Submit your post

Follow Us

अपने सवालों की लिस्ट बना लीजिए, फिजिक्स वाले HC वर्मा सर की क्लास शुरू होने वाली है

एच सी वर्मा. फिजिक्स के जाने-माने प्रोफेसर. साइंस के स्टूडेंट चाहे वो इंजीनियरिंग की तैयारी करने वाले हों या फिर मेडिकल की, सबके झोले में एच सी वर्मा की मोटी सी ‘कॉन्सेप्ट ऑफ फिजिक्स’ जरूर होती है. प्रोफेसर वर्मा आईआईटी कानपुर में प्रोफेसर थे. 2017 में रिटायर हो गए. रिटायर होने के बाद भी प्रोफेसर वर्मा का पढ़ाने का काम अब भी जारी है. या फिर यूं कहें कि अब ये और भी बड़ा हो गया है. प्रोफेसर वर्मा B.Sc. के स्टूडेंट्स को ऑनलाइन पढ़ा रहे हैं.

हिंदी में B.Sc. लेवल की ऑनलाइन पढ़ाई

साइंस की पढ़ाई और रिसर्च के लिए B.Sc. बहुत महत्वपूर्ण स्टेज होता है. हजारों ऐसे कॉलेज हैं जो B.Sc. की पढ़ाई कराते हैं और हर साल लाखों स्टूडेंट इनमें एडमिशन लेते हैं. इनमें बड़ी संख्या दूर-दराज के ग्रामीण इलाकों से आने वाले छात्रों की भी है. इन छात्रों के सामने सबसे बड़ी समस्या होती है भाषा की. साइंस की पढ़ाई होती है अंग्रेजी में. जिसमें ये छात्र सहज होते नहीं है. सीखने के लिए सबसे बेहतर अपनी भाषा होती है लेकिन उसमें कॉन्टेंट उपलब्ध है नहीं. इसी समस्या के समाधान के लिए प्रोफेसर एच सी वर्मा ने एक पोर्टल (वेबसाइट) तैयार किया है. इस पोर्टल पर प्रोफेसर एच सी वर्मा और उनकी टीम हिंदी में B.Sc.लेवल की ऑनलाइन पढ़ाई कराएगी. ये लेक्चर फोन, टैबलेट और लैपटॉप पर देखे जा सकते हैं.

Hc Verma

ये लेक्चर कोर्स खत्म होने के बाद भी उपलब्ध रहेंगे यानी कि इन्हें कभी भी देखा जा सकता है. कोर्स खत्म होने के बाद स्टूडेंट्स को CDTE, आईआईटी कानपुर की ओर से सर्टिफिकेट भी दिया जाएगा. इन क्लासेज के लिए कोई भी फीस नहीं ली जाएगी. तो अगर आपकी दिलचस्पी फिजिक्स में है, आप हिंदी में फिजिक्स को समझना चाहते हैं या फिर आप ने उन सवालों को टिक मार रखा है जो कॉन्सेप्ट ऑफ फिजिक्स में नहीं समझ में आए तो आपके लिए इससे अच्छा कोई मौका नहीं हो सकता.

प्रोफेसर एच सी वर्मा कोरोना काल में पहले भी ऐसी पहल कर चुके हैं. अप्रैल में IIT कानपुर के साथ मिलकर उन्होंने स्टे होम एंड रिवाइज फिजिक्स (SHARP) नाम से ऑनलाइन कोर्स शुरू किया था. ताकि लॉकडाउन के दौरान घर बैठे लोगों को सिम्पल एक्सपेरिमेंट्स के जरिए फिजिक्स समझाया जा सके. ये कोर्स आठ हफ्तों का था और ये उन सभी के लिए था जो फिजिक्स में दिलचस्पी रखते हों.


दवाईयां कैसे बनती हैं और इनके रेट कैसे तय होते हैं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए पॉज़िटिव न्यूज़ आई है

बड़े दिनों के बाद.

सेरो सर्वे की मानें, तो ठीक होने के बाद दोबारा हो सकता है कोरोना!

208 में से 97 लोगों में नहीं मिली एंटीबॉडी.

अवमानना वाले मामले में सुप्रीम कोर्ट ने प्रशांत भूषण को क्या सज़ा दी है?

प्रशांत भूषण के दो ट्वीट का मुद्दा था.

अनलॉक-4 की गाइडलाइंस जारी, मेट्रो चलेगी, जानिए स्कूल खोलने को लेकर क्या कहा गया है

धार्मिक और राजनीतिक कार्यक्रमों को लेकर क्या छूट मिली है?

NEET, JEE आगे बढ़ाने की मांग कर रहे छात्र ये पांच कारण बता रहे हैं

तय समय पर परीक्षा कराने के लिए 150 शिक्षाविदों ने लिखी PM मोदी को चिट्ठी.

कोर्ट ने कहा, ये शर्त पूरी किए बिना अनुराग ठाकुर और प्रवेश वर्मा पर दिल्ली दंगों में हेट स्पीच का केस नहीं

बीजेपी नेताओं के खिलाफ़ याचिका ख़ारिज करते हुए अदालत ने और क्या कहा, ये भी पढ़िए.

पाकिस्तान के किस बयान में इंडिया ने एक के बाद एक पांच झूठ पकड़ लिए हैं?

पाकिस्तान ने आतंकवाद फैलाने में भारत का नाम ले लिया, बस हो गया काम.

सोनिया-राहुल को पत्र लिखने पर कांग्रेस मंत्री ने नेताओं से कहा, ‘खुल्लमखुल्ला टहलने नहीं दूंगा’

माफ़ी नहीं मांगने पर परिणाम भुगतने की बात कर डाली.

प्रशांत भूषण के खिलाफ़ अवमानना का मुक़दमा सुन रहे सुप्रीम कोर्ट के इन तीन जजों की कहानी क्या है?

पूरी रामकहानी यहां पढ़िए.

महाराष्ट्र: रायगढ़ में पांचमंज़िला इमारत ढही, 50 से ज़्यादा लोग दबे

एनडीआरएफ की तीन टीमें राहत के काम में जुटी हैं.