Submit your post

Follow Us

पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह नहीं रहे, पीएम मोदी ने कहा- "बातें याद रहेंगी"

पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह का 27 सितंबर की सुबह निधन हो गया. वे 82 साल के थे. जसवंत सिंह लंबे समय से बीमार चल रहे थे. करीब छह साल से वे कोमा में थे. दिल्ली के आर्मी हॉस्पिटल ने 27 तारीख़ की सुबह स्टेटमेंट जारी किया –

“पूर्व कैबिनेट मंत्री मेजर जसवंत सिंह (रिटायर्ड) का आज सुबह 6:55 बजे निधन हो गया. उनका सेप्सिस (जब शरीर में रिलीज़ होने वाले केमिकल्स ही इंफेक्शन पैदा करने लगें) के साथ मल्‍टीऑर्गन डिसफंक्‍शन सिंड्रोम का इलाज चल रहा था. उन्‍हें आज सुबह कार्डियक अरेस्‍ट आया. उनका कोविड स्‍टेटस निगेटिव है.”

जसवंत सिंह के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर दुख जताया.लिखा –

“जसवंत सिंह जी को राजनीति और समाज पर उनके अलग नज़रिये के लिए याद किया जाएगा. उन्होंने बीजेपी को मजबूत करने में बड़ा योगदान दिया. हमारी जो भी बातें हुईं, उन्हें मैं हमेशा याद रखूंगा. उनके परिवार और समर्थकों को सांत्वना. ओम शांति.”

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भी लिखा –

“देश के वरिष्ठ राजनेता एवं अटल जी की कैबिनेट में मंत्री रहे जसवंत सिंह जी का निधन दुःखद है और देश के लिए एक अपूरणीय क्षति है. सरकार व संगठन में विभिन्न पदों पर रहते हुए उन्होंने अपनी कर्तव्यनिष्ठा से एक गहरी छाप छोड़ी है. मैं उनके परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं. ओम शांति”

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लिखा –

“जसवंत सिंह जी को उनकी इंटेलेक्चु्अल क्षमताओं और राष्ट्र की सेवा के लिए याद किया जाएगा. बीजेपी को राजस्थान में मजबूत करने में उनका बड़ा योगदान रहा. परिवार के प्रति मेरी सांत्वना.”

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने लिखा –

“श्रद्धेय अटल जी की सरकार में मंत्री रहे श्री जसवंत सिंह जी के निधन का समाचार दुःखद है. सरकार में विभिन्न पदों पर रहते हुए उन्होंने जन-जन के प्रति अपने कर्तव्यों का पालन करने में अपना प्रत्येक क्षण समर्पित कर दिया. श्री जसवंत सिंह जी का जाना संगठन, समाज तथा देश के लिए एक अपूरणीय क्षति है. उनके परिवार के प्रति मेरी अपार संवेदनाएं. ओम शांति”

जसवंत सिंह के बारे में

तीन जनवरी 1938 को बाड़मेर के जसोल गांव में जन्मे जसवंत सिंह शुरुआती दिनों में जोधपुर राजपरिवार के पास नौकरी करते थे. बाद में वे सेना में चले गए. 1960 में सेना में मेजर पद से इस्तीफा देकर राजनीति में उतरे. उनका पॉलिटिकल करिअर अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार में टॉप पर था. 1998 से लेकर 2004 तक जसवंत सिंह ने वित्त, रक्षा और विदेश जैसे बड़े-बड़े मंत्रालय संभाले.

पांच बार राज्यसभा सांसद रहे- 1980, 1986, 1998, 1999, 2004. चार बार लोकसभा सांसद बने- 1990, 1991, 1996 और 2009 में. लेकिन इसके बाद तस्वीर पूरी तरह बदल गई.

किताब को लेकर पार्टी से ठन गई

बंटवारे पर लिखी गई जसवंत सिंह की किताब ‘जिन्नाः भारत विभाजन और स्वतंत्रता’ को लेकर काफी विवाद हुआ. किताब में जिन्ना की तारीफ की गई थी. साथ ही उन्होंने बंटवारे के लिए नेहरू के साथ-साथ सरदार पटेल का भी नाम ले लिया था. विवाद इतना बढ़ गया कि 2009 में जसवंत सिंह को पार्टी से बाहर कर दिया गया. हालांकि एक साल बाद ही 2010 में उन्होंने फिर से पार्टी जॉइन की. लेकिन इसके बाद 2014 में बाड़मेर से लोकसभा टिकट न मिलने पर उनकी फिर पार्टी से ठन गई. बात इतनी बिगड़ गई कि जसवंत सिंह निर्दलीय चुनाव मैदान में उतर गए. हार मिली. इसके बाद वे ख़राब सेहत की वजह से सक्रिय राजनीति से दूर होते चले गए.

जसवंत सिंह से जुड़ा एक अहम और दिलचस्प किस्सा आप यहां भी पढ़ सकते हैं.


अटल के मंत्री जसवंत सिंह को परवेज मुशर्रफ ने कैसे धोखा दिया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

हथियारों की कौन-सी लंबी-चौड़ी खेप खरीदने जा रहा है भारत?

हथियारों की कौन-सी लंबी-चौड़ी खेप खरीदने जा रहा है भारत?

रक्षा मंत्रालय ने 28 सितंबर को इसे हरी झंडी दी है.

किसानों को आतंकी कहने वाली कंगना रनौत के खिलाफ मुकदमा दर्ज हो गया

किसानों को आतंकी कहने वाली कंगना रनौत के खिलाफ मुकदमा दर्ज हो गया

BMC के साथ पहले ही कोर्ट केस चल रहा है.

पत्नी को पीटने का विडियो वायरल, MP के स्पेशल डीजी सस्पेंड

पत्नी को पीटने का विडियो वायरल, MP के स्पेशल डीजी सस्पेंड

DG ने सफाई में कही ये बात.

'इतनी शक्ति हमें देना दाता' जैसा शानदार गीत लिखने वाले अभिलाष नहीं रहे

'इतनी शक्ति हमें देना दाता' जैसा शानदार गीत लिखने वाले अभिलाष नहीं रहे

74 साल की उम्र में मुंबई में निधन हो गया.

सैमसन ने ऐसा क्या कहा कि फ्लॉप जा रहे तेवतिया ने एक ओवर में 5 छक्के जड़ डाले?

सैमसन ने ऐसा क्या कहा कि फ्लॉप जा रहे तेवतिया ने एक ओवर में 5 छक्के जड़ डाले?

सैमसन की बात सुन तउवा गए तेवतिया.

करण जौहर के पुराने एंप्लॉई को NCB ने ड्रग्स के झूठे आरोप लगाने पर मजबूर किया?

करण जौहर के पुराने एंप्लॉई को NCB ने ड्रग्स के झूठे आरोप लगाने पर मजबूर किया?

एजेंसी ने कहा, ऐसा कुछ नहीं किया था.

तमिलनाडु सरकार ने एसपी बालासुब्रमण्यम के अस्पताल का बिल भरने से मना कर दिया!

तमिलनाडु सरकार ने एसपी बालासुब्रमण्यम के अस्पताल का बिल भरने से मना कर दिया!

और उसके बाद उसका बिल वेंकैया नायडू ने भरा?

यूपी पुलिस की फिर कार पलटी, गैंगस्टर की मौत, पुलिसवाले घायल

यूपी पुलिस की फिर कार पलटी, गैंगस्टर की मौत, पुलिसवाले घायल

विकास दुबे वाले टाइम में भी पुलिस की गाड़ी हादसे का शिकार हुई थी न?

मयंक-राहुल ने इत्ता स्कोर बनाया लेकिन तीन रन से चूक गए!

मयंक-राहुल ने इत्ता स्कोर बनाया लेकिन तीन रन से चूक गए!

मैच गंवाते लेकिन कम से कम ये मलाल ना रहता.

6,6,6,6,0,6... बॉलर ने बल्ले से एक ओवर में राजस्थान को जिताया मैच!

6,6,6,6,0,6... बॉलर ने बल्ले से एक ओवर में राजस्थान को जिताया मैच!

जिसे पड़ रही थी गालियां, बाद में बन गया हीरो.