Submit your post

Follow Us

छंटनी के खतरे के बीच इस कंपनी का फैसला जानने के बाद आप कहेंगे कि काश यहीं जॉब करता!

कोरोना और लॉकडाउन की वजह से कई लोगों की नौकरियां खतरे में हैं. छंटनी का डर सता रहा है. सैलरी कम की जा रही है. ऐसे समय में देश की सबसे बड़ी पेंट्स बनाने वाली कंपनी एशियन पेंट्स ने अपने कर्मचारियों की जिंदगी में रंग भरने का काम किया है. कंपनी अपने कर्मचारियों का मनोबल बढ़ाने के लिए उनकी सैलरी बढ़ा रही है.

कंपनी के MD और CEO अमित सिंगल ने कहा,

हमने सही नेतृत्व और अपने सभी पक्षकारों के हितों का ध्यान रखने वाले संगठन का उदाहरण खड़ा किया है. इन सभी कदमों की जानकारी मैं बोर्ड को देता रहा हूं. इनके लिए बोर्ड से मंजूरी भी लेता रहा हूं. मौजूदा स्थिति को मैं हर एक कर्मचारी से जुड़ने और उनकी चिंता दूर करने के एक अवसर के तौर पर देखता हूं. हम हायर और फायर के बिजनेस में नहीं हैं. एक परिपक्व ब्रांड के रूप में हमने अपने कर्मचारियों को आश्वस्त किया है कि आज की स्थिति में हम एकजुट हैं.

इकॉनोमिक टाइम्स की खबर के मुताबिक, कंपनी ने बिक्री चैनलों की भी मदद का भी फैसला किया है. एशियन पेंट्स हॉस्पिटलाइजेशन, बीमा और पार्टनर के स्टोर के लिए सैनिटाइजेशन की पूरी सुविधा और सीधे कैश सहायता दे रही है. कंपनी ने अपने कांट्र्रैक्टर्स के खाते में 40 करोड़ रुपए भी ट्रांसफर किए हैं.

सरकार के राहत कोष में भी पैसे डाले

इतना ही नहीं, कंपनी ने केंद्र और राज्य सरकारों के COVID-19 राहत कोष में 35 करोड़ रुपए दिए हैं. कंपनी सैनिटाइजर भी बना रही है. इसका आइडिया रसायन मंत्रालय से मिला. कंपनी वायरोप्रोटेक ब्रांड नाम से हैंड और सरफेस सैनिटाइजर बना रही है. इन उत्पादों के साथ कंपनी ने हेल्थ और हाइजीन सेगमेंट में भी कदम रख दिया है.

सिंगले ने कहा कि कंपनी कैश फ्लो को लेकर सतर्क है. जहां संभव है, खर्च को आगे के लिए टाल रही है. कई साल से कर्ज मुक्त कंपनी है. अनिश्चितता का दौर 4-5 महीने और चले, तब भी कंपनी की सेहत पर विशेष फर्क नहीं पड़ने वाला है. कंपनी ने मार्च में बड़ा लाभांश दिया था. शेयर होल्डर्स को रिटर्न देना कंपनी की शीर्ष प्राथमिकता है.

क्रूड की कीमत में गिरावट से कंपनी को फायदा हुआ है, क्योंकि कंपनी के रॉ मेटेरियल लागत में 30-35 फीसदी योगदान क्रूड ऑयल डेरिवेटिव्स का होता है. हालांकि कोरोना वायरस की वजह से कंपनी की सेल और प्राइसिंग पर असर पड़ा है.


दिल्ली में गेस्ट टीचर्स की सैलरी पर आई आफ़त, अब नहीं मिलेगी पगार!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

बंगाल में हफ्तेभर से क्या बवाल चल रहा है, जिसमें 129 लोग गिरफ्तार हो चुके हैं

‘तुम कोरोना फैला रहे हो’ कहकर हमला किया, हिंसा भड़की.

लंबे वक्त तक क्रिकेट के नक्शे पर पाकिस्तान को जिंदा रखा था इस जोड़ी ने

वो दिन, जब मिस्बाह-उल-हक़ और यूनिस खान ने क्रिकेट को अलविदा कहा

कश्मीर : चेकप्वाइंट पर गाड़ी नहीं रोकी तो आम नागरिक को CRPF ने गोली मार दी?

क्या है घटना का सच?

रेलवे ने टिकट कटा चुके लोगों को बड़ा झटका दिया है

इसका श्रमिक और स्पेशल ट्रेनों पर क्या असर पड़ेगा?

20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज में से पहले दिन वित्त मंत्री ने क्या-क्या ऐलान किया?

20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज की डिटेल दी.

पीएम मोदी ने जिस Y2K क्राइसिस का ज़िक्र किया, वो क्या था?

पीएम ने 12 मई को देश को संबोधित किया.

अपने भाषण में नरेंद्र मोदी ने अगले लॉकडाउन के बारे में ये हिंट दे दिया है

मोदी के 34 मिनट के भाषण में काम की बात क्या थी?

ट्रेन के बाद अब फ़्लाइट शुरू होगी तो यात्रा के क्या नियम होंगे?

केबिन लगेज, जांच और बैठने की व्यवस्था को लेकर क्या नियम हैं?

गुजरात: CM बदलने की संभावना पर खबर चलाई, पुलिस ने राजद्रोह का केस लिख लिया

इस मामले में गुजरात सरकार की किरकिरी हो रही है.

किसी को सही-सही पता ही नहीं कि दिल्ली में कोरोना से कितनी मौतें हुईं!

सरकार और नगर निगम के आंकड़े अलग-अलग.