Submit your post

Follow Us

तुर्की में ऐसा क्या मिला, जिसकी कीमत कई देशों की GDP से भी ज्यादा है?

तुर्की का एक तटीय इलाका है, जिसे मर्मरा क्षेत्र के नाम से जाना जाता है. यहां का बिल्सीक प्रदेश इस वक्त सुर्ख़ियों में है. क्यों? क्योंकि यहां सोने का खजाना मिला है. कितना सोना है? करीब 99 टन. इसकी मौजूदा कीमत करीब 600 करोड़ डॉलर आंकी जा रही है. भारतीय रुपये में हिसाब लगाएं तो ये करीब 44,000 करोड़ रुपये बैठती है. यह रकम कई देशों की जीडीपी से भी ज्यादा है. इन देशों में फिजी, मालदीव, लाइबेरिया, भूटान आदि कई देश शामिल हैं.

मर्मरा की जिस खनिज साइट से यह सोना मिला है, वह फ़र्टिलाइज़र प्रोड्यूसर कंपनी गुब्रेतास के अधीन है. गुब्रेतास के चेयरमैन फ़हरेतीन पोयराज ने तुर्की की न्यूज़ एजेंसी अनादोलू से बातचीत के दौरान खजाना मिलने की जानकारी दी. इसके बाद कंपनी के शेयर में करीब 28 फीसद की बढ़ोतरी देखी गई है. पोयराज ने बताया कि उनकी गुब्रेतास उर्वरक कंपनी ने साल 2019 में कोर्ट के फैसले के बाद एक दूसरी कंपनी से इस जगह का नियंत्रण हासिल किया था.

पोयराज ने दावा किया कि ये नई खदान दुनिया की टॉप पांच सोने की खदान में से एक है. अगले दो साल में इस खदान से सोने को निकाला लिया जाएगा. इससे तुर्की की इकॉनमी को बड़ा बूस्ट मिलेगा. तुर्की के ऊर्जा और प्राकृतिक संसाधन मंत्री फेथ डॉनमेज ने बताया कि सितंबर में तुर्की ने 38 टन सोने का उत्पादन करके रिकॉर्ड तोड़ा था. अगले पांच साल में गोल्ड के सालाना उत्पादन को 100 टन पहुंचाने का लक्ष्य है.

पाकिस्तान की न्यूज़ वेबसाइट ने दावा किया है कि जहां सोने की खदान मिली है, वहीं एर्तुगरुल ग़ाज़ी को जहां दफ़नाया गया था. सोशल मीडिया पर भी कई लोगों ने ऐसे दावे किए हैं. यह सच है कि एर्तुगरुल ग़ाज़ी को बिल्सीक प्रदेश के सोगात इलाके में दफ़नाया गया था, और सोने की ये खदान भी बिल्सीक प्रदेश में ही मिली है.

जाते-जाते एर्तुगरुल ग़ाज़ी को जानते जाइए

एर्तुगरुल ग़ाज़ी ऑटोमन साम्राज्य के संस्थापक उस्मान के पिता थे. एर्तुगरुल ग़ाज़ी  को एक सेनानी के तौर पर जाना जाता है. एर्तुगरुल नाम से नेटफ्लिक्स पर एक शो भी है, जिसकी कई सीरीज़ आ चुकी हैं. इस शो को दुनियाभर में खूब सराहा गया है.


विडियो- अया सोफ़िया: जो कभी दुनिया का सबसे महान महान चर्च कहलाया तो कभी सबसे महान मस्जिद

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

हाथरस के मंदिर में रात को 3 लोग आए, 5 बार हाथ जोड़े और वॉशिंग मशीन, दानपेटी उठा ले गए

पुलिस का दावा है कि मामला चोरी का नहीं है

UP की फैक्ट्री में बड़ा हादसा, दो लोगों की मौत हो गई और 15 लोग घायल हैं

अमोनिया गैस लीक होने के चलते हुए हादसा.

कभी कृषि कानूनों की पक्षधर रहीं पार्टियों ने अब यूटर्न क्यों ले लिया है?

जानिए पहले क्या था इन राजनीतिक दलों का स्टैंड

क्या बढ़िया फ्रिज न होने के कारण इंडिया में कोरोना वैक्सीन लगने में और लेट हो सकती है?

कोल्ड चेन का पूरा तिया पांचा यहां समझिए.

साल 2015 के बाद गुजरात, केरल, बंगाल, महाराष्ट्र और बिहार के बच्चों में बढ़ा कुपोषण

सर्वे का दावा, बच्चों की लम्बाई और वज़न ख़तरनाक तरीक़े से घट रहे

क्या कोरोना की नई वैक्सीन लगवाने के बाद लोगों को लकवा मार जा रहा है?

वैक्सीन लगवाने पर कुछ लोगों में एलर्जी की समस्या भी सामने आई है.

किसान आंदोलन के समर्थन में वैज्ञानिक ने केंद्रीय मंत्री के हाथ से अवॉर्ड लेने से मना कर दिया

पत्र में कहा, 'ये मेरी अंतरात्मा के खिलाफ़ है'

350 करोड़ का स्कैम उजागर करने वाले RTI एक्टिविस्ट की मौत पर पुलिस और फ़ैमिली अलग कहानी क्यों बता रहे?

पुलिस ने कहा कि दुर्घटना में मौत हुई, परिवार हत्या का आरोप लगा रहा

एनकाउंटर पर सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज ने कहा, 'ऐसा ही चलता रहा तो कोई भी शिकार बन सकता है'

हैदराबाद के ICFAI लॉ स्कूल में रूल ऑफ लॉ पर लेक्चर दे रहे थे जस्टिस चेलमेश्वर.

कोरोना का ट्रायल वैक्सीन लेने वाले हरियाणा के मंत्री कोरोना पॉजिटिव पाए गए

कोरोना की वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल के दौरान टीका लगाया गया था.