Submit your post

Follow Us

डेढ़ महीने पहले राजनीति छोड़ने का ऐलान करने वाले बाबुल सुप्रियो ने TMC जॉइन की

कभी सिंगर रहे, फिर भाजपा में आए, केंद्रीय मंत्री बने और स्टार प्रचारक रहे बंगाल के नेता बाबुल सुप्रियो ने तृणमूल कांग्रेस यानी TMC जॉइन कर ली है. ख़ास बात ये है कि बाबुल का ये फैसला उनके राजनीति छोड़ने का ऐलान करने के करीब डेढ़ महीने बाद आया है. 18 सितंबर को उन्होंने TMC जॉइन की. ममता बनर्जी के भतीजे और सांसद अभिषेक बनर्जी और डेरेक ओ ब्रायन की मौजूदगी में उन्होंने नई पार्टी का हाथ थामा. TMC की ओर से बयान जारी कर उनका पार्टी में स्वागत भी कर दिया गया. साथ ही TMC का ये भी कहना है कि और भी भाजपा नेता उनके संपर्क में हैं. बाबुल के TMC में जाने की ख़बर आते ही ट्विटर पर भी #BabulSupriyo ट्रेंड करने लगा.

लंबी पोस्ट लिख कर कहा था राजनीति छोड़ रहा हूं

2019 के लोकसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल की आसनसोल सीट से दूसरी बार वो BJP के टिकट पर जीते थे. उसके बाद वो पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 में बीजेपी की तरफ से सक्रिय रहे. उन्होंने पश्चिम बंगाल से विधायकी का इलेक्शन भी लड़ा लेकिन जीत नहीं सके. बंगाल विधानसभा इलेक्शन में बीजेपी बुरी तरह से हारी. उसके बाद इसी साल 31 जुलाई को बाबुल सुप्रियो ने सोशल मीडिया पर एक लंबी पोस्ट लिखकर राजनीति छोड़ने की घोषणा की थी. उन्होंने लिखा था कि वो राजनीति में सिर्फ समाज सेवा के लिए आए थे और अब उन्हें लग रहा है कि लोगों की सेवा करने के लिए राजनीति में रहने की जरूरत नहीं है. उन्होंने लिखा था कि सबसे बड़ा सवाल है कि मैंने राजनीति क्यों छोड़ी? क्या इसका संबंध मंत्री पद जाने से है. उन्होंने लिखा था कि हां, ऐसा है.

इस पर उस वक्त TMC के प्रवक्ता कुनाल घोष ने कहा था कि –

“अगर कोई राजनीति छोड़ने की बात करता है तो पहले सांसद का पद छोड़े. नहीं तो मैं कहूंगा कि यह सब ड्रामा है. मंत्रालय छिनने के बाद उन्हें पार्टी में घेर लिया गया. हताशा के कारण वह दिल्ली का ध्यान अपनी ओर खींचने की कोशिश कर रहे हैं.”

तब बाबुल ने कहा था कि वे सांसद के पद से भी इस्तीफा दे देंगे. लेकिन कुछ ही दिन में उनका रुख बदल गया था. तब उन्होंने कहा था कि वे राजनीति को तो अलविदा कह रहे हैं, लेकिन सांसद बने रहेंगे. उस वक्त तो बाबुल ने ये भी कहा था कि वे भाजपा के थे और भाजपा के ही रहेंगे. लेकिन डेढ़ महीने के भीतर ही दूसरी तस्वीर सामने आ गई है और इसमें वो TMC के हैं. अब बाबुल ने कहा है कि उनके दोस्तों और शुभचिंतकों ने उन्हें बहुत समझाया कि राजनीति छोड़ने का फैसला सही नहीं था. इसलिए अब बंगाल की जनता की खातिर वे वापस आए हैं. उन्होंने कहा कि वे दीदी यानी ममता बनर्जी और अभिषेक के आभारी हैं कि उन्होंने ये मौका दिया.


बाबुल सुप्रियो ने एक और FB पोस्ट लिख क्या कह दिया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

शार्दुल ठाकुर को किसने सिखाया बल्ला पकड़ने का तरीका?

माही से बेहतर टिप्स कौन देगा?

'चीन और इस्लामिक देश करीब आ रहे हैं', बिपिन रावत के बयान को विदेश मंत्रालय ने नकारा!

एस जयशंकर ने चीन के विदेश मंत्री से कहा- भारत और चीन को एक दूसरे के प्रति सम्मान की भावना रखनी होगी.

कैप्टन विराट कोहली से बात नहीं कर रहा BCCI?

पूर्व सेलेक्टर को तो यही लगता है.

अमेरिका ने माना- काबुल ड्रोन हमले में ISIS आतंकी नहीं, आम नागरिक मारे गए थे

रक्षा मंत्री ने माफी मांगी.

पैन को आधार कार्ड से लिंक कराना भूल गए हैं तो ये ख़बर पढ़ लीजिए

सरकार ने अब क्या कदम उठाया है?

टीम इंडिया का कोच बनने की रेस में ये कौन आगे आ गया?

वही, जिसकी कोहली से नहीं पटती.

PM मोदी को मिले तोहफों की नीलामी शुरू; इसमें नीरज चोपड़ा का भाला, महिला टीम की हॉकी स्टिक शामिल

ऑक्शन में करीब 1300 आइटम हैं.

फिरोजाबाद में बाइक चोर गिरफ्तार, पुलिसवाले और पत्रकार ही खरीद रहे थे चोरी की बाइक!

पुलिस ने 11 बाइक बरामद कीं. SP बोले पुलिस और पत्रकारों का शामिल होना शर्मनाक.

शिवसेना के मुखपत्र 'सामना' ने क्यों लिखा- 'मोदी है तो मुमकिन है'?

गुजरात में CM बदलने पर तगड़ा तंज किया है

शशि थरूर को 'गधा' बोलने के बाद रेवंथ रेड्डी ने माफी मांगी तो क्या जवाब मिला?

तेलंगाना कांग्रेस के अध्यक्ष हैं रेवंथ रेड्डी.