Submit your post

Follow Us

कोरोना और लॉकडाउन की मार खाए छोटे उद्योगों को सरकार ने ये राहत दी है

24 मार्च, 2020. रात को 8 बजे पीएम मोदी पूरे देश को लॉकडाउन करने की घोषणा करते उससे पहले वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की. ऐलान किया कि अब किसी भी एटीएम से पैसे निकालने पर फीस नहीं देनी होगी. और बैंक अकाउंट में मिनिमम अमाउंट रखने की कंडीशन को भी हटा दिया गया है. इसके अलावा वित्त मंत्री ने सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योगों से जुड़े लोगों के लिए भी एक राहत भरा ऐलान किया. वित्त मंत्री ने अब कर्ज न चुका पाने की स्थिति में दिवालिया घोषित करने की सीमा को बढ़ाकर एक करोड़ कर दिया गया है. अब तक ये एक लाख रुपए था.

वित्त मंत्रालय के इस फैसले का सीधा फायदा छोटे उद्योगों से जुड़े लोगों को होगा. क्योंकि कोरोना वायरस की वजह से हुए लॉकडाउन का सबसे ज्यादा प्रभाव इन्हीं पर पड़ा है. लॉकडाउन की वजह से छोटी कंपनियों पर दिवालिया होने का खतरा मंडराने लगा है. वित्त मंत्रालय ने ये भी कहा कि ये स्थिति अगर 30 अप्रैल तक बनी रहती है तो फिर IBC 2016 की धारा 7, 9 और 10 को 6 महीने तक के लिए निलंबित करने पर विचार किया जा सकता है.

इस फैसले की जानकारी देते हुए वित्त मंत्रालय ने अपने प्रेस रिलीज में लिखा,

कोविड-19 की वजह से गहराए आर्थिक संकट के कारण ज्‍यादातर कंपनियों की वित्तीय मुश्किलें काफी बढ़ गई हैं जिसे ध्‍यान में रखते हुए आईबीसी 2016 की धारा 4 के तहत कर्ज डिफॉल्ट की आरंभिक सीमा को बढ़ाकर 1 करोड़ रुपये (मौजूदा आरंभिक सीमा 1 लाख रुपये) करने का निर्णय लिया गया है. इससे सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग करने वालों के खिलाफ दिवाला संबंधी कार्यवाही सामान्‍यत: तुरंत शुरू नहीं हो पाएगी. यदि वर्तमान स्थिति 30 अप्रैल 2020 के बाद भी बनी रहती है तो आईबीसी 2016 की धारा 7, 9 और 10 को 6 महीने तक के लिए निलंबित करने पर विचार किया जा सकता है. ताकि व्‍यापक रूप से कंपनियों को इस तरह के अप्रत्‍याशित डिफॉल्ट के कारण विवश होकर दिवाला कार्यवाही से गुजरने से रोका जा सके.

इसके अलावा वित्त मंत्री ने आम आदमी की सहूलियत के लिए भी कई सारी घोषणाएं की. जिन्हें आप यहां क्लिक कर पढ़ सकते हैं. वित्त मंत्री ने लोगों को भरोसा दिलाया कि बाजार की मौजूदा स्थिति पर सरकार की नजर बनी हुई है. स्टॉक मार्केट पर भी बराबर नजर रखी जा रही है. सरकार लॉकडाउन से हो रहे नुकसान से निपटने के लिए आर्थिक पैकेज पर काम कर रही है. जल्द ही इसका ऐलान किया जा सकता है.


कोरोना वायरस की वजह से लॉकडाउन के समय में वित्त मंत्रालय की ओर से बड़ी राहत

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

चीन की इंटेलीजेंस को गोपनीय रिपोर्ट्स भेजने के आरोप में चीन की महिला सहित पत्रकार गिरफ्तार

चीन की इंटेलीजेंस को गोपनीय रिपोर्ट्स भेजने के आरोप में चीन की महिला सहित पत्रकार गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस ने कई सारे मोबाइल फोन, लैपटॉप समेत कई सेंसिटिव दस्तावेज भी बरामद किए हैं.

केरल और बंगाल से अल कायदा के 9 संदिग्ध आतंकी गिरफ्तार!

केरल और बंगाल से अल कायदा के 9 संदिग्ध आतंकी गिरफ्तार!

एनआईए ने दोनों राज्यों में छापे मारे.

हरसिमरत कौर बादल ने किसानों से जुड़े मुद्दे को लेकर मोदी सरकार से इस्तीफा दिया

हरसिमरत कौर बादल ने किसानों से जुड़े मुद्दे को लेकर मोदी सरकार से इस्तीफा दिया

हरसिमरत कौर केंद्र सरकार में फूड प्रॉसेसिंग इंडस्ट्रीज मिनिस्टर थीं.

20 सैनिकों की मौत के बाद भारत सरकार ने चीन में मौजूद बैंक से कई हज़ार करोड़ रुपए उधार लिए

20 सैनिकों की मौत के बाद भारत सरकार ने चीन में मौजूद बैंक से कई हज़ार करोड़ रुपए उधार लिए

सरकार ने ये जानकारी दी तो कांग्रेस ने इसे हथियार बना लिया

संसद सत्र से पहले दो जगह कराई कोरोना जांच, रिपोर्ट देखकर चकरा गए सांसद महोदय

संसद सत्र से पहले दो जगह कराई कोरोना जांच, रिपोर्ट देखकर चकरा गए सांसद महोदय

मॉनसून सत्र से पहले हुई जांच में 17 MP कोविड पॉजिटिव मिले हैं.

बिहार: 70 साल के इस शख्स ने दशरथ मांझी जैसा काम कर दिया है

बिहार: 70 साल के इस शख्स ने दशरथ मांझी जैसा काम कर दिया है

और इस नेक काम में उन्हें 30 साल लगे.

कोरोना से ठीक होने के बाद अगले कुछ दिनों तक क्या करें, स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया

कोरोना से ठीक होने के बाद अगले कुछ दिनों तक क्या करें, स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया

प्रोटोकॉल जारी किया है, पढ़ लें.

पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह का एम्स में निधन

पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह का एम्स में निधन

तीन दिन पहले लालू की पार्टी छोड़ी थी.

दिल्ली दंगा: पुलिस ने कहा-चार्जशीट में योगेंद्र यादव और येचुरी का नाम है पर आरोपी के रूप में नहीं

दिल्ली दंगा: पुलिस ने कहा-चार्जशीट में योगेंद्र यादव और येचुरी का नाम है पर आरोपी के रूप में नहीं

मीडिया में चल रही खबरों पर दिल्ली पुलिस ने स्थिति स्पष्ट की है.

जो काम खुद बाल ठाकरे करते थे, शिवसेना वालों ने उसी के लिए एक्स नेवी ऑफिसर को पीट दिया!

जो काम खुद बाल ठाकरे करते थे, शिवसेना वालों ने उसी के लिए एक्स नेवी ऑफिसर को पीट दिया!

पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.