Submit your post

Follow Us

दिल्ली में प्राइवेट ऑफिस, रेस्टोरेंट और बार पूरी तरह बंद किए गए, छूट किसे मिली है ये जान लो

दिल्ली में कोरोना वायरस के बढ़ते मरीजों के मद्देनजर सरकार ने पाबंदियां और बढ़ा दी हैं. दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी (DDMA) ने इसकी जानकारी दी. DDMA ने लॉकडाउन शब्द का इस्तेमाल तो नहीं किया, लेकिन पाबंदियां लॉकडाउन से मिलती-जुलती बताई जा रही हैं. खबर के मुताबिक दिल्ली सरकार ने राजधानी में तमाम प्राइवेट दफ्तर, रेस्टोरेंट और बार बंद करने की घोषणा की है. स्कूल-कॉलेज पहले से ही बंद हैं. अब सिर्फ जरूरी सेवाओं से जुड़े प्राइवेट दफ्तरों को ही खुलने की इजाजत दी गई है.

दिल्ली सरकार ने कहा है कि अब जरूरी सेवाओं से जुड़े दफ्तरों को छोड़ दिल्ली के बाकी सभी प्राइवेट ऑफिसेज के कर्मचारी वर्क फ्रॉम होम (WFH) करेंगे. अभी तक प्राइवेट दफ़्तर 50 प्रतिशत क्षमता पर चल रहे थे, वहीं 50 प्रतिशत कर्मचारी WFH पर थे.

इसके साथ ही सभी रेस्टोरेंट और बार को बंद करने के आदेश जारी हुए हैं. रेस्टोरेंट को सिर्फ होम डिलिवरी के लिए खोला जाएगा. यहां बैठकर खाना खाने की इजाजत नहीं होगी. पहले सभी रेस्टोरेंट और बार को 50 फीसदी क्षमता के साथ खोलने की इजाजत थी. यहां क्षमता के हिसाब से 50 फीसदी लोग बैठकर खाना खा सकते थे.

DDMA की नई गाइडलाइंस

जरूरी सेवाओं में लगे अधिकारी या कर्मचारी अपना आई कार्ड दिखाकर दिल्ली में मूवमेंट कर सकेंगे. न्यायिक अधिकारी और वकील आई कार्ड दिखाकर या कोर्ट से जारी परमिशन लेटर दिखाकर मूवमेंट कर सकेंगे. वहीं डिप्लोमैट्स के दफ्तर में काम करने वाले कर्मचारी आई कार्ड दिखाकर मूवमेंट कर सकेंगे.

किसे-किसे राहत?

आजतक की खबर के अनुसार,

– गर्भवती महिलाओं के साथ डॉक्टर को दिखाने या मेडिकल इमरजेंसी में बाहर निकल सकते हैं. लेकिन साथ में डॉक्टर का पर्चा और आई कार्ड होना जरूरी है.

– कोरोना की जांच और वैक्सीनेशन कराने के लिए भी घर से निकल सकते हैं.

– एयरपोर्ट, बस स्टैंड और रेलवे स्टेशन से यात्रियों को आने-जाने की छूट रहेगी. इनके पास टिकट होना चाहिए.

– इलेक्ट्रॉनिक और प्रिंट मीडिया से जुड़े पत्रकारों को छूट रहेगी.

– अगर कोई एग्जाम है तो भी एडमिट कार्ड के साथ घर से निकल सकते हैं. एग्जाम ड्यूटी में लगे लोग भी घर से निकल सकते हैं.

– शादी में सिर्फ 20 मेहमानों के ही शामिल होने की इजाजत है. शादी में जाने के लिए मैरिज कार्ड होना जरूरी है.

– मेट्रो और बसें पूरी क्षमता के साथ चलेंगी. खड़े होकर सफर करने की परमिशन नहीं होगी.

दिल्ली में कोरोना की स्थिति

दिल्ली में कोविड-19 की एक और लहर साफ दिख रही है. देश में ओमिक्रॉन वेरिएंट के आने के बाद से राजधानी में कोरोना संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ रही है. सोमवार 10 जनवरी को देशभर में एक लाख 68 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं. इनमें से 19 हजार 166 केस दिल्ली में दर्ज किए गए हैं. जीनोम सीक्वेंसिंग के आधार पर बताया गया है कि इनमें से 546 केस ओमिक्रॉन से संक्रमित हैं. चूंकि जांच कुछ ही मरीजों को लेकर की जाती है, ऐसे में ओमिक्रॉन के मरीजों की असल संख्या इससे कहीं ज्यादा हो सकती है.

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, इस महीने के 10 दिनों में दिल्ली में 70 कोरोना मरीजों की मौत हो गई है. 9 और 10 जनवरी को 17-17 लोगों की मौत हुई. अस्पतालों में भर्ती होने वाले कोरोना मरीजों की संख्या भी लगातार बढ़ी है. दिल्ली सरकार के मुताबिक, अभी 1912 कोरोना मरीज अस्पताल में भर्ती हैं. इसी को देखते हुए दिल्ली सरकार ने पाबंदियों को बढ़ाया है.


वीडियो देखें – ओमिक्रॉन के बाद आए ‘फ्लोरोना’ और ‘डेल्टाक्रॉन’ से ना घबराने की सलाह क्यों दी जा रही है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

कोर्ट केस जीतने के बाद भी ऑस्ट्रेलिया से निकाल दिए जाएंगे नोवाक जोकोविच?

ऑस्ट्रेलियन ओपन नहीं खेलेंगे नंबर-1 सीड जोकोविच?

ठेला कार से क्या टकराया इस महिला प्रोफेसर ने सड़क पर तांडव मचा दिया!

ठेले पर रखे पपीतों को महिला ने फेंकना शुरू कर दिया, समझाने पर भी नहीं मानी.

स्वामी प्रसाद मौर्या सहित 4 विधायकों के इस्तीफे के बाद BJP ने क्या फैसला लिया है?

पार्टी को लगे झटकों से बीजेपी आलाकमान सक्रिय हो गया है

केशव प्रसाद मौर्य ने रिपोर्टर का मास्क खींचा, इंटरव्यू जबरन डिलीट कराया, BBC का दावा

BBC के मुताबिक धर्म संसद पर सवाल करने से केशव प्रसाद मौर्य काफी नाराज हो गए.

अब किसे मिलने वाली है IPL की टाइटल स्पॉन्सरशिप?

वीवो का क्या होगा?

स्वामी प्रसाद मौर्या का योगी सरकार से इस्तीफा, सपा में शामिल हुए

योगी सरकार पर दलितों, पिछड़ों और नौजवनों की उपेक्षा का लगाया आरोप

बिहार: महिला पर पति ने ही फेंका तेज़ाब, हालत गंभीर

एसिड की पूरी बोतल अपनी पत्नी के ऊपर उड़ेल दी

पहलवान सागर को मारने से पहले सुशील कुमार ने कुत्तों पर गोली क्यों चलाई थी?

दिल्ली पुलिस ने पहलवान सुशील कुमार के खिलाफ सनसनीखेज खुलासे किए हैं

कोरोना के केस बढ़े तो ICMR ने कहा, 'कोरोना मरीज़ के संपर्क में आ गए तो टेस्ट की ज़रूरत नहीं'

ICMR ने कहा, "जब लक्षण हों, तभी करवाएं टेस्ट," अब डॉक्टर लोग चिंता में.

पत्नी के रेप के आरोपी से लिया बदला, बम लगाकर चिथड़ा उड़ा दिया!

पुलिस ने सही समय पर किया अरेस्ट, दो और धमाके की प्लानिंग थी!