Submit your post

Follow Us

बिजनौर के किस जमीन विवाद में चंपत राय का नाम लेने पर पुलिस ने पत्रकार पर FIR की है?

अयोध्या में जमीन सौदे पर सवालों के बीच राम मंदिर ट्रस्ट के जनरल सेक्रेटरी चंपत राय एक दूसरे भूमि विवाद की वजह से खबरों में हैं. यूपी पुलिस ने अब बिजनौर जिले में एक पत्रकार और दो अन्य लोगों पर केस दर्ज किया है. ये केस चंपत राय के भाई संजय बंसल की शिकायत पर दर्ज किया गया है. आरोप है कि इन लोगों ने बिजनौर के नगीना कस्बे में एक जमीन के अवैध कब्जे के मामले में चंपत राय और उनके भाई का नाम लिया. इसके बाद, बिजनौर पुलिस ने प्रथमदृष्टया जांच में चंपत राय और उनके भाई को क्लीन चिट दे दी है. लेकिन आगे जांच की बात भी कही है.

फेसबुक पोस्ट में क्या लिखा?

पत्रकार विनीत नारायण ने तीन दिन पहले एक फेसबुक पोस्ट लिखी थी. इसमें आरोप लगाए थे कि बिजनौर में एक जमीन पर कब्जा करने में चंपत राय ने अपने भाई की मदद की. उनके भाई ने 20 हजार वर्ग मीटर की गौशाला पर कब्जा कर लिया. इस गौशाला की मालिक एनआरआई महिला अलका लाहोटी को बताया गया. गौर करें कि अलका लाहोटी का नाम भी FIR में है. विनीत नारायण ने पोस्ट में दावा किया कि अलका लाहोटी इस जमीन पर अतिक्रमण को लेकर 2018 से सीएम योगी आदित्यनाथ से गुहार लगा रही हैं. लेकिन कोई एक्शन नहीं लिया गया है. 17 जून को लिखी इस पोस्ट को यहां पढ़ा जा सकता है-

चंपत राय के भाई ने FIR में क्या आरोप लगाए?

इसके बाद चंपत राय के भाई संजय बंसल ने पत्रकार विनीत नारायण, अलका लाहोटी और रजनीश के खिलाफ FIR दर्ज कराई. आरोप लगाया कि इन्होंने चंपत राय पर साजिशन गलत आरोप लगाए, और करोड़ों हिंदुओं की भावनाओं को आहत किया. संजय बंसल ने अपनी शिकायत में दावा किया कि उन्होंने इस मामले में सचाई से अवगत कराने के लिए पत्रकार विनीत नारायण को फोन मिलाया. लेकिन किसी रजनीश नाम के शख्स ने फोन उठाया. लेकिन उन्हें फोन पर बुरा-भला कहा गया. जान से मारने की धमकी भी दी गई.

पुलिस ने इस मामले में जो FIR दर्ज की है, उसमें आईपीसी की 14 गंभीर धाराएं लगाई हैं. आईटी एक्ट की 2 धाराएं भी जोड़ी हैं. पत्रकार विनीत नारायण पर ‘धार्मिक आधार पर वैमनस्यता फैलाने’, ‘गलत सबूत’ उपलब्ध कराने, ‘धोखाधड़ी’ और ‘अनाधिकार प्रवेश’ जैसे गंभीर आरोप लगाए गए हैं. चंपत राय के भाई संजय बंसल ने FIR में कहा है कि

“जो भी पोस्ट में कहा गया है, वह झूठ और मनगढ़ंत है. विनीत नारायण ने अलका और दूसरे लोगों के साथ मिलकर मेरे परिवार के खिलाफ साजिश रची है. इससे करोड़ों हिंदुओं की भावनाएं आहत हुई हैं. इसकी वजह से सामाजिक सद्भाव बिगड़ने का भी खतरा है.”

पुलिस ने क्लीन चिट देते हुए क्या कहा?

इस FIR के दर्ज होने के एक दिन के भीतर ही बिजनौर पुलिस ने क्लीन चिट दे दी. बिजनौर के एसपी डॉक्टर धर्मवीर सिंह ने ट्विटर पर पोस्ट किए अपने स्टेटमेंट में संजय बंसल और चंपत राय पर लगाए गए आरोपों को प्रथमदृष्टया गलत बताया. हालांकि वह मामले में आगे जांच करने की बात भी कह रहे हैं. उन्होंने कहा कि

लोकल पुलिस मामले की जांच कर रही है. चंपत राय विश्व हिंदू परिषद के वरिष्ठ नेता हैं और राम मंदिर ट्रस्ट के सदस्य हैं. उनके और उनके रिश्तेदारों के ऊपर लगाए गए सभी आरोप पहली नजर में निराधार नजर आ रहे हैं. हम सभी तथ्यों की जांच कर रहे हैं.

बता दें कि राम मंदिर ट्रस्ट पर अयोध्या में 2 करोड़ रुपए की जमीन को 18.5 करोड़ रुपए में खरीदने के आरोप पहले ही लग चुके हैं. समाजवादी पार्टी और आम आदमी पार्टी ने आरोप लगाया था कि जो जमीन कुछ मिनट पहले 2 करोड़ में खरीदी गई, उसे कुछ ही देर बाद 18.5 करोड़ रुपए में कैसे खरीद लिया गया. विश्व हिन्दू परिषद के अन्तर्राष्ट्रीय उपाध्यक्ष चंपत राय राम मंदिर ट्रस्ट के महासचिव हैं. वह बिजनौर के नगीना के रहने वाले हैं. चंपत राय बिजनौर धामपुर के आश्रम डिग्री कॉलेज में रसायन विज्ञान के प्रोफ़ेसर भी रहे हैं.

पत्रकार विनीत नारायण के बारे में बताए तो इन्होंने ही 90 के दशक में जैन हवाला कांड मामले को लेकर याचिका दी थी. इसमें नारायण दत्त तिवारी, विद्याचरण शुक्ल के अलावा लालकृष्ण आडवाणी, शरद यादव जैसे नामी नेताओं के नाम सामने आए थे. इनकी जनहित याचिका पर ही सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई डायरेक्टर के चयन को लेकर बड़ा फैसला दिया था.


वीडियो – राम मंदिर के चंदे में फ्रॉड पर क्या बड़ा कदम उठाने जा रहे ट्रस्ट वाले?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

ये किन दो नेताओं को चुनाव से ठीक पहले योगी आदित्यनाथ ने बड़ा काम दे दिया है?

ये किन दो नेताओं को चुनाव से ठीक पहले योगी आदित्यनाथ ने बड़ा काम दे दिया है?

कौन हैं रामबाबू हरित और जसवंत सैनी?

अयोध्याः 20 लाख की जमीन मेयर के भतीजे ने ट्रस्ट को 2.5 करोड़ में बेची, महंत ने उठाए सवाल

अयोध्याः 20 लाख की जमीन मेयर के भतीजे ने ट्रस्ट को 2.5 करोड़ में बेची, महंत ने उठाए सवाल

ट्रस्ट द्वारा खरीदी जा रही जमीनों के दो और सौदे विवादों के घेरे में.

चिराग पासवान के चचेरे भाई सांसद प्रिंस राज पर लगे रेप के आरोप का पूरा मामला है क्या?

चिराग पासवान के चचेरे भाई सांसद प्रिंस राज पर लगे रेप के आरोप का पूरा मामला है क्या?

आरोप लगाने वाली महिला के खिलाफ प्रिंस ने भी फरवरी में दर्ज कराई थी FIR.

किसान आंदोलन में शामिल लोगों पर आरोप- पहले ग्रामीण को शराब पिलाई, फिर जिंदा जला दिया!

किसान आंदोलन में शामिल लोगों पर आरोप- पहले ग्रामीण को शराब पिलाई, फिर जिंदा जला दिया!

बहादुरगढ़ की घटना, पुलिस ने दो लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया है.

CBSE ने सुप्रीम कोर्ट में बताया, 12वीं के मार्क्स देने का 30:30:40 फॉर्मूला क्या है

CBSE ने सुप्रीम कोर्ट में बताया, 12वीं के मार्क्स देने का 30:30:40 फॉर्मूला क्या है

31 जुलाई से पहले फाइनल रिजल्ट जारी करने की जानकारी भी दी है.

योगी सरकार के संपत्ति रजिस्ट्री को लेकर लगने वाले स्टाम्प शुल्क के नए नियम में क्या है?

योगी सरकार के संपत्ति रजिस्ट्री को लेकर लगने वाले स्टाम्प शुल्क के नए नियम में क्या है?

नए नियम के बाद विवादों में कमी आएगी?

हरिद्वार कुंभ के दौरान बांटी गयी 1 लाख फ़र्ज़ी कोरोना रिपोर्ट? जानिए क्या है कहानी

हरिद्वार कुंभ के दौरान बांटी गयी 1 लाख फ़र्ज़ी कोरोना रिपोर्ट? जानिए क्या है कहानी

अख़बार का दावा, सरकारी जांच में हुआ ख़ुलासा

दिल्ली दंगा : नताशा, देवांगना और आसिफ़ को ज़मानत देते हुए कोर्ट ने कहा, 'कब तक इंतज़ार करें?'

दिल्ली दंगा : नताशा, देवांगना और आसिफ़ को ज़मानत देते हुए कोर्ट ने कहा, 'कब तक इंतज़ार करें?'

जानिए क्या है पूरा मामला?

सैन्य ऑपरेशन से जुड़े 25 साल से ज्यादा पुराने रिकॉर्ड सार्वजनिक होंगे

सैन्य ऑपरेशन से जुड़े 25 साल से ज्यादा पुराने रिकॉर्ड सार्वजनिक होंगे

सेना के इतिहास से जुड़ी जानकारियां सार्वजनिक करने की पॉलिसी को मंजूरी

पंजाब चुनाव: अकाली दल और बसपा गठबंधन का ऐलान, कितनी सीटों पर लड़ेगी मायावती की पार्टी?

पंजाब चुनाव: अकाली दल और बसपा गठबंधन का ऐलान, कितनी सीटों पर लड़ेगी मायावती की पार्टी?

पंजाब के अलावा बाकी चुनाव भी साथ लड़ने की घोषणा.