया था. दूसरा मुकाबला अगले दिन यानी कि 2 नवंबर को हुआ. इस बार अमेरिकी टीम भारी पड़ी और भारतीय टीम को 4-1 से शिकस्त झेलनी पड़ी. एक समय अमेरिकी टीम 4-0 से आगे चल रही थी और ओलंपिक का टिकट कटाने के लिए उन्हें बस एक और गोल की जरूरत थी. लेकिन भारतीय टीम ने रक्षात्मक रणनीति अपनाते हुए और कोई गोल नहीं होने दिया. बल्कि 49वें मिनट में कप्तान रानी रामपाल ने गोल कर भारत का दावा ओलंपिक के लिए पक्का कर दिया.

दोनों मैचों के गोल अंतर के आधार पर भारतीय महिला टीम 6-5 से आगे रहीं. इस गोल अंतर के आधार पर ही भारतीय महिला टीम ने टोक्यो ओलंपिक में अपनी जगह पक्की कर ली.

दोनों मैच मैं रूस को पीट लड़कों ने किया टिकट पक्का 

पुरुष टीम ने ओलंपकि क्वॉलिफायर के लिए रूस से दो मुकाबले खेले. 1 नवंबर को खेले गए पहले मैच में भारत ने 4-2 से रूस को हराया था. जबकि 2 नवंबर को खेले गए दूसरे मैच में भारतीय टीम ने रूस को 7-1 से पीट दिया.

भारत के लिए ललित उपाध्याय ने 17वें, आकाशदीप ने 23वें, 29वें मिनट में गोल किए. 47वें मिनट में नीलकांत शर्मा ने गोल किया. रूपिंदर पाल सिंह ने 48वें, 59वें मिनट और अमित रोहिदास ने 60वें मिनट में मिले पेनाल्टी कॉर्नर पर गोल किए. वहीं, रूस के लिए एलेक्सी सोबोलेव्स्कली ने इकलौता गोल किया. उन्होंने यह गोल मैच के 30वें सेकेंड में ही कर दिया था.

वीडियो: चैंपियन एथलीट भारतीय सेना के सुबेदार आनंदन गुनासेकरन की प्रेरित करने वाली कहानी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

'निसर्ग' चक्रवात क्या है और ये कितना ख़तरनाक है?

'निसर्ग' नाम का मतलब भी बता रहे हैं.

कोरोना काल में क्रिकेट खेलने वाले मनोज तिवारी ‘आउट’

दिल्ली में हार के बाद बीजेपी का पहला बड़ा फैसला.

1 जून से लॉकडाउन को लेकर क्या नियम हैं? जानिए इससे जुड़े सवालों के जवाब

सरकार ने कहा कि यह 'अनलॉक' करने का पहला कदम है.

3740 श्रमिक ट्रेनों में से 40 प्रतिशत ट्रेनें लेट रहीं, रेलवे ने बताई वजह

औसतन एक श्रमिक ट्रेन 8 घंटे लेट हुई.

कंटेनमेंट ज़ोन में लॉकडाउन 30 जून तक बढ़ाया गया, बाकी इलाकों में छूट की गाइडलाइंस जानें

गृह मंत्रालय ने कंटेनमेंट ज़ोन के बाहर चरणबद्ध छूट को लेकर गाइडलाइंस जारी की हैं.

मशहूर एस्ट्रोलॉजर बेजान दारूवाला नहीं रहे, कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी

बेटे ने कहा- निमोनिया और ऑक्सीजन की कमी से हुई मौत.

लॉकडाउन-5 को लेकर किस तरह के प्रपोज़ल सामने आ रहे हैं?

कई मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि 31 मई के बाद लॉकडाउन बढ़ सकता है.

क्या जम्मू-कश्मीर में फिर से पुलवामा जैसा अटैक करने की तैयारी में थे आतंकी?

सिक्योरिटी फोर्स ने कैसे एक्शन लिया? कितना विस्फोटक मिला?

लद्दाख में भारत और चीन के बीच डोकलाम जैसे हालात हैं?

18 दिनों से भारत और चीन की फौज़ आमने-सामने हैं.

शादी और त्योहार से जुड़ी झारखंड की 5000 साल पुरानी इस चित्रकला को बड़ी पहचान मिली है

जानिए क्या खास है इस कला में.