Submit your post

Follow Us

हाथरस केस: ADG ने कहा- बॉडी ख़राब हो रही थी, तो परिवार की सहमति से दाह-संस्कार किया गया

हाथरस केस को लेकर उत्तर प्रदेश प्रशासन पर लगातार सवाल उठ रहे हैं. आरोप है कि पुलिस प्रशासन ने ही कथित रेप पीड़िता का अंतिम संस्कार किया. घरवालों का कहना है कि वे बॉडी को एक बार घर पर लाना चाहते थे, लेकिन पुलिस नहीं मानी. इस मामले को लेकर ‘इंडिया टुडे’ ने उत्तर प्रदेश के ADG (कानून और व्यवस्था) प्रशांत कुमार से बातचीत की है. प्रशांत कुमार ने कहा कि स्थानीय जॉइंट मजिस्ट्रेट ने बताया है कि परिवार की उपस्थिति और सहमति के बाद ही दाह संस्कार किया गया. यह बात जॉइंट मजिस्ट्रेट ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से भी बताई है.

‘परिवार और गांववालों की सहमति के बाद दाह संस्कार’

प्रशांत कुमार ने कहा कि 29 सितंबर की सुबह पीड़िता की मृत्यु हुई थी. ऐसे में बॉडी ख़राब हो रही थी. इन्हीं बातों का ध्यान रखते हुए स्थानीय प्रशासन ने परिवार और गांववालों की सहमति के बाद दाह संस्कार किया. उन्होंने कहा कि मामले की जांच के दौरान अगर किसी तरह की चूक सामने आती है, तो SIT इसकी जांच करेगी.

उन्होंने आगे कहा कि जब पीड़िता के भाई ने खुद कहा है कि उत्तर प्रदेश पुलिस ने ही जांच की सच्चाई बताई, तो ऐसे में प्रशासन के पास परिवार से छिपाने को क्या है? पुलिस ने चारों आरोपी को कई धाराओं के तहत गिरफ़्तार किया है. उन्होंने कहा कि SIT घटनास्थल का दौरा करेगी और लोगों से बयान लेगी, थोड़ा इंतज़ार कीजिए.

परिवार की इज़ाज़त को लेकर प्रशांत कुमार ने ‘इंडिया टुडे’ से कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में पारिवारिक संरचना शहरी क्षेत्रों से अलग होती है. यहां चाचा-चाची की सहमति हो सकती है. पूछताछ से सारी जानकारी सामने आ जाएगी.

जीभ कटने और रेप को लेकर प्रशांत ने क्या कहा? 

पीड़िता की जीभ कटने को लेकर प्रशांत कुमार ने कहा-

हम पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का इंतज़ार कर रहे हैं. रिपोर्ट आते ही हम मीडिया के साथ जानकारी साझा करेंगे. हालांकि जब पीड़िता को सफ़दरजंग हॉस्पिटल शिफ्ट किया गया था, तो उस वक्त ऐसी कोई जानकारी नहीं थी. फॉरेंसिक रिपोर्ट आने के बाद ही बलात्कार की पुष्टि की जा सकती है.

आरोपी और पीड़ित परिवारों के बीच किसी तरह की आपसी रंजिश को लेकर उन्होंने कहा कि 2001 में एक मारपीट की घटना की जानकारी सामने आई है. लेकिन दोनों पक्षों ने इस मामले को 2015 में आपस में सुलह करके सुलझा लिया था और ऐसे में सभी आरोपियों को छोड़ दिया गया था.

‘इंडिया टुडे’ का यह वीडियो ट्वीट देखिए, जिसमें ADG अपनी बात रख रहे हैं.

गैंगरेप की वारदात से इनकार

इस केस में लड़की की रीढ़ की हड्डी टूटने, जीभ कटने और गैंगरेप होने की बात कही जा रही थी, जिसे 29 सितंबर को यूपी पुलिस ने खारिज कर दिया. हाथरस के एसपी विक्रांत वीर ने कहा कि न तो हाथरस के, न ही अलीगढ़ के डॉक्टर ने इस बात की पुष्टि की है कि मृतका के साथ सेक्सुअल असॉल्ट हुआ है. इस पूरे मामले की जांच डॉक्टरों और फॉरेंसिक टीम से कराई जाएगी. एसपी ने यह भी कहा था कि प्राइवेट पार्ट में चोट लगने की बात भी गलत है.

एसपी का कहना था कि जीभ काटने की बात सरासर झूठी है. उन्होंने कहा कि पीड़िता के बयान रिकॉर्ड किए हैं. कई जगह इस तरह की बातें भी रिपोर्ट की जा रही हैं कि पीड़िता की रीढ़ की हड्डी टूटी है. ये बात भी पूरी तरह से गलत है. पीड़िता को गला घोंटकर मारा गया है, इसकी वजह से उसके गले पर चोट के निशान आए हैं. उन्होंने कहा कि यही वजह है कि मामला इतना बिगड़ गया.


विडियो- पड़ताल: हाथरस केस से जुड़े हैशटैग्स में पीड़िता के नाम पर वायरल फोटो किसी और की है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सभी आरोपियों को बरी करते हुए कोर्ट ने कहा - इन्होंने बाबरी मस्जिद को बचाने की कोशिश की थी

सभी आरोपियों को बरी करते हुए कोर्ट ने कहा - इन्होंने बाबरी मस्जिद को बचाने की कोशिश की थी

आ गया है 28 साल पुराने मामले में फ़ैसला

हाथरस के कथित गैंगरेप मामले पर विराट कोहली ने क्या कहा?

हाथरस के कथित गैंगरेप मामले पर विराट कोहली ने क्या कहा?

अक्षय कुमार ने भी ट्वीट किया है.

सिर्फ़ 6 लोगों की इस मीटिंग के टलने को पी चिदंबरम ने 'अभूतपूर्व' क्यूं कह डाला?

सिर्फ़ 6 लोगों की इस मीटिंग के टलने को पी चिदंबरम ने 'अभूतपूर्व' क्यूं कह डाला?

तो क्या इस वक़्त देश के पास अर्थव्यवस्था सही करने का सिर्फ़ एक बटन बचा है?

पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह नहीं रहे, पीएम मोदी ने कहा-

पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह नहीं रहे, पीएम मोदी ने कहा- "बातें याद रहेंगी"

जसवंत सिंह अटल सरकार के कद्दावर मंत्रियों में से थे.

IPL2020 के जरिए टीम इंडिया में आएगा फाजिल्का का ये लड़का?

IPL2020 के जरिए टीम इंडिया में आएगा फाजिल्का का ये लड़का?

सबकी उम्मीदें शुभमन गिल से लगी है.

आप दीपिका और रकुल प्रीत में उलझे रहे और राजस्थान में इतना बड़ा कांड हो गया!

आप दीपिका और रकुल प्रीत में उलझे रहे और राजस्थान में इतना बड़ा कांड हो गया!

दो दिन से बवाल चल रहा है.

मोदी सरकार ने भ्रष्टाचार रोकने वाले इस क़ानून को जरूरी बनाने की बात से पलटी मार ली

मोदी सरकार ने भ्रष्टाचार रोकने वाले इस क़ानून को जरूरी बनाने की बात से पलटी मार ली

और यह जानकारी ख़ुद सरकार ने दी है.

किसान कर्फ्यू से पहले किसानों ने कहां-कहां ट्रेन रोक दी है?

किसान कर्फ्यू से पहले किसानों ने कहां-कहां ट्रेन रोक दी है?

कई ट्रेनों को कैंसिल किया गया, कई के रूट बदले गए.

केंद्रीय मंत्री सुरेश अंगड़ी का कोविड-19 से निधन

केंद्रीय मंत्री सुरेश अंगड़ी का कोविड-19 से निधन

दिल्ली के एम्स में उनका इलाज चल रहा था.

धोनी का वर्ल्ड कप जिताने वाला सिक्सर याद है! वो अब स्टेडियम में अमर होने वाला है

धोनी का वर्ल्ड कप जिताने वाला सिक्सर याद है! वो अब स्टेडियम में अमर होने वाला है

भारत में किसी खिलाड़ी को जो मुकाम हासिल नहीं हुआ, वो अब धोनी को मिलने वाला है.