Submit your post

Follow Us

मायावती ने ऐसा क्या कह दिया कि फिलहाल गठबंधन को टूटा मान लेना चाहिए

196
शेयर्स

आज यानी 4 जून को प्रेस कांफ्रेंस करके बसपा प्रमुख मायावती ने आज सपा और बसपा के गठबंधन के बारे में बहुप्रतीक्षित ऐलान कर दिया. मायावती ने प्रेस कांफ्रेस में घोषणा की कि उनकी पार्टी उत्तर प्रदेश में विधानसभा उपचुनाव में अकेले लड़ेगी.

राजनीतिक जानकार इसे सपा और बसपा के गठबंधन में एक गांठ की तरह देख रहे हैं. कल ही दिल्ली के पार्टी मुख्यालय में पार्टी के सांसदों और जिला प्रमुखों के साथ बैठक में मायावती ने इसके संकेत दिए थे.

आज अपनी प्रेस कांफ्रेंस में मायावती ने समाजवादी पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि सपा का वोट ही सपा को नहीं मिला. उन्होंने कन्नौज में डिम्पल यादव, बदायूं से धर्मेन्द्र यादव और फ़िरोज़ाबाद से अक्षय प्रताप यादव के चुनाव का हवाला दिया.

उन्होंने प्रत्याशियों के हारने का हवाला देते हुए कहा कि इन तीन सीटों पर यादव परिवार के ही सदस्य हार गए. मायावती ने कहा,

“जब सपा का वोट सपा को ही नहीं मिला है, तो बसपा को कैसे मिल सकता है?”

उन्होंने बसपा के काडर की खूबियां गिनाते हुए कहा कि सपा के काडर को बसपा के काडर की तरह कार्य करना चाहिए. मायावती की शिकायत थी कि उन्होंने चुनाव कैम्पेन में सपा काडर को बसपा काडर की तरह काम करते हुए नहीं देखा. सपा प्रमुख अखिलेश यादव के साथ पर बात करते हुए मायावती ने कहा,

“अगर मुझे लगेगा कि आने वाले समय में सपा प्रमुख अपने राजनीतिक कार्यों के साथ-साथ अपने लोगों को मिशनरी बनाने में सफल हो जाते हैं, तो गठबंधन चलेगा. अगर अखिलेश इसमें सफल नहीं हो पाते हैं तो हमारा अकेले चलना ही बेहतर है.”

इस प्रेस कांफ्रेंस में मायावती ने ईवीएम पर भी सवाल उठाए. उन्होंने कहा कि बसपा और सपा के मिले-जुले वोट भी हमारे प्रत्याशी को नहीं मिले, इसका मतलब है कि ईवीएम में गड़बड़ी हुई है. गौरतलब है कि 2017 के प्रदेश विधानसभा चुनाव के समय मायावती ने पहली बार ईवीएम की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए थे.

मायावती ने अपनी बातचीत की शुरुआत में गठबंधन की तारीफ की. लेकिन अगले ही पल उन्होंने “राजनीतिक विवशता” का हवाला दिया और सपा की कार्यप्रणाली पर सवाल उठा दिए.

सपा नेता और जिला पंचायत सदस्त विजय यादव की हत्या के बाद गाजीपुर पहुंचे अखिलेश यादव ने भी बातचीत में गठबंधन ख़त्म करने के संकेत दिए.

मीडिया से बातचीत में अखिलेश यादव ने कहा,

“अगर गठबंधन टूटा है या गठबंधन पर जो बात रखी गई है, मैं उस पर सोच समझकर विचार करूंगा. जब गठबंधन है ही नहीं, तो हम सब विचार-विमर्श करके चुनाव की तैयारी करेंगे. हम विधानसभा उपचुनाव भी अकेले लड़ने पर विचार करेंगे.”


लल्लनटॉप वीडियो : यूपी में करारी हार के बाद मुलायम सिंह ने अखिलेश यादव को क्या-क्या सुनाया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Election 2019 : BSP Chief Mayawati announces to end alliance Mahagathbandhan with Akhilesh Yadav of Samajwadi Party

क्या चल रहा है?

जानिए कौन हैं आनंद कुमार और आकाश आनंद जिन्हें मायावती ने बीएसपी में बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है

मायावती के फैमिली मेम्बर्स हैं, मगर जानिए साथ में और क्या-क्या स्पेशल बातें जुड़ी हैं इनसे?

बाड़मेर में रामकथा के दौरान पंडाल गिरने से 13 लोगों की मौत हो गई

इस घटना पर पीएम मोदी और सीएम गहलोत की प्रतिक्रिया भी आ गई है.

बाप अपनी ही 5 साल छोटी बच्ची का रेप करता था, खुद मां ने पुलिस को बताया

वकील ने आरोपी का केस लड़ने से मना किया.

बंदे ने पुल के ऊपर से सू-सू करके कई लोगों को घायल कर दिया

यकीन नहीं होता कि दुनिया में ऐसी भी अजब सी चीज़ें हो सकती हैं.

World Cup 2019: जानिए ICC ने विराट कोहली पर जुर्माना क्यों लगाया है?

कोहली ने अपनी गलती मान ली है.

शमी ने खुद बताया कि हैट्रिक लेने से पहले धोनी ने उन्हें क्या 'गुरु मंत्र' दिया था

बेशक सामने अफगानिस्तान थी, लेकिन सोचिए 5 बॉल में सिर्फ 12 रन चाहिए थे.

कमलनाथ ने सरकारी अस्पताल में सर्जरी करवाकर मिसाल कायम की, शिवराज ने अजब ताना मार डाला

शिवराज के इस ट्वीट के बाद एमपी के सीएम की बात 360° घूम गई.

खुश हो जाइए कि महेंद्र सिंह धोनी के इन दो विकटों में WC2019 जीतने का राज़ छिपा है

अगर आप धोनी के आउट होने पर गुस्सा रहे थे तो ये खबर आपके चेहरे पर चवनिया मुस्कान ले आएगी.

नांदेड़ की महिला को तलाक से पहले बच्चा चाहिए था, कोर्ट मान गई पर पति ने प्लान पर पानी फेरा

एक बच्चा है पहले से, दूसरे बच्चे की चाह में भविष्य की चिंता छुपी हुई है.

जम्हाई पर सरफ़राज़ ने कहा- डाका तो नहीं डाला, चोरी तो नहीं की है

सरफ़राज़ ने क्यों कहा कि उनकी उबासी से सबने खूब पैसे बनाए.