Submit your post

Follow Us

'शुक्रिया सुषमा स्वराज, आपकी वजह से मैं डॉक्टर बन जाऊंगी'

फॉरेन मिनिस्टर सुषमा स्वराज ने जो कहा, वो कर दिखाया है.  एकदम बढ़िया काम कर दिया है. पाकिस्तानी से इंडिया आई मशल माहेश्वरी के 12वीं क्लास में 91 पर्सेंट नबर आए थे. डॉक्टर बनना था. पर किसी मेडिकल कॉलेज में एडमिशन नहीं मिल रहा था. लेकिन अब सुषमा स्वराज की मदद से मशल को कर्नाटक के मेडिकल कॉलेज में एडमिशन मिलने का ऑफर मिल गया है.

मशल पाकिस्तानी हिंदू हैं. अपनी फैमिली के साथ मशल हमेशा के लिए इंडिया शिफ्ट हो गई हैं. पाकिस्तान में कुछ लोगों ने परेशान कर रखा था. मशल के मम्मी-पापा भी डॉक्टर हैं. पैरेंट्स का मन था कि इंडिया शिफ्ट हो लिया जाए. पाकिस्तान की नागरिकता होने की वजह से मशल को इंडिया के मेडिकल कॉलेजों में एडमिशन नहीं मिल पा रहा था. ये बात जब सुषमा स्वराज को पता चली, तो उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘मेरी बच्ची तुम्हें परेशान होने की जरूरत नहीं है. तुम्हारे मेडिकल कॉलेज में एडमिशन के मामले को मैं खुद देखूंगी.’

17 साल की मशल दो साल पहले पाकिस्तान के हैदराबाद से जयपुर आई थीं. मशल ने सीबीएसई से एग्जाम दिए थे. लेकिन मेडिकल टेस्ट AIPMT का एग्जाम देने को नहीं मिला. जिसके बाद न्यूज चैनलों में खबरें आने के बाद सुषमा स्वराज ने मदद की पेशकश की. सोमवार को जब मशल एक निजी न्यूज चैनल से बात कर रही थीं. तभी सुषमा ने ट्वीट कर मशल से फोन पर बात करने के लिए कहा.

मशल ने कहा, ‘सुषमा स्वराज ने कर्नाटक के मेडिकल कॉलेज में एडमिशन दिलवाने की पेशकश की है.’ मशल ने एडमिशन मिलने की बात पर खुशी जाहिर की.

देखिए जब मशल ने एडमिशन के लिए की थी अपील

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

प्रशांत भूषण ने सुप्रीम कोर्ट से माफ़ी मांगने ने इनकार क्यों किया?

अपनी सफाई में प्रशांत ने क्या कहा है?

गावस्कर ने बताया- गांगुली, धोनी, विराट में से किसकी टीम है बेस्ट

बताई ऐसी बात, जिसके दम पर टीम कहीं भी मार सकती है मैदान

कोविड-19 की वजह से महिला का गर्भपात हो गया! स्टडी से सामने आईं चौंकाने वाली जानकारी

गर्भ में भ्रूण को कोरोना से बचाने के लिए ये काम करना है बेहद जरूरी

सुनील गावस्कर की नज़र में कौन है टीम इंडिया के दो सबसे बेहतरीन क्रिकेटर?

गावस्कर ने खुलकर बताया इनके आगे और कोई खिलाड़ी नहीं है.

IIT बॉम्बे ने कॉन्वोकेशन में स्टूडेंट्स के डिजिटल अवतार उतार दिए, सोशल मीडिया बौरा गया

इस यूनीक कॉन्वोकेशन पर IIT बॉम्बे ने क्या कहा?

वक़ील ने स्वरा भास्कर पर केस चलाने की परमिशन मांगी, केंद्र सरकार के इस बड़े अधिकारी ने मना कर दिया

1 फ़रवरी, 2020 को क्या कहा था स्वरा भास्कर ने?

लॉकडाउन: 69 लाख लोगों ने नौकरी मांगी, आत्मनिर्भर भारत वाली वेबसाइट से मिली महज़ 7,700 लोगों को

भारत में अप्रैल से लेकर जुलाई के बीतने तक संगठित और असंगठित क्षेत्र मिलाकर कुल 26 करोड़ लोगों की नौकरी जा चुकी है.

अज़हर अली बिना आउट हुए पूरा दिन खेलते रहे लेकिन पाकिस्तान का काम नहीं बना!

न बैटिंग की न बोलिंग, फिर भी बटलर ही बटलर क्यों हो रहा है!

सौरव गांगुली ने बताई धोनी को नंबर 3 पर भेजने की वजह

इस वजह में है सचिन का भी रोल.

MP: परिवार के पांच सदस्यों के शव फांसी पर लटके मिले, पुलिस हत्या और आत्महत्या में उलझी

बहू की नस कटी मिली, बाकी के शरीर पर चोट के निशान.