Submit your post

Follow Us

'क्राइम पेट्रोल' के एक्टर और 'बाग़बान' के स्क्रीनराइटर की कैंसर से मौत हो गई

बीते दिनों में इरफ़ान और ऋषि कपूर की कैंसर की वजह से देहांंत हो गया. इस घातक बीमारी ने अब एक और एक्टर को अपना शिकार बना लिया. इनका नाम है शफ़ीक़ अंसारी, जिन्होंने सोनी टीवी के पॉपुलर शो ‘क्राइम पेट्रोल’ में कई साल तक एक्टिंग की. कभी चोर, तो कभी पुलिस के रोल में.

सिंटा (सिने एंड टीवी आर्टिस्ट्स एसोसिएशन) ने उनकी मौत पर शोक जताते हुए ट्विटर पर लिखा:

“सिंटा शफ़ीक़ अंसारी की मृत्यु पर गहरी संवेदना प्रकट करती है. वे जून, 2008 से मेंबर थे.” 

‘टेलीचक्कर’ की एक रिपोर्ट में बताया गया है कि शफ़ीक़ पेट के कैंसर से पीड़ित थे. कई साल तक बीमारी से लंबी लड़ाई लड़ते रहे. इस रविवार को उन्होंने आखिरी सांस ली. बताया जा रहा है कि बीमार होने के कारण वे काफ़ी समय से एक्टिंग नहीं कर पा रहे थे. इसलिए उन्हें आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ा. उनके दोस्त ने उनके नाम से एक फेसबुक पेज बनाया था, ताकि उनके इलाज के लिए लोगों से चंदा इकट्ठा किया जा सके. उसी पैसे से उनका इलाज चल रहा था. उनके घर में उनकी पत्नी और तीन बेटियां हैं.

शफ़ीक़ ने लिखी थी सुपरहिट फिल्में

शफ़ीक़ ने अपने करियर की शुरुआत असिस्टेंट डायरेक्टर और स्क्रीनराइटर के रूप में की. उन्होंने दलाल गुहा द्वारा डायरेक्ट की गई सुपरहिट फिल्म ‘प्रतिज्ञा’ (1975) के स्क्रीनप्ले पर काम किया. इस फिल्म में धर्मेंद्र, हेमा मालिनी और अजित मुख्य रोल में थे. 1979 में दलाल गुहा ने फिर से धर्मेंद्र और हेमा की जोड़ी को डायरेक्ट किया फिल्म ‘दिल का हीरा’ में. इस फिल्म को लिखने वालों में भी शफ़ीक़ मुख्य लेखक थे.

1990 में शफ़ीक़ ने गोविंदा, दिलीप कुमार और माधुरी दीक्षित स्टारर फिल्म ‘इज़्ज़तदार’ (1990) की स्क्रिप्ट लिखी. ‘प्यार हुआ चोरी चोरी’ (1991) के डायलॉग लिखने में उनका योगदान रहा. वे 2003 की फिल्म ‘बाग़बान’ का स्क्रीनप्ले लिखने वाले चार लेखकों में से एक थे.

‘क्राइम पेट्रोल’ के अलावा उन्होंने दर्जनों सीरियल में एक्टिंग की.


वीडियो देखें: नेटफ्लिक्स की सीरीज़ ‘बेताल’ का ट्रेलर देख ‘तुम्बाड’ वाला फील आएगा!   

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

चीन से ठगे जाने के बाद इंडिया ने अपनी टेस्टिंग किट बनाई, कैसे काम करेगी?

किसने बनाई ये टेस्टिंग किट?

कॉन्स्टेबल साब ने दिल्ली में शराब वितरण का लेटेस्ट तरीका निकाला था, नप गए

दिल्ली में शराब की दुकानों पर भीड़ बहुत ज़्यादा है.

12 मई से चलने वाली ट्रेनों के स्टॉपेज, टाइम टेबल और नियम क़ानून की जानकारी यहां देखिए

किस-किस दिन चलेंगी ट्रेनें?

कोरोना: सुपर स्प्रेडर क्या होते हैं और ये इतने खतरनाक क्यों हैं कि अहमदाबाद में सब कुछ बंद करना पड़ा

अहमदाबाद में 14 हजार सुपर स्प्रेडर होने की आशंका जताई जा रही है.

प्रवासी मजदूरों को लेकर यूपी और राजस्थान की पुलिस में पटका-पटकी हो गई है!

डीएम और एसपी मौके पर पहुंचे तब मामला शांत हुआ.

मंत्री मुख़्तार अब्बास नकवी बोले-तबलीगी जमात की वजह से लॉकडाउन बढ़ाना पड़ा

ये भी कहा-तबलीग़ियों का गुनाह हिंदुस्तान के मुसलमानों का का गुनाह नहीं है.

कोरोना का नियम बदला, अब बिना टेस्ट ही घर भेजे जाएंगे कम बीमार मरीज

जानिए क्या है सरकार की नई गाइडलाइंस.

दवा बेची, समाजसेवा की, फिर पता चला ख़ुद ही कोरोना पॉज़िटिव हैं, अब जेल हो गई

बनारस के दवा व्यापारी ने कई लोगों को बांटा कोरोना.

क्या सोशल डिस्टेंसिंग से चूकने की इतनी बुरी सज़ा देगी पुलिस?

किसी एक पुलिसवाले का ऐसा करना बाकियों की मेहनत पर पानी फेर देता है.

उदयपुर में एक ही दिन में कोरोना वायरस के 58 केस सामने आए

राजस्थान में मरीज़ों की संख्या तीन हज़ार से ऊपर पहुंच चुकी है.