Submit your post

Follow Us

समीर वानखेड़े मुसलमान हैं? पत्नी क्रांति रेडकर ने ट्वीट कर साफ कर दिया

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े के खिलाफ महाराष्ट्र सरकार के मंत्री नवाब मलिक के हमले और तीखे हो गए हैं. बीते हफ्ते नवाब मलिक ने समीर वानखेड़े पर सेलिब्रिटीज से वसूली करने का आरोप लगाया था. अब उन्होंने समीर के मुसलमान होने और इसके सबूत पेश करने का दावा किया है. नवाब मलिक ने दावा कर कहा है कि समीर दलित नहीं मुस्लिम हैं, उन्होंने आरक्षण कोटा में फर्जीवाड़ा कर IRS में नौकरी पाई.

बर्थ सर्टिफिकेट पेश किया

दरअसल नवाब मलिक ने एक जन्म प्रमाण पत्र जारी किया है. कहा है कि ये समीर वानखेड़े का बर्थ सर्टिफिकेट है. इसमें उनके पिता का नाम दाऊद के वानखेड़े और मां का नाम ज़ाहिदा बानो लिखा हुआ है. इस सर्टिफिकेट की तस्वीर शेयर करते हुए  नवाब मलिक ने लिखा है,

“Sameer Dawood Wankhede का यहीं से शुरू हुआ फर्जीवाड़ा… “समीर वानखेड़े एक फर्जी व्यक्ति है. इसका जन्म प्रमाण पत्र समीर दाऊद वानखेड़े का है. इसने जन्म प्रमाण पत्र में छेड़छाड़ की और उनके पिताजी ने धर्मांतरण करने के बाद जो नाम बदला था उसे दुरुस्त किया. इसी आधार पर उसने अपना जाति प्रमाण पत्र निकाला.”

इससे पहले नवाब मलिक ने वानखेड़े पर फिल्मी जगत को टार्गेट करने का आरोप लगाया था. NCP  के नेता ने समीर की दो पत्नी होने का भी दावा किया है.

आरोपों पर क्या बोले समीर वानखेड़े?

नवाब मलिक की तरफ से लगातार आरोप लगने पर समीर वानखेड़े ने बयान जारी किया है. इसमें उन्होंने कहा है,

“महाराष्ट्र सरकार के मंत्री नवाब मलिक ने कुछ दस्तावेज प्रकाशित किए हैं. उन्होंने मुझे “समीर दाऊद वानखेड़े” बताया है. मैं बताना चाहता हूं कि मेरे पिता ज्ञानदेव कचरूजी वानखेड़े हिंदू थे. मेरी मां जाहिदा एक मुस्लिम थीं. मैं सच्ची भारतीय परंपरा और एक सेक्यूलर परिवार से ताल्लुक रखता हूं. मुझे अपनी विरासत पर गर्व है.”

बयान में वानखेड़े ने अपनी शादीशुदा जिंदगी को लेकर सफाई रखी. उन्होंने कहा,

“मैंने 2006 में डॉ. शबाना कुरैशी से एक सिविल कोर्ट में शादी की थी. 2016 में हम दोनों का तलाक हो चुका है. 2017 में मैंने क्रांति दीनानाथ रेडकर से शादी की.”

बयान में एनसीबी के जोनल डायरेक्टर ने नवाब मलिक पर आरोप लगाया कि वे उनकी और उनके परिवार की निजता पर हमला कर रहे हैं. समीर ने कहा,

“ट्विटर पर मेरे निजी दस्तावेज़ों का प्रकाशन मेरे परिवार की निजता पर हमला है. इसका उद्देश्य मुझे और मेरे परिवार को बदनाम करना है. माननीय मंत्री के इन निजी हमलों ने मुझे और मेरे परिवार को जबर्दस्त मानसिक और भावनात्मक दबाव में डाल दिया है. मैं इससे आहत हूं.”

समीर वानखेड़े के बाद उनकी पत्नी और अभिनेत्री क्रांति रेडकर ने भी ट्वीट किया है. इसमें उन्होंने लिखा है,

“मैं और मेरे पति समीर हिंदू पैदा हुए. हमने कभी भी दूसरा धर्म नहीं अपनाया. हम सभी धर्मों का सम्मान करते हैं. समीर के पिता भी हिंदू हैं. उन्होंने मेरी मुस्लिम मां से शादी की. वो अब इस दुनिया में नहीं हैं. समीर की पिछली शादी स्पेशल मैरिज ऐक्ट के तहत हुई थी. 2016 में उनका तलाक हो गया. हमने 2017 में हिंदू विवाह किया था.”

पत्नी क्रांति रेडकर के अलावा समीर वानखेड़े के पिता ने भी अपनी पहचान साफ की है. आजतक की रिपोर्ट के मुताबिक उन्होंने कहा है कि उनका नाम ‘दाऊद’ वानखेड़े नहीं, ज्ञानदेव वानखेड़े है. उन्होंने अपने नाम के साथ दाऊद लगाने वाले दावे को झूठा करार दिया है.

आजतक से जुड़े दिव्येश सिंह और पंकज खेलकर की रिपोर्ट के मुताबिक, दरअसल समीर के ताऊ ने कहा था कि ज्ञानदेव वानखेड़े जिस इलाके में रहते थे, वो मुस्लिम बहुल है. और वहां के लोग उन्हें दाऊद कहकर पुकारते थे. इसी पर ज्ञानदेव का जवाब आया. उन्होंने कहा कि दाऊद नाम से उनका कोई संबंध नहीं है.

बता दें कि मुंबई क्रूज ड्रग केस के एक गवाह ने दावा किया था कि समीर वानखेड़े के वाशिम जिला स्थित पैतृक गांव में लोग उनके पिता को दाऊद कहकर बुलाते थे.

कौन हैं समीर वानखेड़े?

2008 बैच के IRS अधिकारी हैं. वे महाराष्ट्र पुलिस के रिटायर्ड अधिकारी ज्ञानदेव कचरूजी वानखेड़े के बेटे हैं. वर्तमान में समीर वानखेड़े मुंबई में NCB के जोनल डायरेक्टर हैं. वे एसटी कोटे से IRS में आए थे. इससे पहले समीर एयर इंटेलिजेंस यूनिट में डिप्टी कमिश्नर और NIA में एडिश्नल एसपी रह चुके हैं. वे मुंबई एयरपोर्ट पर असिस्टेंट कमिश्नर भी रहे हैं. उस दौरान उन्होंने कई मशहूर हस्तियों को कस्टम ड्यूटी ना चुकाने पर पकड़ा था.

समीर वानखेड़े के नेतृत्व में पिछले दो सालों में करीब 17 हजार करोड़ रुपये के नशे और ड्रग्स रैकेट का पर्दाफाश किया गया है. पिछले साल ही समीर वानखेड़े को DRI से NCB में ट्रांसफर किया गया था. बतौर नारकोटिक्स ऑफिसर उन्हें ड्रग केसेस का एक्सपर्ट माना जाता है. इसी साल जनवरी महीने में समीर ने कथित रूप से ड्रग्स से जुड़े एक मामले में नवाब मलिक के दामाद को गिरफ्तार किया था. कई लोगों और राजनीति प्रतिद्वंद्वियों का कहना है कि इसी वजह से नवाब मलिक एनसीबी अधिकारी के खिलाफ लगातार मुखर हैं.


वीडियो- नवाब मलिक के आरोपों पर समीर वानखेड़े के बचाव में NCB क्या बोली?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सावरकर की जीवनी लिखने वाले विक्रम संपत को दिल्ली हाई कोर्ट ने क्या बड़ी राहत दी है?

सावरकर की जीवनी लिखने वाले विक्रम संपत को दिल्ली हाई कोर्ट ने क्या बड़ी राहत दी है?

इतिहासकार विक्रम संपत पर सावरकर की जीवनी के लिए कंटेंट चोरी करने का आरोप है.

कर्नाटक: अब कुमकुम लगाने पर छात्रा को कॉलेज में नहीं घुसने देने का आरोप

कर्नाटक: अब कुमकुम लगाने पर छात्रा को कॉलेज में नहीं घुसने देने का आरोप

बजरंगदल ने विरोध प्रदर्शन किया है, शिक्षा मंत्री बोले- कुमकुम शृंगार की चीज है.

दीप सिद्धू एक्सीडेंट मामले में गिरफ्तार ड्राइवर को कोर्ट ने जमानत दे दी

दीप सिद्धू एक्सीडेंट मामले में गिरफ्तार ड्राइवर को कोर्ट ने जमानत दे दी

पुलिस ने दो दिन की रिमांड की मांग की थी.

अहमदाबाद सीरियल ब्लास्ट: 38 दोषियों को मौत की सजा, 11 को उम्रकैद

अहमदाबाद सीरियल ब्लास्ट: 38 दोषियों को मौत की सजा, 11 को उम्रकैद

2008 में हुए धमाकों में 56 लोगों की जान गई थी

नेहरू का नाम लेकर सिंगापुर के PM क्या बोले कि भारत सरकार ने वहां के राजदूत को समन जारी कर दिया?

नेहरू का नाम लेकर सिंगापुर के PM क्या बोले कि भारत सरकार ने वहां के राजदूत को समन जारी कर दिया?

लोकतंत्र कैसे चलता है, इस विषय पर बोल रहे थे सिंगापुर के पीएम ली सीन लूंग.

गुजरात: स्कूल में गोडसे की तारीफ में भाषण देने पर बच्चे को इनाम, प्रशासन ने विषय को मंजूरी दी थी

गुजरात: स्कूल में गोडसे की तारीफ में भाषण देने पर बच्चे को इनाम, प्रशासन ने विषय को मंजूरी दी थी

विषय था, 'नाथूराम गोडसे: मेरे आदर्श या हीरो'.

गाजियाबाद में हिजाब पहन कर प्रदर्शन कर रही महिलाओं को यूपी पुलिस ने क्यों पीटा?

गाजियाबाद में हिजाब पहन कर प्रदर्शन कर रही महिलाओं को यूपी पुलिस ने क्यों पीटा?

घटना का वीडियो वायरल है, लोग गुस्से में हैं.

छत्तीसगढ़: माओवादियों ने अगवा किए इंजीनियर और राजमिस्त्री को छोड़ा

छत्तीसगढ़: माओवादियों ने अगवा किए इंजीनियर और राजमिस्त्री को छोड़ा

अपहरण के वक्त इंजीनियर अशोक पवार बीजापुर में एक पुल के निर्माण कार्य में लगे थे.

इस शख्स ने फर्जी डॉक्टर बनकर सात राज्यों में 14 महिलाओं से शादी की, उनसे पैसे लेकर निकल गया

इस शख्स ने फर्जी डॉक्टर बनकर सात राज्यों में 14 महिलाओं से शादी की, उनसे पैसे लेकर निकल गया

नेटफ्लिक्स डॉक्युमेंट्री 'द टिंडर स्विंडलर' का साइमन लिवाय याद आ गया.

ABG शिपयार्ड को सस्ती जमीन देना 'गैरकानूनी' था, CAG की रिपोर्ट पर विपक्ष ने मोदी को घेरा

ABG शिपयार्ड को सस्ती जमीन देना 'गैरकानूनी' था, CAG की रिपोर्ट पर विपक्ष ने मोदी को घेरा

1.21 लाख स्क्वायर मीटर ज़मीन आधे दाम में दे दी गई थी.