Submit your post

Follow Us

हाथरस केस: घटनास्थल पर जांच-पड़ताल के बाद CBI ने पीड़ित परिवार से की लंबी पूछताछ

यूपी के हाथरस का चर्चित मामला. दलित परिवार की बेटी से कथित दुष्कर्म और उसकी मौत के बाद इस मामले की जांच अब सीबीआई कर रही है. खबर है कि सीबीआई 13 अक्टूबर, मंगलवार को मृतक लड़की के बड़े भाई से लंबी पूछताछ के बाद शाम को उसे वापस उसके घर छोड़ आई. सीबीआई की टीम उससे उप निदेशक कार्यालय, हाथरस ले जाकर पूछताछ कर रही थी.

कब, क्या हुआ

13 अक्टूबर की सुबह करीब 11 बजे सीबीआई की टीम पीड़ित परिवार के गांव पहुंची. इस टीम में लगभग 15 लोग थे. टीम के आने से पहले ही यूपी पुलिस ने घटनास्थल पर घेराबंदी कर दी. वहां किसी को प्रवेश करने की इजाज़त नहीं थी.

सीबीआई की टीम अभी गांव पहुंची भी नहीं थी कि पीड़िता के पिता की तबीयत बिगड़ने की खबर आई. इसके बाद पीड़िता की मां की तबीयत खराब होने की भी खबर आई, जिन्हें अस्पताल ले जाया गया. बाद में अस्पताल से उन्हें छुट्टी मिल गई.

सीबीआई टीम घटनास्थल पर पूछताछ और जांच-पड़ताल करने के बाद वहां से निकल गई. यहां से टीम उस जगह पर पहुंची, जहां देर रात पीड़िता का अंतिम संस्कार किया गया था. परिवार के पांच सदस्यों के बयान दर्ज किए गए. इसके बाद सीबीआई पीड़िता के बड़े भाई को अपने साथ ले गई थी.

Ca6d1016 3bb9 4e95 B752 222e14baae0c
सीबीआई की टीम ने 13 अक्टूबर को गांव जाकर घटनास्थल पर जांच-पड़ताल की.

क्राइम सीन को री-क्रिएट किया गया

रिपोर्ट है कि पीड़ित परिवार के भाई के बयान पर क्राइम सीन को री-क्रिएट किया गया. बता दें कि 12 अक्टूबर को इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच में इस मामले की सुनवाई हुई थी. परिवार की मर्ज़ी के बिना विक्टिम के शव का आधी रात को ही अंतिम संस्कार करने को लेकर कोर्ट ने पुलिस और प्रशासन से कड़े सवाल पूछे थे. केस की सुनवाई जस्टिस पंकज मित्तल और जस्टिस रंजन रॉय की बेंच ने की थी.

15 अक्टूबर को सुप्रीम कोर्ट में भी सुनवाई

वहीं, सुप्रीम कोर्ट में भी इस मामले की सुनवाई चल रही है. 15 अक्टूबर को अगली सुनवाई होगी. पिछली सुनवाई में कोर्ट ने यूपी सरकार से तीन मुद्दों पर जवाब सौंपने को कहा था. पहला- पीड़ित परिवार और गवाहों के लिए किस तरह की सुरक्षा व्यवस्था की गई है? दूसरा- क्या पीड़ित परिवार के पास कोई वकील है? तीसरा- इलाहाबाद हाई कोर्ट के ट्रायल का क्या स्टेटस है.


वीडियो: यौन शोषण के आरोपी को मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने जो आदेश दिया, उस पर भड़के लोग सुप्रीम कोर्ट पहुंच गए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सीएम जगनमोहन ने सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमना की शिकायत चीफ जस्टिस से क्यों कर दी?

सीएम जगनमोहन ने सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमना की शिकायत चीफ जस्टिस से क्यों कर दी?

ये पूरा मामला तो वाकई हैरान कर देने वाला है.

फारुख अब्दुल्ला बोले- चीन के सपोर्ट से दोबारा लागू किया जाएगा अनुच्छेद 370

फारुख अब्दुल्ला बोले- चीन के सपोर्ट से दोबारा लागू किया जाएगा अनुच्छेद 370

कहा- आर्टिकल 370 को हटाया जाना चीन कभी स्वीकार नहीं करेगा.

पीएम मोदी ने जिस स्वामित्व योजना की शुरुआत की है, उसके बारे में जान लीजिए

पीएम मोदी ने जिस स्वामित्व योजना की शुरुआत की है, उसके बारे में जान लीजिए

2024 तक देश के 6.62 लाख गांवों तक सुविधा पहुंचाने का लक्ष्य है.

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने CJI को चिट्ठी लिखी, सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमन्ना पर लगाए गंभीर आरोप

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने CJI को चिट्ठी लिखी, सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमन्ना पर लगाए गंभीर आरोप

जस्टिस एनवी रमन्ना अगले संभावित चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया बन सकते हैं.

TRP स्कैम: FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर मुंबई पुलिस ने क्या कहा है?

TRP स्कैम: FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर मुंबई पुलिस ने क्या कहा है?

रिपब्लिक टीवी का आरोप है कि FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर एक्शन नहीं लिया गया.

IPL 2020: मयंक-राहुल के विकेट से नहीं, इन छह गेंदों से हार गया पंजाब

IPL 2020: मयंक-राहुल के विकेट से नहीं, इन छह गेंदों से हार गया पंजाब

सीजन बदला पर पंजाब की हालत नहीं.

मुंबई पुलिस का दावा, पैसे देकर TRP खरीदता है रिपब्लिक टीवी

मुंबई पुलिस का दावा, पैसे देकर TRP खरीदता है रिपब्लिक टीवी

रैकेट में दो और चैनलों के भी नाम हैं, उनके मालिक गिरफ्तार कर लिए गए है.

दो बार छह छ्क्के लगा चुका वह भारतीय, जिसे करोड़पति बनना रास ना आया

दो बार छह छ्क्के लगा चुका वह भारतीय, जिसे करोड़पति बनना रास ना आया

गणित के मास्टर भी हैं CSK को पीटने वाले राहुल त्रिपाठी.

आधी रात को क्यों जलाई थी हाथरस विक्टिम की बॉडी, यूपी सरकार ने अब बताया है

आधी रात को क्यों जलाई थी हाथरस विक्टिम की बॉडी, यूपी सरकार ने अब बताया है

साथ ही ये भी बताया कि 14 सितंबर से अब तक क्या-क्या किया.

कंफर्म हो गया, अकेले चुनाव लड़ेगी चिराग पासवान की पार्टी

कंफर्म हो गया, अकेले चुनाव लड़ेगी चिराग पासवान की पार्टी

क्या ये चिराग पासवान के लिए ज़मीन तैयार करने की रणनीति है?