Submit your post

Follow Us

महाराष्ट्र में बाढ़: रायगढ़ में भूस्खलन से 36 की मौत, तबाही के मंजर हैरान करने वाले

महाराष्ट्र में भारी बारिश के बाद आई बाढ़ आम लोगों पर कहर बनकर टूट रहा है. राज्य के कई इलाकों में जनजीवन बुरी तरह अस्त-व्यस्त हो चुका है. ट्रांसपोर्ट सेवाएं ठप पड़ चुकी हैं. भारी बारिश के कारण महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में काफी ज्यादा नुकसान हो चुका है. शुक्रवार 23 जुलाई को आई मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, बीते दो दिनों से रायगढ़ के अलग-अलग इलाकों में लैंडस्लाइड (भूस्खलन) की घटनाएं हुई हैं. इनमें तीन दर्जन लोगों के मारे जाने की बात सामने आई है. वहीं, कई लोगों के गुम होने की भी रिपोर्ट है.

Twitter 2
रायगढ़ में भारी बारिश से हुए भूस्खलन के बाद की एक तस्वीर. (साभार- Twitter@BHARATGHANDAT2)

महाड में 36 लोगों की मौत

आजतक के संवाददाता सौरभ वक्तानिया के अनुसार, रायगढ़ के महाड इलाके में बीते 48 घंटों के दौरान भूस्खलन की  घटनाएं देखने को मिली हैं. गुरुवार 22 जुलाई की शाम की ही बात करें तो इस दौरान तीन अलग-अलग जगहों पर लैंडस्लाइड हुए हैं. इनमें से एक जगह पर 32 शव मिले हैं, जबकि दूसरी जगह 4 शव मिले. एनडीआरएफ की टीम ने राहत-बचाव कार्य चलाते हुए 15 लोगों को बचाया है. लेकिन कई लोग अभी भी लापता हैं.

Untitled Design (16)
भयानक बाढ़ से जूझ रहा महाड़ इलाका. (तस्वीर- पीटीआई)

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, बाढ़ और भूस्खलन के कारण महाड तहसील के तलई गांव में कई लोग मलबे के नीचे दब गए, जिसके कारण ये मौतें हुईं. आशंका जताई जा रही है कि अभी भी कम से कम 30-35 लोग मलबे में दबे हो सकते है.

भारी बारिश के चलते महाड की सावित्री नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है. उसका पानी घरों और बस्तियों तक पहुंच चुका है. ऐसे में इस इलाके में एनडीआरएफ और कोस्टगार्ड के साथ-साथ नौसेना की टीम भी बचाव कार्य में जुटी हुई है. बताया जा रहा है कि एनडीआरएफ की टीम शुक्रवार 23 जुलाई की दोपहर एक बजे पहुंची थी. वहीं, स्थानीय लोग इससे पहले ही अपने स्तर पर बचाव कार्य में जुट गए थे. इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, राहत कार्य में एनडीआरएफ की 14 टीमें जुटी हुई हैं. इनमें पालघर में 1, ठाणे में 2, रायगढ़ में 2, रतनगिरी में 4, सिंधुदुर्ग में 1, सांगली में 1, सतारा 1 में और कोल्हापुर में 2 टीमें तैनात हैं.

Ndrf Pti
बचाव कार्य में लगी एनडीआरएफ की एक टीम. (पीटीआई)

पीएम मोदी और गृह मंत्री शाह ने शोक प्रकट किया

पीएम मोदी ने महाड में हुए हादसे पर शोक प्रकट किया है. शुक्रवार 23 जुलाई को ट्वीट करते हुए पीएम मोदी ने कहा,

‘महाराष्ट्र के रायगढ़ में भूस्खलन से लोगों की मौत पर दुखी हूं. मृतक लोगों के परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं. मैं घायलों के जल्द ठीक होने की कामना करता हूं. महाराष्ट्र में भारी बारिश के कारण पैदा हुई स्थिति पर नजर रखी जा रही है और प्रभावित लोगों को सहायता उपलब्ध कराई जा रही है.’

बता दें कि पीएम मोदी ने प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से मृतकों के परिवारों को दो-दो लाख रुपये और घायलों को 50 हजार रुपये देने का एलान भी किया है.

Satara
सतारा में हुए लैंड स्लाइड के बाद की तस्वीर. (साभार- पीटीआई)

वहीं, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से बात की और कहा कि केंद्र सरकार लोगों की जान बचाने के लिए हर सम्भव कोशिश कर रही है. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा,

‘महाराष्ट्र के रायगढ़ में भारी बारिश और भूस्खलन के कारण हुआ हादसा अत्यंत दुखद है. इस संबंध में मैंने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और एनडीआरएफ के महानिदेशक से बात की है. एनडीआरएफ की टीमें राहत और बचाव कार्यों में जुटी हुई हैं. केंद्र सरकार लोगों की जान बचाने के लिए वहां हर सम्भव मदद पहुंचा रही है.’

 

विदर्भ में भी मची तबाही

महाराष्ट्र के विदर्भ से भी ऐसा ही मंजर सामने आया है. आजतक की रिपोर्ट के अनुसार, रत्नागिरी, ठाणे, कोल्हापुर, नागपुर, अकोला, सतारा, नासिक में भारी बारिश हुई है. इसके चलते रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए एनडीआरएफ और कोस्टगार्ड को उतारना पड़ा है.

क्षेत्र के अलग-अलग इलाकों से अप्रिय घटनाएं जानने में आई हैं. चंद्रपुर जिले के गड़चांदुर शहर में एक युवक पर नाला पार करने की कोशिश भारी पड़ गई. वो भारी बारिश के कारण उफनता हुआ नाला पार कर रहा था. इस दौरान युवक एक दो बार तो संभला, लेकिन पानी की एक तेज लहर उसको बहाकर ले गई. ऐसी ही घटना कोल्हापुर जिले के चंदगड़ तहसील में भी हुई. वहां एक बाइक सवार युवक पानी की तेज धार में बह गया.

Untitled Design (6)
रायगढ़ में बाढ़ से हुई तबाही
(फोटो- दामोदर व्यास, Twitter, NBT)

रायगढ़ और रत्नागिरी पहुंचे नौसेना बचाव दल

कोल्हापुर में लगातार दो दिन से भारी बारिश हो रही है. आजतक कि रिपोर्ट के मुताबिक, पंचगंगा नदी का जलस्तर करीब 45 फीट 7 इंच तक पहुंच चुका है. यहां तेज बारिश के चलते सड़कें जलमग्न हो चुकी हैं और 47 गांवों से संपर्क टूट चुका है. हालांकि राहत की खबर ये है कि 965 परिवारों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा दिया गया है. वहीं, कोल्हापुर-पन्हाला रोड पर बस में फंसे 22 यात्रियों को राहत बचाव कार्य में जुटी टीमों ने सुरक्षित बाहर निकाल लिया है.

Untitled Design (17)
राहत-बचाव कार्यों में जुटी हैं एनडीआरएफ की टीमें

रायगढ़ और रत्नागिरी में बाढ़ में फंसे लोगों को बचाने के लिए हेलीकॉप्टर भेजे गए हैं. वहीं, सात नौसैनिक बचाव दल भी सड़क मार्ग के जरिये इन जिलों में पहुंचे हैं. ये बचाव दल जेमिनी रबर बोट, लाउड हैलर, प्राथमिक चिकित्सा किट और लाइफ जैकेट जैसे उपकरणों से लैस हैं.

(ये स्टोरी हमारे यहां इंटर्नशिप कर रहे रौनक भैड़ा ने लिखी है.)


वीडियो- दुनियादारी: ऑस्ट्रेलिया में बाढ़ के कारण हज़ारों बेघर, कोरोना का वैक्सीनेशन भी रुका

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

राज कुंद्रा ने 121 पॉर्न वीडियोज़ की इंटरनेशनल डील की, जिसकी कीमत हैरान कर देती है

ये वीडियोज़ इतनी महंगी बिकने वाली थीं, इसका उनमें काम करने वालों को अंदाज़ा भी नहीं होगा.

तस्वीरों में: महाराष्ट्र में भारी बारिश से बाढ़ के हालात, पानी बसों की छत तक पहुंचा

ठाणे, रत्नागिरी, यवतमाल समेत राज्य के इलाकों में हालात बदतर होते दिख रहे हैं.

संसद: TMC सांसद ने मंत्री के हाथ से पेपर छीनकर फाड़े, लेकिन हरदीप पुरी पर क्या आरोप लगे?

TMC सांसद पर क्या कार्रवाई की तैयारी कर रही सरकार?

बंगाल: क्या सुवेंदु अधिकारी ने जाने-अनजाने फोन टैपिंग का सच बता दिया है?

बंगाल के IPS अधिकारी को चेतावनी देने के चक्कर में सुवेंदु अधिकारी बड़ी बात कह गए.

मुंबई में बारिश से बड़ा हादसा, चेंबूर में दीवार गिरने से 17 की मौत

विक्रोली में भी 6 की मौत, पीएम ने दुख जताया, मुआवजे की घोषणा की.

टी-सीरीज़ वाले भूषण कुमार पर रेप का आरोप लगा, मुंबई में रिपोर्ट दर्ज

मुंबई के डीएन थाने में तीस साल की महिला ने रिपोर्ट दर्ज कराई.

अफगानिस्तान में भारतीय पत्रकार दानिश सिद्दीकी की हत्या, तालिबान ने किया था हमला

दानिश सिद्दीकी अपनी तस्वीरों के लिए फेमस थे, 2018 में Pulitzer अवार्ड भी मिला था.

MP के विदिशा में 30 से ज्यादा लोग कुएं में गिरे, 4 की मौत, 13 लापता, 19 बचाए गए

बच्चा कुएं में गिरा, तो बड़ी संख्या में ग्रामीण कुएं की छत पर चढ़ गए थे.

'नदिया के पार' जैसी बड़ी फ़िल्मों में काम कर चुकीं एक्ट्रेस सविता बजाज की हताशा, "मेरा गला घोंट दो"

इलाज के लिए पैसे नहीं हैं.

PM मोदी ने वाराणसी में जिस रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर का उद्घाटन किया, वो है क्या?

योगी सरकार के लिए क्या बोले PM?