Submit your post

Follow Us

दिल्ली हिंसा: चांदबाग में पांच दिनों बाद दुकानें खुलीं, तो हिंदू और मुसलमानों ने क्या कहा?

दिल्ली के करावल नगर का चांदबाग इलाका. दंगों से ये इलाका प्रभावित रहा. हिंसा अब थम चुकी है, लेकिन पिछले पांच दिनों से यहां दुकानें बंद रहीं. लोग रोजमर्रा की चीजों के लिए परेशान थे. अब हालात कैसे हैं, ये जानने के लिए ‘इंडिया टुडे’ की टीम 28 फरवरी को यहां पहुंची. टीम ने पाया कि धीरे-धीरे गाड़ी पटरी पर लौट रही है. दुकानें खुलने लगी हैं. लोग घरों से निकलने लगे हैं.

बेकरी की दुकान पर मिली एक बच्ची ने कहा,

मैं यहां पांच दिनों बाद आई हूं.

एक दुकान पर लोग पूड़ी-सब्जी बना रहे हैं. लोग खरीदारी कर रहे हैं. दूध की एक दुकान भी पांच दिन बाद खुली है. इलाके के पूर्व पार्षद ताज मोहम्मद ने कहा,

यहां स्थिति सामान्य है. पहले डर का माहौल था. यहां हिंदू और मुसलमान 40 साल से साथ रहते आए हैं. हम सभी प्यार-मोहब्बत से रहते हैं.

उनके बगल खड़े राजेंद्र मिश्रा बताते हैं,

मैं यहां करीब 40 साल से रह रहा हूं और मैंने ऐसा कभी नहीं देखा था. दोनों समुदाय मिल-जुलकर रह रहे हैं. कोई त्योहार आता है, तो मिल-जुलकर मनाते हैं. हमारे चांदबाग में शांति है.

चांदबाग में जॉइंट कमिश्नर ओपी मिश्रा ने बताया कि अब यहां पर दुकानें खुलवाई जा रही हैं. दवा की दुकानें खोल दी गई हैं. लाउडस्पीकर से लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की जा रही है और उन्हें भरोसा दिलाया जा रहा है. उन्होंने कहा-

दुकानों का खुलना स्थिति सामान्य होने का लक्षण है. कल से चीजें सामान्य होने लगीं. हमारा फोकस है कि हर नागरिक सामान्य जीवन शुरू करें.

स्थिति सामान्य होने की बात तो कही जा रही है, लेकिन नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली के जाफराबाद, मौजपुर, भजनपुरा, चांदबाग़, गोकुलपुरी, खजूरी खास, यमुना विहार में अभी भी तनाव है.

हिंसा में मारे जाने वालों का आंकड़ा 39 तक पहुंच गया है, जबकि सैकड़ों लोग घायल हैं. गलियों में पुलिस की ओर से लगातार शांति बनाए रखने की अपील की जा रही है. जांच के लिए पुलिस की ओर से SIT बनाई गई है. 22 फरवरी से 26 फरवरी के बीच 48 केस दर्ज किए गए हैं.


दिल्ली हिंसा: चांदबाग के एक नाले से बरामद हुआ IB के जवान का शरीर

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

लखनऊ में CAA विरोधी प्रदर्शन के दौरान 'तोड़फोड़ करने वाले' 57 लोगों के होर्डिंग लगाए

होर्डिंग पर पूर्व IPS एसआर दारापुरी और कांग्रेस कार्यकर्ता सदफ ज़फर जैसे लोगों का नाम.

दिल्ली दंगे के 'हिन्दू पीड़ितों' की मदद के लिए कपिल मिश्रा ने जुटाये 71 लाख, खुद एक पईसा नहीं दिया

अब भी कह रहे हैं, 'आप धर्म को बचाइये, धर्म आपको बचायेगा'

कांग्रेस सांसद का आरोप : अमित शाह का इस्तीफा मांगा, तो संसद में मुझ पर हमला कर दिया गया

कांग्रेस सांसद ने कहा, 'मैं दलित महिला हूं, इसलिए?'

निर्भया केस: चार दोषियों की फांसी से एक दिन पहले कोर्ट ने क्या कहा?

राष्ट्रपति ने पवन गुप्ता की दया याचिका खारिज कर दी है.

कश्मीर : हथियारों के फर्जी लाइसेंस बनवाने वाला IAS अधिकारी कैसे धरा गया?

हर लाइसेंस पर 8-10 लाख रूपए लेता था!

गृहमंत्री अमित शाह की रैली में आई भीड़ ने लगाया देश के गद्दारों को गोली मारो... का नारा!

ये नारा डरावना है, उससे भी डरावना है इसका गृहमंत्री की रैली में लगाया जाना.

दिल्ली के बाद मेघालय में भी हिंसा भड़की, दो की मौत, कई जिलों में इंटरनेट बंद

मामला CAA प्रोटेस्ट से जुड़ा है.

एक्टिंग छोड़ बीजेपी जॉइन की थी, अब कपिल मिश्रा और अनुराग ठाकुर की वजह से पार्टी छोड़ दी

बीजेपी नेता ने अपनी पार्टी के नेताओं पर बड़ा बयान दिया है.

मोदी ने दिव्यांग लड़के को फोन दिया, उसने पक्के इलाहाबादी वाला काम कर दिया

कुछ ऐसा कि आप भी जानकर मुस्कुरा देंगे.

दिल्ली दंगा: पुलिस ने 5 लड़कों से जबरन राष्ट्रगान गाने को कहा था, उनमें से एक की मौत हो गई

ये वीडियो खूब वायरल हुआ था.