Submit your post

Follow Us

कोरोना की तीसरी लहर पर स्वास्थ्य मंत्रालय ने क्या कहा है?

कोरोना के मुद्दे पर बुधवार, 5 मई को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि देश में हर रोज संक्रमितों की संख्या में लगभग 2.4 फीसदी की बढ़ोतरी हो रही है. पिछले 24 घंटों में देश में 3,82,315 नए मामले दर्ज किए गए हैं. 12 राज्य ऐसे हैं जहां एक लाख से ज्यादा सक्रिय मामले हैं. उन्होंने कहा कि देश में 24 राज्य और केंद्र शासित प्रदेश ऐसे हैं जहां 15 फीसदी से ज्यादा पॉजिटिविटी रेट है.

संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि भारत सरकार द्वारा 16 करोड़ से ज्यादा वैक्सीन की खुराक अब तक देशभर में मुफ्त में उपलब्ध कराई गई है. 18 से 44 आयु वर्ग के लिए 9 राज्यों में अब तक 6.71 लाख लोगों को वैक्सीन की डोज़ दी गई है.

कोरोना के नए वेरिएंट पर क्या कहा?

देश में कोरोना के नए वेरिएंट की जानकारी सामने आने के बाद केंद्र सरकार के प्रमुख वैज्ञानिक सलाहकार के. विजयराघवन ने बताया कि वेरिएंट का ट्रांसमिशन भी वैसे ही होता है, जैसे कि ओरिजिनल स्ट्रेन का होता है. इस समय जो वेरिएंट हैं, उनके खिलाफ वैक्सीन प्रभावी है. दुनिया भर में नए वेरिएंट पैदा हुए हैं और भारत में भी नए वेरिएंट पैदा होंगे. के. विजयराघवन ने कहा कि भारत और पूरी दुनिया के वैज्ञानिक इस प्रकार के वेरिएंट्स का पूर्वानुमान लगाने और उनके खिलाफ तेजी से चेतावनी और संशोधित टूल विकसित करने पर काम कर रहे हैं. यह एक गहन शोध कार्यक्रम है, जो भारत और विदेश में हो रहा है.

तीसरी लहर भी आएगी

विजयराघवन ने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर भी आएगी, ये तय मानिए. हालांकि ये नहीं कहा जा सकता है कि तीसरी फेज में ये कितना घातक होगा. हमें अभी से नई लहर के लिए तैयार रहना होगा.

वहीं प्रेस कॉन्फ्रेंस में पूछा गया कि विदेशों से जो मेडिकल सहायता आ रही है, क्या उनका कोई डेटाबेस सरकार के पास है, कि वो कहां जा रहे हैं और उनसे कितनी मदद मिल रही है? इस सवाल के जवाब में स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि बाहर से मिलने वाली विदेशी सहायता को लेकर मंत्रालय लेवल पर, एडिशनल सेक्रेटरी लेवल पर एक ग्रुप बना हुआ है. अंतर-मंत्रालयी परामर्शी दृष्टिकोण के तहत, इसमें ज्वाइंट सेक्रेटरी लेवल के अधिकारी हैं, विदेश मंत्रालय के अधिकारी हैं, सीमा शुल्क अधिकारी, नागरिक उड्डयन मंत्रालय के अधिकारी काम कर रहे हैं. हमारी टेक्निकल विंग हैं जिसने गाइडलाइंस बनाई है कि बाहर से आने वाले उपकरण किस अस्पाताल के लिए सही होंगे. उन उपकरणों को अस्पतालों में भेजा जा रहा है, जहां तत्काल आवश्यकता महसूस की गई है.

वहीं एक सवाल के जवाब में नीति आयोग के मेंबर (हेल्थ) डॉक्टर वीके पॉल ने बताया कि जानवरों से कोरोना नहीं फैल रहा है. यह एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैल रहा है. उन्होंने ये भी कहा कि वैक्सीन लगवाने के बाद हर किसी को आराम करने की जरूरत नहीं है. 30 मिनट के रेस्ट के बाद व्यक्ति काम पर जा सकता है. हालांकि जिन्हें कोई दिक्कत है वो आराम कर सकते हैं. एक नियम सब पर लागू नहीं होता है.


लल्लनटॉप अड्डा: कोरोना के दौरान मेंटल हेल्थ का ख्याल कैसे रखें, इन डॉक्टर्स से समझिए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?