Submit your post

Follow Us

दिल्ली: पिज्जा पहुंचाने वाला शख़्स निकला कोरोना पॉजिटिव, अब इतने सारे लोग क्वारंटीन किए जा रहे हैं

कोरोना वायरस की वजह से देशभर में लॉकडाउन है. लेकिन ऑनलाइन फ़ूड डिलीवरी सिस्टम उन इलाकों में काम कर रहा है, जो हॉटस्पॉट नहीं हैं, या जिन्हें अब तक सील नहीं किया गया है. अब दिल्ली में 72 लोगों को क्वारंटीन कर दिया गया है. वजह ये कि इन्होंने पिज्जा की होम डिलीवरी करवाई थी और डिलीवरी बॉय कोरोना पॉजिटिव मिला है.

‘इंडियन एक्सप्रेस’ की एक ख़बर के अनुसार, पिज्जा डिलीवरी बॉय मार्च के आखिरी सप्ताह तक ड्यूटी कर रहा था. पिछले हफ्ते उसकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. इस बात की जानकारी मिलते ही प्रशासन ने उसके संपर्क में आए लोगों की जानकारी जुटाई. इसके बाद 72 लोगों को क्वारंटीन कर दिया.

# क्या है मामला?

पिज्जा डिलीवरी करने वाले इस शख्स ने दक्षिण दिल्ली के कई इलाकों में पिज्जा डिलीवर किया था. इनमें हौज खास और मालीवीय नगर भी थे. साउथ दिल्ली के डीएम बी.एम. मिश्रा ने बताया कि फिलहाल इसके संपर्क में आए 72 लोगों को होम क्वारंटीन कर दिया गया है. हालांकि अभी तक उनके कोरोना टेस्ट नहीं किए गए हैं. अगर उनमें से किसी में कोरोना के लक्षण दिखते हैं, तो सभी का टेस्ट किया जाएगा. अधिकारियों ने अभी तक पिज्जा डिलीवरी बॉय और उन 72 लोगों की पहचान उजागर नहीं की है.

‘इंडियन एक्सप्रेस’ की ख़बर के अनुसार, पिज्जा डिलीवरी बॉय को अपने कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी तब मिली, जब वो अपने डायलिसिस के लिए अस्पताल गया. डॉक्टरों को उसमें कोरोना के लक्षण दिखे, जिसके बाद टेस्ट किया गया. टेस्ट रिपोर्ट में वह कोरोना पॉजिटिव मिला. अब उसका इलाज चल रहा है. कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान कर रही टीम उन 72 लोगों पर भी नजर बनाए हुए है. अगर किसी में भी कोरोना के लक्षण दिखते हैं, तो उनका तत्काल टेस्ट करवाया जाएगा.

इस मामले में हालांकि अब तक ये नहीं पता चला कि शख्स कहां काम करता था. लेकिन लॉकडाउन के दौरान घर में ही रहने वाले लोग इस घटना के बाद डरे हुए हैं. घर बैठे संक्रमण का ख़तरा कौन मोल लेना चाहेगा?


ये वीडियो भी देखें:

मुंबई पुलिस ने बांद्रा मामले में जिस विनय दुबे को पकड़ा, उसने मोदी सरकार को क्या चैलेंज दिया था?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह नहीं रहे, पीएम मोदी ने कहा- "बातें याद रहेंगी"

जसवंत सिंह अटल सरकार के कद्दावर मंत्रियों में से थे.

IPL2020 के जरिए टीम इंडिया में आएगा फाजिल्का का ये लड़का?

सबकी उम्मीदें शुभमन गिल से लगी है.

आप दीपिका और रकुल प्रीत में उलझे रहे और राजस्थान में इतना बड़ा कांड हो गया!

दो दिन से बवाल चल रहा है.

मोदी सरकार ने भ्रष्टाचार रोकने वाले इस क़ानून को जरूरी बनाने की बात से पलटी मार ली

और यह जानकारी ख़ुद सरकार ने दी है.

किसान कर्फ्यू से पहले किसानों ने कहां-कहां ट्रेन रोक दी है?

कई ट्रेनों को कैंसिल किया गया, कई के रूट बदले गए.

केंद्रीय मंत्री सुरेश अंगड़ी का कोविड-19 से निधन

दिल्ली के एम्स में उनका इलाज चल रहा था.

धोनी का वर्ल्ड कप जिताने वाला सिक्सर याद है! वो अब स्टेडियम में अमर होने वाला है

भारत में किसी खिलाड़ी को जो मुकाम हासिल नहीं हुआ, वो अब धोनी को मिलने वाला है.

अंतरिक्ष में भी लद्दाख जैसी हरकतें कर रहा है चीन

भारत के सैटेलाइट पर है ख़तरा!

चुनाव लड़ने के लिए गुप्तेश्वर पांडे ने दूसरी बार पुलिस सेवा से रिटायरमेंट ले ली है

2009 में भी गुप्तेश्वर पांडे ने वीआरएस लिया था, पर तब बीजेपी ने टिकट नहीं दिया था.

दिल्ली दंगे के लिए पुलिस ने अब इस ग्रुप को जिम्मेदार ठहराया है

चार्जशीट में दिल्ली पुलिस ने और क्या कहा है?