Submit your post

Follow Us

विदेश से आए कोच भी टीम इंडिया को नहीं पहुंचा पा रहे हैं FIFA वर्ल्ड कप तक

भारत के फुटबॉल फैन्स. सालों से उम्मीद लगाए बैठे हैं. कि एक दिन हम फीफा वर्ल्ड कप खेलेंगे. दुनिया की महाशक्तियों के बीच हमारा राष्ट्रगान भी बजेगा और हम गर्व से टीवी के सामने खड़े हो जाएंगे. लेकिन हर बार ये उम्मीदें धरी की धरी ही रह जाती हैं. वर्ल्ड कप में पहुंचना तो दूर, टीम इंडिया उसके क्वॉलिफाइंग में ही सरेंडर कर देती है. इस बार भी यही होता दिख रहा है.

भारतीय टीम क्वॉलिफिकेशन के दूसरे राउंड का अपना पांचवां मैच भी हार गई. ओमान ने भारत को 1-0 से हरा दिया. भारत के लिए मैच की शुरुआत बहुत अच्छी नहीं रही. पहले हाफ में ही मिडफील्डर प्रणॉय हल्दर और डिफेंडर आदिल खान को चोट लग गई.

क्यों हार गई टीम?

क्वॉलिफायर्स के अगले राउंड में जाने की उम्मीद जिंदा रखने के लिए भारत को यह मैच हर हाल में जीतना था. लेकिन इस मैच में टीम का प्लान ही गड़बड़ था. भारतीय टीम इस मैच में तीन बदलावों के साथ उतरी थी. फारुख चौधरी, मनवीर सिंह और निशु कुमार को सहल अब्दुल समद, प्रीतम कोटाल और मंदार राव देसाई की जगह उतारा गया. कोच ने फॉरवर्ड आशिक कुरुनियन को लेफ्ट-बैक पोजिशन पर खिलाया, जो कि गलत फैसला साबित हुआ.

मैच में भारतीय फॉरवर्ड लाइन एकदम बेकार दिखी और मैच में एक बार भी क्लियर कट चांस बनाकर विपक्षियों को प्रेशर में नहीं डाल पाई. नए कोच इगोर स्टिमाच के अंडर यह पिछले 10 मैचों में 9वीं बार था जब भारतीय टीम जीत नहीं दर्ज कर पाई. इगोर के अंडर टीम सिर्फ एक मैच जीत पाई है. इसी साल हुए किंग्स कप में उन्होंने थाईलैंड को 1-0 से हराया था. इसके बाद से टीम ने चार मैच ड्रॉ खेले हैं जबकि पांच में उन्हें हार मिली है.

मैच की शुरुआत में पेनल्टी मिस करने वाले ओमान के फॉरवर्ड महसेन अल-घासनी ने 33वें मिनट में मैच का इकलौता गोल दाग दिया. रीप्ले में लगा कि वह ऑफसाइड थे लेकिन रेफरी ने गोल को सही करार दिया. हालांकि स्कोर भले 1-0 हो और इससे भ्रम बन रहा हो कि भारतीय टीम ने अच्छा खेला लेकिन सच्चाई इसके उलट है. टीम इंडिया इस मैच में गोल करने का एक भी मौका नहीं बना पाई.

इस हार के साथ ही भारत की वर्ल्ड कप क्वॉलिफायर्स के अगले राउंड में जाने की उम्मीदें भी खत्म हो गईं. ग्रुप में दूसरे नंबर की टीम ओमान के अब 12 पॉइंट्स हो गए हैं. ग्रुप की तीसरे नंबर की टीम अफगानिस्तान है जबकि चौथे नंबर पर भारत. ग्रुप की आखिरी टीम बांग्लादेश है.

# तो क्या अब कोई उम्मीद नहीं है?

फीफा वर्ल्ड कप में जाने की कोई उम्मीद नहीं है. लेकिन 2023 में होने वाले एशियन कप के अगले क्वालिफायर्स राउंड में जाने का मौका भारत के पास अभी भी है. दरअसल, फीफा वर्ल्ड कप और एशियन कप दोनों के क्वालिफायर्स एक साथ चल रहे हैं. भारत अब तक पांच मैच खेल चुका है और एक भी नहीं जीता है. अब तीन मैच बाकी हैं. अगर, टीम ये तीनों मैच जीत जाती है और उससे ठीक आगे चल रही अफगानिस्तान एक भी मैच हार जाता है तो भारत अपने ग्रुप में तीसरे नंबर पर आ जाएगा.

ऐसा हुआ तो अगले क्वॉलिफिकेशन राउंड में भारत को सीधी एंट्री मिल जाएगी. लेकिन अपने ग्रुप में अगर टीम सबसे नीचे भी फिनिश करती है तो भी वह एशियन कप क्वॉलिफाइंग की रेस में बनी रहेगी. ऐसी हालत में टीम को प्ले-ऑफ राउंड खेलना होगा जैसा उन्होंने 2019 एशियन कप के लिए खेला था.


ज़्लाटन इब्राहिमोविच के मशहूर ‘बाइ-साइकल किक’ गोल का किस्सा

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

एंटी-CAA प्रोटेस्ट को उकसाने के आरोप में कपल गिरफ्तार, पुलिस ने कहा- ISIS से लिंक हो सकता है

दिल्ली के शाहीन बाग में 15 दिसंबर से प्रोटेस्ट चल रहा है.

सबसे ज्यादा रणजी मैच और सबसे ज्यादा रन, इस खिलाड़ी ने 24 साल बाद लिया संन्यास

42 की उम्र तक खेलते रहे, अब बल्ला टांगा.

लखनऊ में CAA विरोधी प्रदर्शन के दौरान 'तोड़फोड़ करने वाले' 57 लोगों के होर्डिंग लगाए

होर्डिंग पर पूर्व IPS एसआर दारापुरी और कांग्रेस कार्यकर्ता सदफ ज़फर जैसे लोगों का नाम.

दिल्ली दंगे के 'हिन्दू पीड़ितों' की मदद के लिए कपिल मिश्रा ने जुटाये 71 लाख, खुद एक पईसा नहीं दिया

अब भी कह रहे हैं, 'आप धर्म को बचाइये, धर्म आपको बचायेगा'

कांग्रेस सांसद का आरोप : अमित शाह का इस्तीफा मांगा, तो संसद में मुझ पर हमला कर दिया गया

कांग्रेस सांसद ने कहा, 'मैं दलित महिला हूं, इसलिए?'

निर्भया केस: चार दोषियों की फांसी से एक दिन पहले कोर्ट ने क्या कहा?

राष्ट्रपति ने पवन गुप्ता की दया याचिका खारिज कर दी है.

कश्मीर : हथियारों के फर्जी लाइसेंस बनवाने वाला IAS अधिकारी कैसे धरा गया?

हर लाइसेंस पर 8-10 लाख रूपए लेता था!

गृहमंत्री अमित शाह की रैली में आई भीड़ ने लगाया देश के गद्दारों को गोली मारो... का नारा!

ये नारा डरावना है, उससे भी डरावना है इसका गृहमंत्री की रैली में लगाया जाना.

दिल्ली के बाद मेघालय में भी हिंसा भड़की, दो की मौत, कई जिलों में इंटरनेट बंद

मामला CAA प्रोटेस्ट से जुड़ा है.

एक्टिंग छोड़ बीजेपी जॉइन की थी, अब कपिल मिश्रा और अनुराग ठाकुर की वजह से पार्टी छोड़ दी

बीजेपी नेता ने अपनी पार्टी के नेताओं पर बड़ा बयान दिया है.