Submit your post

Follow Us

चार हज़ार शगुन के लिए किन्नरों ने बच्चे के पिता को ही मार डाला

5
शेयर्स

गुजरात का सूरत शहर. एक परिवार में ख़ुशियों का दिन आया था. बड़े इंतज़ार के बाद. गहरीलाल खटिक के घर बेटा पैदा हुआ. दिन ख़ुशियों का था. लेकिन मातम में बदल गया. वजह बने कुछ किन्नर.

# हुआ क्या

गहरीलाल खटिक सूरत शहर में रहते हैं. परिवार में पहले से दो बेटियां थीं. अब गहरीलाल और उनकी पत्नी को इंतज़ार था एक बेटे का. दोनों को लगता था कि इससे परिवार पूरा हो जाएगा. इस बार गहरीलाल के घर बेटा पैदा हुआ. बेटा होने की ख़ुशी में परिवार जश्न मना रहा था. और फिर इस हंसी ख़ुशी के सीन में एंट्री हुई किन्नरों की. बेटे की पैदाइश का नेग लेने पहुंचे किन्नर.

सूरत शहर के गोड़ादरा इलाके में स्थित मानसरोवर सोसाइटी में किराए के घर में रह रहे गहरीलाल खटिक के घर में बेटे के जन्म की खुशी में तीन किन्नर नेग लेने पहुंचे थे.

अक्सर ऐसा होता है कि किन्नर और पिता के बीच ख़ूब सारा मोल-भाव होता है नेग का. किन्नर जो रक़म नेग के तौर पर मांगते हैं वो ज़्यादा होती है. नेग का कोई पैमाना नहीं होता. सब कुछ राज़ी ख़ुशी होना चाहिए. यही दोनों पक्ष कहते हैं. लेकिन एक रक़म बताकर उसपर अड़ जाना इतना आम हो गया है कि जब किसी घर में किन्नर आते हैं तो लोग इसलिए भी इकठ्ठा हो जाते हैं कि अब होगा झगड़ा.

किन्नरों ने गहरीलाल खटिक से 11 हजार रुपये की डिमांड की थी लेकिन मजदूरी कर अपने परिवार का भरण-पोषण करने वाले गहरीलाल के घर में 11 हजार रुपये देने के लिए नहीं थे तो उन्होंने किन्नरों को 2100 रुपये देने की बात कही थी. इस बात पर किन्नर भड़क गए और उन्होंने उत्पात मचाना शुरू कर दिया.

# यहीं से मामला बिगड़ गया

किन्नरों ने पहले तो अपने कपड़े उतार दिए. इस नंगई के बाद खटिक परिवार ने पड़ोसियों से 7 हजार रुपये उधार लेकर उनके हाथ में थमा दिए. लेकिन फिर भी किन्नर नहीं माने और उन्होंने गहरीलाल को पीटना शुरू कर दिया. जब लोग बीच बचाव करने के लिए आए तो किन्नरों ने गहरीलाल के सिर को दीवार पर पटक दिया. गहरीलाल को अस्पताल ले जाया गया. लेकिन किन्नर मौके से फरार हो गए.

गहरीलाल के परिवार ने तीन किन्नरों के ख़िलाफ़ पुलिस में शिकायत की है
गहरीलाल के परिवार ने तीन किन्नरों के ख़िलाफ़ पुलिस में शिकायत की है

अस्पताल में नवजात बच्चे के पिता गहरीलाल की मौत हो गई है और किन्नरों की करतूत की वजह से एक मजदूर परिवार की खुशियां गम में बदल चुकी हैं. किन्नरों की गुंडागर्दी के बाद पीड़ित परिवार ने सूरत के लिंबायत थाने में शिकायत दर्ज कराई है. जिसके आधार पर पुलिस ने गुंडागर्दी करने वाले तीनों किन्नरों को गिरफ्तार कर लिया है.


वीडियो देखें:

आर्थिक मंदी का सबसे बड़ा खतरा, जिसका नुकसान आम आदमी को होता है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

'राजा हिन्दुस्तानी' के 'गुलाब सिंह', जो बहुत बड़ी हस्ती थे ये उनकी मौत के बाद पता चला

वीरू कृष्णन था इनका नाम, जिनकी हाल ही में मौत हो गई.

बाइक पर घूमते इस आदमी को चालान के लिए रोकने की कोई हिम्मत नहीं करता

आप भी हेलमेट लगाते होंगे, मगर इस तरह नहीं.

बांग्लादेश और बारिश दोनों से लड़ते हुए अफ़ग़ानिस्तान ने कमाल कर डाला

एक वक्त तो ऐसा लग रहा था जैसे अफ़ग़ानियों का दिल टूट जाएगा.

'साहो' के सामने खड़ी 'छिछोरे' फिल्म ने अपने कलेक्शन से चौंका दिया है

बहुत कम प्रचार हुआ था फिल्म का, फिर भी झंडे गाड़ रही है.

'स्टैचू ऑफ यूनिटी' का एक पड़ोसी देखते-ही-देखते गिर गया

इसके पीछे सरकार की जेब से दो करोड़ ख़र्च हुए थे.

ISRO चीफ सिवन से जुड़े एक बहुत बड़े झूठ का पता चला

चंद्रयान 2 मिशन के बाद हर कोई सिवन के बारे में जानना चाहता है.

बीजेपी की इस रैली में अगर ट्रैफिक पुलिस जाती तो करोड़ों कमाकर आती

और मोदी के देखते देखते हमारी अर्थव्यवस्था ठीक हो जाती.

हेड कोच रवि शास्त्री की सैलरी बढ़कर इतनी हो गई है कि जानकर मुंह खुला रह जाए

मंदी के दौरान ऐसी बढ़त सभी को मिले.

ISRO ने लैंडर विक्रम से जुड़ी सबसे अच्छी खबर दी है!

ऑर्बिटर ने भेजी हैं तस्वीरें.

ये सही हुआ, अब पुलिस वाले दौड़-दौड़ काटेंगे मंत्रियों की गाड़ी का चालान!

बिहार में हुई है ये क्रांति. मंत्रीजी की बहू को 'शुक्रिया'.