Submit your post

Follow Us

'अम्फान' तूफान से 72 लोगों की मौत, शुक्रवार को पश्चिम बंगाल जाएंगे पीएम मोदी

पीएम नरेंद्र मोदी पश्चिम बंगाल का दौरा करेंगे. अम्फान तूफान की वजह से राज्य के दक्षिणी हिस्से में नुकसान का आकलन करेंगे. पीएम मोदी शुक्रवार, 22 मई को पश्चिम बंगाल जाएंगे. वे सुबह 10.30 बजे कोलकाता एयरपोर्ट पर उतरेंगे. इसके बाद सीएम ममता बनर्जी के साथ कोलकाता सहित उत्तर और दक्षिण 24 परगना के प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण करेंगे.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पीएम मोदी से राज्य का दौरा करने की अपील की थी. सीएम ममता की अपील को स्वीकारते हुए पीएम मोदी बंगाल के दौरे पर जाएंगे और हालात का जायजा लेंगे.

अब तक 72 लोगों की मौत

सीएम ममता बनर्जी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि तूफान से 72 लोगों की जान गई है. ममता ने अपील की थी कि पीएम खुद आकर नुकसान देखें. हालांकि ममता बनर्जी के इस बयान से पहले ही पीएम मोदी ने ट्विटर पर नुकसान का संज्ञान ले लिया था. पीएम ने पश्चिम बंगाल सरकार को हरसंभव मदद का भरोसा दिया. था. पीएम ने ट्वीट किया था,

‘अम्फान के कारण पश्चिम बंगाल में हुई तबाही के विजुअल्स देख रहा हूं. यह काफी कठिन समय है. पूरा देश इस समय पश्चिम बंगाल के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है. राज्य के लोगों की बेहतरी के लिए हम कामना करते हैं. हालात सामान्य करने के प्रयास जारी हैं.

ये इलाके प्रभावित

पश्चिम बंगाल के हावड़ा, नॉर्थ 24 परगना, साउथ 24 परगना, ईस्ट मिदनापुर, हुगली और कोलकाता में तूफान से भारी तबाही हुई है. कहीं सड़क पर बिजली के खंभे गिरे हुए हैं, तो कहीं कारों पर बड़े पेड़. एनडीआरएफ और राज्य की आपदा राहत टीम बचाव कार्यों में जुटी हैं. तेज बारिश से जगह जगह सड़कों पर पानी भरा हुआ है. एयरपोर्ट पर खड़े जहाज कई फुट तक पानी में डूबे हुए दिख रहे हैं. देखकर लग ही नहीं रहा है कि ये एयरपोर्ट है. कई हैंगर, माने वो इमारत जिसके अंदर प्लेन खड़े किए जाते हैं, ढह गई हैं. हालांकि राज्य में तूफान से तबाही कितनी हुई, इसका आकलन अभी बाकी है.

ओडिशा में कम नुकसान

पश्चिम बंगाल के अलावा चक्रवात के रास्ते में ओडिशा भी आया. लेकिन ओडिशा में उतना नुकसान नहीं है. ओडिशा में 2 लाख 37 हजार लोगों को तूफान से पहले हटाकर टेंटों में रखा गया था. 90 फीसदी से ज्यादा लोग घर लौट चुके हैं. सरकार के मुताबिक, अगले 24 घंटे में वहां सब कुछ सामन्य हो जाएगा. ओडिशा ने भारतीय मौसम विभाग की तारीफ की है. ओडिशा के मुख्य सचिव एके त्रिपाठी ने कहा है कि मौसम विभाग के डीजी मृत्युजंय महापात्रा से सटीक जानकारी मिली थी. इसलिए पहले ही तैयारियां कर ली थी और नुकसान कम से कम हुआ.

ओडिशा के चार जिलों में चक्रवात का असर था. ओडिशा से पश्चिम बंगाल होते हुए चक्रवात 20 मई की रात 11.30 बजे बांग्लादेश में दाखिल हो चुका था. मौसम विभाग के मुताबिक, अभी चक्रवात बांग्लादेश में है और काफी कमजोर पड़ चुका है. मौसम विभाग ने अभी उत्तर-पूर्व के इलाकों में बारिश का अनुमान भी जताया है.

तूफान गुजर गया, लेकिन तबाही और सरकार की तैयारियों पर सवाल छोड़ गया. कोलकाता में चक्रवात की हवाओं की स्पीड करीब 130 किमी प्रति घंटा थी, लगभग उतनी ही जितनी मौसम विभाग ने बताई थी. चक्रवात की पहले से सारी जानकारी थी. इंफ्रास्ट्रक्चर के नुकसान को नहीं रोक सकते थे, लेकिन जो 72 जान गई, उनका आंकड़ा कम रखा जा सकता था. क्यों नहीं हुआ ये, पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार को बताना चाहिए.


‘अम्फान’ की खबर आई, तो NDRF की टीम पहले से ही खतरे वाले इलाकों पर तैनात हो गई!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

प्लेन और ट्रेन से जाने के लिए टिकट और किराए के नियम सरकार ने बताए हैं

जानिए, रेलवे के ऑफलाइन टिकट कहां से मिल सकते हैं.

क्या गुजरात में खराब वेंटीलेटर की वजह से 300 कोरोना मरीज़ों की मौत हो गई?

कांग्रेस ने विजय रूपाणी सरकार पर वेंटीलेटर घोटाले का आरोप लगाया है.

अब इस तारीख से देश के अंदर फ्लाइट्स से यात्रा कर सकेंगे

इससे पहले 200 नॉन एसी ट्रेन चलने की सूचना दी गई थी.

'अम्फान' आ चुका है, पश्चिम बंगाल में दो की मौत, कई घरों को नुकसान

ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में अपना असर दिखा रहा है.

प्रियंका गांधी ने जो गाड़ियां यूपी भेजी हैं, उनमें कितनी बसें हैं, कितने ऑटो?

छह सूचियों में कुल 1049 गाड़ियों की डिटेल्स भेजी गई है.

देशभर में 200 और ट्रेनें चलने की तारीख़ आ गई है

इस बार ख़ुद रेल मंत्री ने बताया है.

लॉकडाउन 4: दफ़्तरों के लिए क्या गाइडलाइंस हैं?

इस लॉकडाउन में तमाम तरह की छूट दी गई हैं.

प्रियंका गांधी वाड्रा की 1000 बसों में कुछ नंबर ऑटो और कार के कैसे निकल गए?

हालांकि संबित पात्रा ने भी जिस बस को स्कूटर बताया, वहां एक पेच है.

मज़दूरों की लाश की ऐसी बेक़द्री पर झारखंड के सीएम कसके गुस्साए हैं

घायल मज़दूरों के साथ अमानवीय व्यवहार करने का आरोप.

कोरोना की वैक्सीन को लेकर अच्छी खबर, जल्द ही आखिरी स्टेज का टेस्ट होने की उम्मीद

जुलाई के महीने को लेकर अहम बात भी कह डाली है.