Submit your post

Follow Us

लॉकडाउन: पुलिस ने भीड़ जमा करने से मना किया तो महिला तलवार लहराने लगी

कोरोना वायरस को लेकर देश भर में 21 दिन का कंप्लीट लॉकडाउन है. आप ना सड़क पर निकलें ना ही किसी सार्वजनिक जगह पर इकट्ठा हों, ऐसा आदेश है. लेकिन इन सब के बीच उत्तर प्रदेश के देवरिया में एक महिला, जो खुद को ‘मां आदिशक्ति’ बता रही थी, बुधवार, 25 मार्च की सुबह कुछ लोगों को इकट्ठा करके धार्मिक सभा करने लगी. मना करने वह पुलिस को ही तलवार दिखाने लगी.

न्यूज चैनल NDTV के रिपोर्टर आलोक पांडेय ने अपने ट्वीटर पर एक वीडियो शेयर किया है. वीडियो में एक महिला लाल साड़ी में तलवार लेकर खड़ी है. पीछे कुछ लोग भी खड़े हैं. पुलिस के लोग सामने से धारा 188 का हवाला देते हुए उसे वहां खड़ा होने से मना कर रहे हैं. महिला तलवार दिखाते हुए कुछ कह रही है.

क्या है मामला

देवरिया के मेहरापुरा कोतवाली क्षेत्र में पुरवां चौराहे पर रहने वाली यह महिला खुद को मां आदिशक्ति देवी बताती है. झाड़-फूंककरती है. महिला ने अपना एक आश्रम भी बना रखा है. अक्सर उस आश्रम में आयोजन भी होते हैं. बताया जाता है कि आसपास के जिलों और बिहार से भी लोग आते हैं. बुधवार, 25 मार्च को भी यहां एक आयोजन था जिसमें लोग इकट्ठा हुए थे. लेकिन लॉकडाउन के कारण पुलिस ने जब किसी भी तरह के आयोजन के लिए मना किया तो यह महिला तलवार लेकर सामने आ गई. पुलिस को चले जाने को कहती रही. और फिर झड़प भी हो गई. बाद में पुलिस उसे थाने ले गई. और गिरफ्तार करके जेल भेज दिया. पुलिसल ने महिला के साथ 12 अन्य लोगों को भी गिरफ्तार किया है.

मेहरापुरा की डीएसपी निष्ठा उपाध्याय ने लल्लनटॉप को बताया,

हमें सूचना मिली कि मेहरापुरा इलाके में कोई 70-80 की संख्या में लोग इकट्ठा हैं.  पहुंचने पर पता चला कि यह महिला जिसका नाम सुभद्रा देवी है, झाड़-फूंक करती है. हमने धारा 188 और कोरोना के लिए एहतियात का हवाला देते हुए जब इसे यहां से चले जाने को कहा तो यह पुलिस को तलवार दिखा कर वापस जाने को कहने लगी. इसके बाद हमने कार्रवाई की. 


वीडियो देखें: क्या कोरोना को क्लोरोक्विन और हाईड्रौक्सीक्लोरोक्विन जैसी दवा ठीक कर सकती हैं?

वीडियो देखें:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

लॉकडाउन-5 को लेकर किस तरह के प्रपोज़ल सामने आ रहे हैं?

कई मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि 31 मई के बाद लॉकडाउन बढ़ सकता है.

क्या जम्मू-कश्मीर में फिर से पुलवामा जैसा अटैक करने की तैयारी में थे आतंकी?

सिक्योरिटी फोर्स ने कैसे एक्शन लिया? कितना विस्फोटक मिला?

लद्दाख में भारत और चीन के बीच डोकलाम जैसे हालात हैं?

18 दिनों से भारत और चीन की फौज़ आमने-सामने हैं.

शादी और त्योहार से जुड़ी झारखंड की 5000 साल पुरानी इस चित्रकला को बड़ी पहचान मिली है

जानिए क्या खास है इस कला में.

जिस मंदिर के पास हजारों करोड़ रुपये हैं, उसके 50 प्रॉपर्टी बेचने के फैसले पर हंगामा क्यों हो गया

साल 2019 में इस मंदिर के 12 हजार करोड़ रुपये बैंकों में जमा थे.

पुलवामा हमले के लिए विस्फोटक कहां से और कैसे लाए गए, नई जानकारी सामने आई

पुलवामा हमला 14 फरवरी, 2019 को हुआ था.

दो महीने बाद शुरू हुई हवाई यात्रा, जानिए कैसा रहा पहले दिन का हाल?

दिल्ली में पहले दिन 80 से ज्यादा उड़ानें कैंसिल क्यों करनी पड़ी?

बलबीर सिंह सीनियर: तीन बार के हॉकी गोल्ड मेडलिस्ट, जिन्होंने 1948 में इंग्लैंड को घुटनों पर ला दिया था

हॉकी लेजेंड और भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और कोच बलबीर सिंह सीनियर का 96 साल की उम्र में निधन.

दूसरे राज्य इन शर्तों पर यूपी के मजदूरों को अपने यहां काम करने के लिए ले जा सकते हैं

प्रवासी मजदूरों को लेकर सीएम योगी ने बड़ा फैसला किया है.

ऑनलाइन क्लास में Noun समझाने के चक्कर में पाकिस्तान की तारीफ, टीचर सस्पेंड

टीचर शादाब खनम ने माफी भी मांगी, लेकिन पैरेंट्स ने शिकायत कर दी.