Submit your post

Follow Us

दिल्ली पुलिस ने केजरीवाल के घर CCTV के बारे में चौंकाने वाला खुलासा किया है

आम आदमी पार्टी के साथ लाइन हो गई है. दोस्त ही दोस्त न रहा है. बात वीके जैन की हो रही है. माने दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के सलाहकार. वो अपने बयान से ही पलट गए हैं. दिल्ली के मुख्य सचिव अंशू प्रकाश की कथित पिटाई के मामले में वीके जैन ही वो शख्स थे, जिन्होंने मुख्य सचिव को फोन कर उस मीटिंग में बुलाया था, जिसमें बवाल हुआ. आम आदमी पार्टी के अनुसार जैन ने पहले पुलिस के सामने कहा था कि उन्होंने मुख्य सचिव को पिटते नहीं देखा था क्योंकि वो वॉशरूम में थे.

दिल्ली में मुख्य सचिव ने आप विधायकों प्रकाश जरवाल और अमानतुल्लाह पर मारपीट करने का आरोप लगाया है.
दिल्ली में मुख्य सचिव ने आप विधायकों प्रकाश जरवाल और अमानतुल्लाह पर मारपीट करने का आरोप लगाया है.

मगर कोर्ट में जब जज के सामने 164 के तहत उन्होंने बयान दिया तो उसमें पहले के बयान के मुकाबले कई तथ्य बढ़ गए. ऐसे तथ्य जो आम आदमी पार्टी के आरोपी विधायकों की मुश्किलें बढ़ा सकते हैं. क्या कहा, वो भी पढ़ें-

मैंने सीएम और डिप्टी सीएम के कहने पर रात 11 बजे मुख्य सचिव को मोबाइल पर फोन कर सीएम हाउस में कैंप मीटिंग में आने को कहा. फिर रात 11.20-25 के आसपास दोबारा फोनकर आने की बात कन्फर्म की. मैं रात 12 बजे सीएम हाउस पहुंचा. मेरे पहुंचने के चंद मिनटों बाद मुख्य सचिव भी आ गए. एक सोफे पर अमानतुल्लाह और प्रकाश लेफ्ट और राइट में बैठे थे. एक पर सीएम, डिप्टी सीएम व अन्य बैठे थे. मैं भी यहां काम कर रहा था. सीएम ने मुख्य सचिव से कहा- ये विधायक राशन व अन्य मुद्दों पर कुछ प्रश्न पूछना चाहते हैं. उनके जवाब दीजिए. बातचीत के दौरान माहौल गर्म हो गया. मैं टॉयलेट में फ्रेश होने चला गया. निकला तो देखा मुख्य सचिव का चश्मा फर्श पर पड़ा था और दोनों विधायक उन्हें पीट रहे थे.

केजरीवाल के सलाहकार वीके जैन.
केजरीवाल के सलाहकार वीके जैन.

सुनवाई के दौरान कोर्ट में मुख्य सचिव और विधायकों के वकील गर्मागर्म बहस भी हुई. विधायकों के वकील ने आरोप लगाया कि जैन के 161(माने पुलिस के सामने दिए) के बयान 21 फरवरी से पुलिस के पास हैं. वो क्यों नहीं पेश किए गए. कहा कि पुलिस विधायकों की जमानत में देरी करवाना चाहती है. उधर मुख्य सचिव के वकील ने मेडिकल रिपोर्ट का हवाला देते हुए विधायकों पर गैरइरादतन हत्या के प्रयास की धारा(308) लगाने की मांग की. कोर्ट ने सुनवाई के बाद गिरफ्तार विधायकों अमानतुल्लाह और प्रकाश जरवाल को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में तिहाड़ जेल भेज दिया है. 23 फरवरी की दोपहर दोनों विधायकों की जमानत की अर्जी खारिज कर दी गई है.

इस बयान के बाद आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने कहा कि सीएम के सलाहकार वीके जैन पर दबाव डालकर बयान बदलवा लिए गए हैं. आखिर वो कौन है, जिसके दबाव में ऐसा हुआ. यह दिल्ली में आप सरकार को गिराने की साजिश है. इसके अलावा इस मामले में ये कुछ और अपडेट हैं, जिनके बारे में आपको जान लेना चाहिए-

1. सीएम के घर पहुंची पुलिस ने किया बड़ा दावा

सीएम केजरीवाल के घर दिल्ली पुलिस भारी फोर्स के साथ पहुंची है. मकसद उन सीसीटीवी कैमरों को खंगालना था, जहां मुख्य सचिव की पिटाई की बात कही जा रही है. दिल्ली पुलिस ने करीब डेढ़-दो घंटे तक चली इस जांच में 21 कैमरों के फुटेज सीज किए हैं. हालांकि पुलिस का कहना है कि घटना वाले कमरे में सीसीटीवी कैमरा था ही नहीं. पुलिस ने सीसीटीवी में छेड़छाड़ की भी बात कही है. सीसीटीवी कैमरे के टाइम में चेंज करने की बात कही जा रही है. आम आदमी पार्टी का इस मामले में कहना है कि दिल्ली पुलिस सीएम आवास में पूछ रही है कि ‘इस कमरे की पेंटिंग कब हुई थी, प्लास्टर कब हुआ था? टॉयलेट कहां है? क्या पुलिस की इतनी हिम्मत है कि जस्टिस लोया केस में अमित शाह के घर इसी तरह घुसकर पूछताछ कर सके?

2. केजरीवाल के सामने ही एक विधायक धमका बैठे

सारा रायता फैला ही हुआ था कि इस बीच आम आदमी पार्टी के उत्तम नगर से विधायक नरेश बाल्यान एक और विवाद कर बैठे. एक सभा के दौरान सीएम अरविंद केजरीवाल के सामने ही ठोकने-पीटने की बातें करने लगे. बोले- जो चीफ सेक्रेटरी के साथ हुआ, जो इन्होंने झूठा आरोप लगाया, मैं तो कह रहा हूं ऐसे अधिकारियों को ठोकना चाहिए. जो आम आदमी के काम रोक के बैठे हैं, ऐसे अधिकारियों के साथ यही सलूक होना चाहिए.

3. ब्यूरोक्रेट्स रोज 5 मिनट का मौन रखेंगे

मुख्य सचिव की कथित पिटाई के मामले में 25 राज्यों के आईएएस असोसिएशन अंशू प्रकाश के समर्थन में आ गए हैं. वहीं दिल्ली में अधिकारियों ने रोज इस घटना के विरोध में 5 मिनट का मौन रखने की बात कही है. दिल्ली की आईएएस असोसिएशन, DANICS(दिल्ली, अंडमान एंड निकोबार आइलैंड सिविल सर्वेंट) और DASS(दिल्ली एडमिनिस्ट्रेशन सबऑर्डिनेट सर्विसेज) ने 22 फरवरी को ये फैसला किया है. तय किया गया है कि रोज 1.30 बजे सभी कर्मचारी अपने दफ्तर के बाहर ये मौन रख विरोध जताएंगे. बाकि दिल्ली सचिवालय और आप विधायकों के बीच बातचीत तो बंद ही हो रखी है. वो पहले ही साफ कर चुके हैं कि जब केजरीवाल माफी मागेंगे तभी वो किसी से मुलाकात करेंगे. वरना सिर्फ लिखित बातचीत होगी. इसे देखते हुए डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने सभी विभागों के हेड को हफ्ते में एक साथ बचे प्रपोजल्स की लिस्ट लिखित में देने को कहा है.

4. राजनाथ के घर के बाहर प्रदर्शन करने वाले हिरासत में लिए

सीएस के मामले में विधायक प्रकाश जरवाल की गिरफ्तारी के विरोध में 22 फरवरी को आप नेताओं ने गृह मंत्री राजनाथ सिंह के घर के बाहर प्रदर्शन किया. मौके से पुलिस ने दिल्ली के मंत्री आरपी गौतम, पांच विधायकों व अन्य प्रदर्शनकारियों को उठा लिया. माने हिरासत में ले लिया. हालांकि बाद में सभी को रिहा कर दिया गया आप के प्रवक्ता आशुतोष ने इस बात से नाराजगी जताई कि आप नेताओं पर तो कार्रवाई की गई मगर डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के घर के बाहर प्रदर्शन कर रहे बीजेपी नेताओं के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई.

5. बैजल को आप ने बताया बीजेपी एजेंट

आम आदमी पार्टी ने दिल्ली के लेफ्टिनेंट गवर्नर अनिल बैचल पर भी निसाना साधा है. उन्हें बीजेपी का एजेंट बताया है. आप के सांसद संजय सिंह ने कहा कि उनकी पार्टी के एमएलए तो मारपीट के मामले में बिना किसी सबूत के गिरफ्तार कर लिए जाते हैं. मगर सचिवालय में उनके मंत्री इमरान हुसैन के साथ बदसलूकी होने के मामले में वीडियो होने के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं की गई. दिल्ली पुलिस की ये कैसी कार्रवाई है. आप ने इसे एकतरफा कार्रवाई कहा है.

6. बीजेपी ने मांगा केजरीवाल का इस्तीफा

मुख्य सचिव की कथित पिटाई के मामले में विपक्षी पार्टियां भी सड़क पर उतरी हुई हैं. घरना-प्रदर्शन चल रहा है. 22 फरवरी को इसी क्रम में बीजेपी नेताओं ने दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के घर के बाहर प्रदर्शन किया. मांग की कि केजरीवाल और उनकी पार्टी के नेता मुख्य सचिव से माफी मांगें. उन्होंने आप नेताओं पर आरोपी विधायकों को बचाने का आरोप लगाया. कहा कि ये लोग शहर में अर्बन नैक्सलिस्म को बढ़ावा दे रहे हैं. सीएम और उनके मंत्रियों को इस्तीफा देना चाहिए.


ये भी पढ़ें-

दिल्ली में केजरीवाल सरकार और मुख्य सचिव की भिड़ंत के पीछे एक विज्ञापन है

अरविंद केजरीवाल की टेंशन बढ़ाने वाले ये तीन लोग कौन हैं?

खुलासा: अरविन्द केजरीवाल नहीं, उनका हमशक्ल है दिल्ली का मुख्यमंत्री!

केजरीवाल ने कुमार विश्वास को पैसों के मामले में चोट तो अब पहुंचाई है

देश की राजधानी में जिस तरह अंकित मरा, उससे बुरा कुछ नहीं हो सकता

क्या है ‘पिंक स्लिप’ जो नीरव मोदी बांट रहे हैं, और जिनको मिल रही है वो दुखी हैं

खून से लथपथ इस प्रेमी जोड़े को कौन गोली मारकर चला गया?

लल्लनटॉप वीडियो देखें-

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?