Submit your post

Follow Us

दिल्ली में अब किसी को कोरोना होता है तो पांच दिन सरकारी क्वांरटीन में रहना ही होगा

दिल्ली में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है. यहां पर अभी तक कोरोना के 53,116 मामले सामने आए हैं. इनमें से 27,512 एक्टिव केस हैं. ऐसे में दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने क्वारंटीन नियमों को लेकर आदेश जारी किया है. इसके तहत अब से कोरोना पॉजीटिव मरीज घर पर क्वारंटीन नहीं हो सकता है. उसे सरकार की ओर से चिन्हित जगहों पर रखा जाएगा.

नए नियमों के तहत,

# दिल्ली में अब किसी को भी कोरोना होता है तो उसे कम से कम पांच दिन के लिए संस्थानिक क्वारंटीन में रखा जाएगा.
# लक्षण कम होने पर ही किसी मरीज को घर जाने दिया जाएगा.
# अगर पांच दिन के अंदर लक्षण बढ़ जाते हैं या हालत बिगड़ जाती है तो उसे अस्पताल में शिफ्ट किया जाएगा.
# अभी जो मरीज घर पर क्वारंटीन हैं, उन सबका वैरिफिकेशन किया जाएगा.
# इसके लिए जिला मजिस्ट्रेट की निगरानी में जिला सर्विलांस ऑफिसर की टीम बनेगी. टीम घर-घर जाकर उनकी जांच करेगी.
# दिल्ली सरकार ने होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों को फोन पर सलाह देने का जिम्मा एक कंपनी को दिया था. एलजी ने उस कंपनी की सेवाएं भी समाप्त कर दी हैं.

एलजी ने कहा- घर पर रहने वाले मरीजों की नहीं हो पा रही मॉनिटरिंग

एलजी ने अपने आदेश में कहा है कि होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों की सही से मॉनिटरिंग नहीं हो रही. पता ही नहीं चल पा रहा है कि वे किसी दूसरे व्यक्ति के संपर्क से दूर हैं या नहीं. ऐसे में आशंका है कि बिना मॉनिटरिंग के होम आइसोलेशन के चलते भी दिल्ली में कोरोना फैल रहा है.

एलजी के आदेश से दिल्ली सरकार नाराज

वहीं दिल्ली सरकार ने एलजी के आदेश पर सवाल उठाए हैं. सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया कि होम आइसोलेशन की पहल कोरोना के खिलाफ चल रही निर्णायक लड़ाई में सबसे सफल रही है. हजारों ऐसे कोरोना मरीजों का उपचार किया गया है जिनमें संक्रमण के लक्षण नहीं थे, या कम थे. ऐसे मरीजों की हर दिन देखभाल कर रहे थे और काउंसलिंग कर रहे थे. आईसीएमआर के बताए अनुसार, होम आइसोलेशन प्रोटोकॉल का पालन कड़ाई से हो रहा था.

होम आइसोलेशन पर रोक से टेस्टिंग में कमी होगी?

दिल्ली सरकार ने कहा है कि होम आइसोलेशन ने ऐसे मरीजों को भी सामने आने में मदद की जिनमें कोरोना के हल्के लक्षण थे. उन्हें लगा कि जबरन उन्हें अस्पताल या क्वारनटीन सेंटर में नहीं भेजा जाएगा. ऐसे में उन्होंने टेस्ट कराया. आज का आदेश होम आइसोलेशन पर रोक लगा रहा है. ऐसे में लोग टेस्टिंग से परहेज करेंगे और कोरोना संक्रमण का फैलाव होगा. हल्के और मध्यम लक्षणों वाले पेशेंट भी कोरोना की जांच नहीं कराएंगे. होम आइसोलेशन पर रोक के चलते लोग टेस्टिंग से दूर भागेंगे.

भारत में कोरोना वायरस के मामलों का स्टेटस


Video: दिल्ली में कोरोना टेस्ट कराने पर अब पहले से कम पैसे लगेंगे!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

राज्यसभा की 18 सीटों में से कांग्रेस और बीजेपी ने कितनी जीतीं?

एक और पार्टी है जिसने कांग्रेस जितनी सीटें जीती हैं.

दिल्ली के हेल्थ मिनिस्टर सत्येंद्र जैन ऑक्सीजन सपोर्ट पर, दूसरे अस्पताल में शिफ्ट किए गए

कुछ दिन पहले कोरोना पॉज़िटिव आए थे, अब प्लाज़मा थेरेपी दी जाएगी.

चीनी सेना की यूनिट 61398, जिससे पूरी दुनिया के डेटाबाज़ डरते हैं

बड़ी चालाकी से काम करती है ये यूनिट.

गलवान घाटी में झड़प के बाद भी चीनी सेना मौजूद, 200 से ज्यादा ट्रक और टेंट लगाए

सैटेलाइट से ली गई तस्वीरों में यह सामने आया है.

पेट्रोल-डीजल के दाम में फिर से उबाल क्यों आ रहा है?

रोजाना इनके दाम घटने-बढ़ने की पूरी कहानी.

उत्तर प्रदेश में एक IPS अधिकारी के ट्रांसफर पर क्यों तहलका मचा हुआ है?

69000 भर्ती में कार्रवाई का नतीजा ट्रांसफर बता रहे लोग. मगर बात कुछ और भी है.

गलवान घाटी: LAC पर भारत के तीन नहीं, 20 जवान शहीद हुए हैं, कई चीनी सैनिक भी मारे गए

लड़ाई में हमारे एक के मुकाबले तीन थे चीनी सैनिक.

गलवान घाटीः वो जगह जहां भारत-चीन के बीच झड़प हुई

पिछले कुछ समय से यहां पर दोनों देशों की सेनाएं आमने-सामने हैं.

लद्दाख: गलवान घाटी में भारत-चीन झड़प पर विपक्ष के नेता क्या बोले?

सेना के एक अधिकारी समेत तीन जवान शहीद हुए हैं.

क्या परवीन बाबी की राह पर चल पड़े थे सुशांत?

मुकेश भट्ट ने एक इंटरव्यू में कहा.