Submit your post

Follow Us

मोदी फिट इंडिया लॉन्च कर रहे थे, कांग्रेस ने कहा "नीचे तो देखो"

नई दिल्ली में आज के दिन दो बातें हो रही हैं. एक, देश में आर्थिक मंदी आ गयी है. और दो, दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में नरेंद्र मोदी फिट इंडिया मूवमेंट की शुरुआत कर रहे हैं.

ध्यान दीजिए. एक था “क्विट इंडिया”. अंग्रेजों से देश को आज़ाद कराने वालों ने कहा था. और एक आया है “फिट इंडिया”. फैले नितम्बों और चढ़ी तोंदों से देश को आज़ाद कराने के लिए. दो साल पहले नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री आवास के लॉन पर योग कर दिया था.

बहुत बढ़िया योग किया था, हाथ फैलाकर पत्थर पट लेट गए थे. और हाथ फैलाकर पत्थर पर नंगे पैर चल दिए थे. और आज फिट इंडिया मूवमेंट की शुरुआत पर भी झामफाड़ खिलाड़ी स्टेज पर आ गए. नाच-गाना हुआ. और मोदी जी ने कहा कि फिट हो जाओ.

लेकिन मोदी जी ये सब कर रहे थे तो कांग्रेस उनके मज़े ले रही थी. कांग्रेस ने ट्विटर पर लिखा – #UnfitGovtUnfitEconomy. मतलब बेफिट सरकार और बेफिट अर्थव्यवस्था. और कांग्रेस के अन्दर कवि पैदा हुआ. दोहा लिख दिया,

 रुपया हुआ है बेदम, देखो साहेब का कमाल।
ऊपर साहेब, नीचे रुपया, हुआ है बुरा हाल।।

और लिख दिया है, सोचता हूं कि वो कितने मासूम थे, क्या से क्या हो गए देखते-देखते! तस्वीर लगाई कि मोदी पत्थर नहीं, पैसे के ऊपर कचरकर लेट गए थे. और पैसा पड़ा कांख रहा है.


और ये लिखे जाने के पहले देश में ठेकेदारी और कोयला खनन में 100 प्रतिशत की FDI आ चुकी है.


लल्लनटॉप वीडियो : बांग्लादेश की हाईकोर्ट ने लड़कियों के लिए ऐतिहासिक फैसला दिया है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

प्रियंका गांधी ने जो गाड़ियां यूपी भेजी हैं, उनमें कितनी बसें हैं, कितने ऑटो?

छह सूचियों में कुल 1049 गाड़ियों की डिटेल्स भेजी गई है.

देशभर में 200 और ट्रेनें चलने की तारीख़ आ गई है

इस बार ख़ुद रेल मंत्री ने बताया है.

लॉकडाउन 4: दफ़्तरों के लिए क्या गाइडलाइंस हैं?

इस लॉकडाउन में तमाम तरह की छूट दी गई हैं.

प्रियंका गांधी वाड्रा की 1000 बसों में कुछ नंबर ऑटो और कार के कैसे निकल गए?

हालांकि संबित पात्रा ने भी जिस बस को स्कूटर बताया, वहां एक पेच है.

मज़दूरों की लाश की ऐसी बेक़द्री पर झारखंड के सीएम कसके गुस्साए हैं

घायल मज़दूरों के साथ अमानवीय व्यवहार करने का आरोप.

कोरोना की वैक्सीन को लेकर अच्छी खबर, जल्द ही आखिरी स्टेज का टेस्ट होने की उम्मीद

जुलाई के महीने को लेकर अहम बात भी कह डाली है.

केजरीवाल ने लॉकडाउन 4 में बहुत सारी छूट दे दी हैं

ऑड-ईवन आ गया, लेकिन ट्रांसपोर्ट में नहीं.

लॉकडाउन 4: पर्सनल गाड़ी से शहर या राज्य के बाहर जाने के क्या नियम हैं?

केंद्र सरकार ने इस पर क्या कहा है?

कोरोना संक्रमण के बीच स्विगी ने बहुत बुरी खबर दी है

दो दिन पहले जोमैटो ने भी ऐसा ही ऐलान किया था.

ममता बनर्जी ने लॉकडाउन के नियमों में बहुत बड़ा बदलाव किया है

केंद्र सरकार की नई बात मानने से मना कर दिया!