Submit your post

Follow Us

लॉकडाउन: सरकार ने एक बड़ी छूट दे दी है, लेकिन फायदा आपको मिलेगा नहीं

सरकार ने सभी तरह के टोल कलेक्शन पर रोक लगा दी है. कब तक? 15 अप्रैल तक. लेकिन राज्यों के बॉर्डर तो सील हैं और ज़रूरी सामान वाले वाहनों को ही आवाजाही की इजाज़त है.

केंद्रीय सड़क-परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने ट्वीट कर बताया, ‘COVID-19 को देखते हुए पूरे भारत के सभी टोल प्लाज़ा पर अस्थायी रूप से टोल कलेक्शन पर रोक लगा दी गई है. इससे इमरजेंसी सप्लाई में आने वाली दिक्कतें कम होंगी बल्कि समय की भी बचत होगी.’ उन्होंने कहा कि सड़कों का रख-रखाव और टोल प्लाज़ा पर इमरजेंसी सर्विसेज ज़ारी रहेंगी.

शहरों के अलावा टोल प्लाज़ा पर भी गाड़ियों के गुजरने के लिए कर्फ्यू पास की ज़रूरत होगी. इनमें एंबुलेंस और ज़रूरी सामान वाले वाहन शामिल हैं.

ज़रूरी सामानों के लिए कंट्रोल रूम

डिपार्टमेंट ऑफ इंडस्ट्री एंड इंटरनल ट्रेड (DPIIT) ने 21 दिन के लॉकडाउन के दौरान ज़रूरी सामानों की आवाजाही की रियल टाइम मॉनिटरिंग के लिए एक कंट्रोल रूम बनाया है. DPIIT की ओर से कहा गया है कि अगर किसी ट्रांसपोर्टर, डिस्ट्रीब्यूटर, थोक विक्रेता या ई-कॉमर्स कंपनी को ज़मीनी स्तर पर कोई समस्या होती है तो वो कंट्रोल रूम में संपर्क कर सकता है. किसी भी समस्या की स्थिति में टेलीफोन नंबर 91 11 23062487 पर सुबह 8 बजे से शाम 6 बजे तक संपर्क किया जा सकता है. इसके अलावा कंट्रोल रूम को dpiit@gov.in पर शिकायत मेल भी की जा सकती है.

WHO ने कहा है कि कोरोना का भविष्य इस बात पर निर्भर करेगा कि भारत इससे कैसे डील करता है. इसके दुनियाभर में साढ़े चार लाख से ज़्यादा मामले सामने आ चुके हैं और 21,577 लोगों की मौत हो चुकी है.


तेलंगाना के सीएम ने कहा, लॉकडाउन तोड़ने वालों के लिए ये आखिरी चेतावनी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

पूरा देश लॉकडाउन है और हरियाणा के इस कॉलेज में लेक्चर पर लेक्चर हो रहे हैं

कॉलेज वाले कह रहे सरकार ने कोई ऑर्डर नहीं दिया!

सरकार ने दिया कोरोना पर राहत पैकेज, 80 करोड़ को मुफ्त अनाज और बहुत कुछ

वित्त मंत्री ने कहा, हर व्यक्ति के हाथ में अन्न और धन हमारी पहली प्राथमिकता.

कोरोना के बीच सरकार ने गठिया वाली दवा के एक्सपोर्ट पर रोक क्यों लगा दी?

इस दवा का कोरोना के इलाज में क्या रोल है?

रात को लॉकडाउन के कायदे बताने के बाद सुबह हुजूम के बीच कहां निकल गए सीएम योगी?

सीएम ने लोगों से कहा था, 'घर पर ही रहें, बाहर न निकलें.'

21 दिन के लॉकडाउन में आपको कौन-कौन सी छूट मिलेगी, यहां जान लीजिए

कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए पूरा देश 15 अप्रैल तक लॉकडाउन रहेगा.

आज आधी रात से पूरे देश में 21 दिन का लॉकडाउन, पीएम बोले- एक तरह से ये कर्फ्यू ही है

कोरोना वायरस के खिलाफ सबसे बड़ा फैसला.

कोरोना वायरस: उत्तर प्रदेश के 17 नहीं, अब पूरे 75 जिलों को लॉकडाउन कर दिया गया है

देश में कोरोना वायरस इंफेक्शन के मामले 500 से ऊपर जा चुके हैं.

3 महीने तक ATM से पैसे निकलना फ्री, अब मिनिमम बैलेंस का भी झंझट नहीं

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में ऐलान किया.

कोरोना वायरस की वजह से अब जो काम रुका है, उसका असर 17 राज्यों पर पड़ेगा

क्या मतलब निकला इतनी उठा-पटक का?

चौथी बार MP के सीएम बने शिवराज, बोले- कोरोना से मुकाबला मेरी पहली प्राथमिकता

शिवराज सिंह चौहान ने शपथ लेते ही ये रिकॉर्ड भी बना दिया है.