Submit your post

Follow Us

नहीं रहा 235 लाशों को कब्र तक पहुंचाने वाला कश्मीरी अट्टा

हैदर फिल्म देखी है. कब्रिस्तान में दो बूढ़े लाशें दफनाने का काम करते थे. अब रील से रियल लाइफ में आ जाइए. कश्मीर में 235 लाशों को कब्र तक पहुंचाने वाले 75 साल के अट्टा मोहम्मद रविवार को दुनिया से अलविदा कह गए. श्रीनगर से 80 किलोमीटर दूर बिमयार गांव में लंबी बीमारी के बाद उनकी मौत हो गई.

बताते हैं कि बीते 25 साल में अट्टा मोहम्मद ने 235 बुलेट लगी लावारिस लाशों को दफनाया था. एसोसिएशन ऑफ पेरेंट्स एंड डिसेपियर्ड पर्संस के मुताबिक, इंडियन मिलिट्री इन लाशों को एनकाउंटर में मारे गए आतंकियों की लाश बताती थी.

लाशों में एक छह महीने की बच्ची भी शामिल थी. अट्टा मोहम्मद कहते थे कि इन अज्ञात लोगों को मारने के बाद सुरक्षाबल मृतकों को सम्मान नहीं देते थे. इसलिए ही उन्होंने ऐसी अज्ञात लाशों को दफनाने का काम शुरू किया.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

इमरान खान ने तमाम छेड़छाड़ करके पाकिस्तान का एक नया नक्शा पेश किया है

उनकी कैबिनेट ने वो नक्शा पास कर दिया है.

मुंबई पुलिस कमिश्नर ने अधिकारियों से कहा, सुशांत की मौत से जुड़ी जानकारी किसी से भी शेयर नहीं करना!

उस मीटिंग में और क्या कहा मुंबई के पुलिस कमिशनर ने?

फ़रवरी में ही परिवार ने मुंबई पुलिस से सुशांत को बचाने की अपील की थी, पुलिस ने कहा, 'नहीं मिली कम्प्लेन'

सुशांत के जीजा ने DCP को लिखे अपने मैसेज में और क्या बताया?

बिहार पुलिस के एसपी विनय तिवारी मुंबई पहुंचे, प्रशासन ने ज़बरन होम क्वारंटीन कर दिया!

इस पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने क्या कहा है?

आ गया, आ गया, आ गया … IPL 2020 का पूरा नियम-कानून आ गया

हज़रात हज़रात हज़रात

पैंगोंग झील को लेकर चीन ने भारत की मुश्किल बढ़ा दी है

चीन पैंगोंग झील के बारे में बात ही नहीं करना चाहता.

यूपी की कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरुण की कोरोना से मौत

लखनऊ PGI में ली अंतिम सांस.

ईरान ने समुद्री डाकुओं को रिहा किया और 11 भारतीय नाविकों को तस्कर बताकर जेल में डाल दिया!

ढाई महीने हो गए, कहीं कोई खोज ख़बर नहीं.

सुशांत सिंह राजपूत के पिता ने रिया चक्रवर्ती के ख़िलाफ FIR दर्ज़ करवाई

सुशांत ने 14 जून को सुसाइड कर लिया था.

अयोध्या में 5 अगस्त के भूमि पूजन को लेकर क्या-क्या तैयारियां चल रही हैं

रामलला की पोशाक से लेकर अयोध्या में रंग-रोगन तक की सारी बातें.