Submit your post

Follow Us

राम मंदिर ट्रस्ट को करोड़ों की जमीन बेचने वाले हरीश पाठक को पुलिस भगोड़ा घोषित कर चुकी है

श्री राम मंदिर ट्रस्ट की ओर से अयोध्या में जिस हरीश पाठक और कुसुम पाठक की दो करोड़ की जमीन को सुल्तान अंसारी और रवि मोहन तिवारी से 18.5 करोड़ में खरीदने पर बवाल मचा हुआ है, वह हरीश पाठक बकरी देने की योजना में करोड़ों की ठगी का आरोपी रहा है. हरीश पाठक और कुसुम पाठक पर अयोध्या के कैंट थाने में FIR दर्ज है. इतना ही नहीं हरीश पाठक उसकी पत्नी कुसुम पाठक बेटे विकास पाठक पर अयोध्या के साथ-साथ बाराबंकी और सिद्धार्थनगर में भी FIR दर्ज है. बाराबंकी केस में हरीश पाठक का बेटा विकास पाठक जेल  भेजा जा चुका है.

बकरी के नाम पर लोगों को ठगने का आरोप

अयोध्या, बाराबंकी और सिद्धार्थनगर में रहने वाले सैकड़ों परिवार हरीश पाठक और कुसुम पाठक की कंपनी में जमा पूंजी गंवा कर फुटपाथ पर आ गए. साल 2009 में हरीश पाठक ने अयोध्या में एक इन्वेस्टमेंट फर्म बनाई थी. फर्म का नाम था- Saket GOAT Farming limited. बकरी पालन को बढ़ावा देने के नाम पर हरीश पाठक ने अपनी इस कंपनी के जरिए लोगों को निवेश के लिए लुभाना शुरू किया. योजना रखी गई कि 5000 रुपये का एक बॉन्ड खरीदने पर 42 महीने बाद यानी 3.5 साल बाद 8000 रुपये मिलेंगे या फिर दो बकरी दी जाएंगी. दो बकरी के लालच में कई ग्रामीण फंस गए. हरीश ने बाद में इस कंपनी में पत्नी कुसुम पाठक, बेटे विकास पाठक, दोस्त प्रताप नारायण पांडे और उनकी पत्नी माधुरी पांडे, चंद्र प्रकाश दुबे और अनंत तिवारी को भी शामिल किया.

आजतक की रिपोर्ट के मुताबिक़ इस कंपनी के नाम पर हरीश पाठक ने कई जिलों में बकरी पालन के सेंटर भी चालू किए. जिलों में लोगों को अपना कमीशन एजेंट भी बनाया. बाराबंकी के सुनील शुक्ला पाठक की कंपनी में 2011 से 2014 तक एजेंट थे. सुनील अपने साथ-साथ अपने रिश्तेदारों के करीब 40 लाख रुपये हरीश पाठक की कंपनी में लगवा दिए, लेकिन जब रकम वापसी की बारी आई तो हरीश पाठक फरार हो गया.

हरीश कितने मामले में नामजद?

ऐसे में सुनील शुक्ला ने बाराबंकी के हैदरगढ़ कोतवाली में 27 अगस्त 2020 को हरीश पाठक, कुसुम पाठक, विकास पाठक सहित कंपनी के 7 लोगों पर FIR दर्ज करवा दी. बाराबंकी पुलिस ने हरीश पाठक के बेटे विकास पाठक को जनवरी 2021 में गिरफ्तार कर जेल भी भेज दिया. बेटे की गिरफ्तारी के बाद हरीश पाठक, सुनील शुक्ला से समझौते का दबाव बनाने लगा. बाद में हाईकोर्ट के दखल के बाद 40 लाख रुपये देना तय हो चुका है, लेकिन हरीश पाठक अब तक सुनील को सिर्फ 7.5 लाख रुपये लौटा सका है. समझौता खत्म होने में अब  सिर्फ एक महीने का वक्त बाकी है.

इससे पहले हरीश पर अयोध्या के कैंट कोतवाली में इसी कंपनी के जरिए धोखाधड़ी करने को लेकर 2016 में भी एक FIR दर्ज हुई थी. इस मामले में पुलिस ने हरीश पाठक को 16 सितंबर 2018 को भगोड़ा घोषित किया था. घर कुर्की की कार्रवाई भी की. बताया जाता है कि कुर्की की कार्रवाई में हरीश की एक स्विफ्ट डिजायर कार आज भी अयोध्या की कैंट कोतवाली में खड़ी है.

हरीश पर एक और FIR संतकबीर नगर के धनघटा थाने में एक और एजेंट रामसुमेर ने दर्ज करवाई हुई है. गोंडा के एक निवेशक ने भी अयोध्या की कैंट कोतवाली में साल 2019 में हरीश सहित 7 लोगों पर FIR दर्ज कराई थी.

अधिकारियों को हरीश के बारे में पता क्यों नहीं था?

ऐसे में सवाल उठता है कि जिस हरीश पाठक पर अयोध्या की कैंट कोतवाली में दो FIR, सिद्धार्थ नगर और बाराबंकी में एक FIR दर्ज है, अयोध्या पुलिस जिसे भगोड़ा घोषित कर घर की कुर्की कर चुकी हो, वह हरीश पाठक और उसकी पत्नी कुसुम पाठक राम मंदिर ट्रस्ट को करोड़ों की जमीन बेचने के सौदे में अहम किरदार कैसे हो गए? सवाल अयोध्या पुलिस के साथ-साथ जिला प्रशासन पर भी उठते हैं कि जिस 2 करोड़ की जमीन को 18.5 करोड़ में बेचने का सौदा हरीश पाठक और कुसुम पाठक के साथ हुआ वह पाठक दंपत्ति अयोध्या पुलिस का भगोड़ा है और इसकी भनक अधिकारियों को क्यों नहीं लगी?


विडियो- राम मंदिर ज़मीन घोटाले मामले में सीएम योगी ने खुद ट्रस्ट के पेपर्स की जांच की तो क्या निकलकर आया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

चिराग पासवान के चचेरे भाई सांसद प्रिंस राज पर लगे रेप के आरोप का पूरा मामला है क्या?

चिराग पासवान के चचेरे भाई सांसद प्रिंस राज पर लगे रेप के आरोप का पूरा मामला है क्या?

आरोप लगाने वाली महिला के खिलाफ प्रिंस ने भी फरवरी में दर्ज कराई थी FIR.

किसान आंदोलन में शामिल लोगों पर आरोप- पहले ग्रामीण को शराब पिलाई, फिर जिंदा जला दिया!

किसान आंदोलन में शामिल लोगों पर आरोप- पहले ग्रामीण को शराब पिलाई, फिर जिंदा जला दिया!

बहादुरगढ़ की घटना, पुलिस ने दो लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया है.

CBSE ने सुप्रीम कोर्ट में बताया, 12वीं के मार्क्स देने का 30:30:40 फॉर्मूला क्या है

CBSE ने सुप्रीम कोर्ट में बताया, 12वीं के मार्क्स देने का 30:30:40 फॉर्मूला क्या है

31 जुलाई से पहले फाइनल रिजल्ट जारी करने की जानकारी भी दी है.

योगी सरकार के संपत्ति रजिस्ट्री को लेकर लगने वाले स्टाम्प शुल्क के नए नियम में क्या है?

योगी सरकार के संपत्ति रजिस्ट्री को लेकर लगने वाले स्टाम्प शुल्क के नए नियम में क्या है?

नए नियम के बाद विवादों में कमी आएगी?

हरिद्वार कुंभ के दौरान बांटी गयी 1 लाख फ़र्ज़ी कोरोना रिपोर्ट? जानिए क्या है कहानी

हरिद्वार कुंभ के दौरान बांटी गयी 1 लाख फ़र्ज़ी कोरोना रिपोर्ट? जानिए क्या है कहानी

अख़बार का दावा, सरकारी जांच में हुआ ख़ुलासा

दिल्ली दंगा : नताशा, देवांगना और आसिफ़ को ज़मानत देते हुए कोर्ट ने कहा, 'कब तक इंतज़ार करें?'

दिल्ली दंगा : नताशा, देवांगना और आसिफ़ को ज़मानत देते हुए कोर्ट ने कहा, 'कब तक इंतज़ार करें?'

जानिए क्या है पूरा मामला?

सैन्य ऑपरेशन से जुड़े 25 साल से ज्यादा पुराने रिकॉर्ड सार्वजनिक होंगे

सैन्य ऑपरेशन से जुड़े 25 साल से ज्यादा पुराने रिकॉर्ड सार्वजनिक होंगे

सेना के इतिहास से जुड़ी जानकारियां सार्वजनिक करने की पॉलिसी को मंजूरी

पंजाब चुनाव: अकाली दल और बसपा गठबंधन का ऐलान, कितनी सीटों पर लड़ेगी मायावती की पार्टी?

पंजाब चुनाव: अकाली दल और बसपा गठबंधन का ऐलान, कितनी सीटों पर लड़ेगी मायावती की पार्टी?

पंजाब के अलावा बाकी चुनाव भी साथ लड़ने की घोषणा.

TMC में घर वापसी करने वाले मुकुल रॉय ने 4 साल बाद बीजेपी छोड़ने का फैसला क्यों लिया?

TMC में घर वापसी करने वाले मुकुल रॉय ने 4 साल बाद बीजेपी छोड़ने का फैसला क्यों लिया?

मुकुल रॉय को बराबर में बिठाकर ममता बनर्जी किन गद्दारों पर भड़कीं?

लक्षद्वीप: किस एक बयान के बाद फिल्म निर्माता आयशा सुल्ताना पर राजद्रोह का केस हो गया?

लक्षद्वीप: किस एक बयान के बाद फिल्म निर्माता आयशा सुल्ताना पर राजद्रोह का केस हो गया?

पहले TV डिबेट में बोला, फिर फेसबुक पर पोस्ट लिखा.