Submit your post

Follow Us

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री निसिथ प्रमाणिक की भारतीय नागरिकता पर कांग्रेस सांसद ने उठाए सवाल

निसिथ प्रमाणिक. केंद्रीय गृह राज्य मंत्री. असम कांग्रेस प्रमुख और राज्यसभा सांसद रिपुन बोरा ने नए गृह राज्य मंत्री की नागरिकता की जांच की मांग की है. इस मामले में बोरा ने पीएम मोदी को लेटर लिखा है. इसमें दावा किया है कि प्रमाणिक बांग्लादेशी नागरिक हैं.

बोरा ने पीएम मोदी को लिखा लेटर ट्वीट किया है. ये लेटर 16 जुलाई को लिखा गया था. इसमें उन्होंने लिखा है,

मैं आपका ध्यान गंभीर और संवेदनशील मुद्दे की ओर दिलाना चाहता हूं. यह नए गृहराज्य मंत्री निसिथ प्रमाणिक की नागरिकता और जन्मस्थान से जुड़ा है. कई न्यूज चैनलों में पब्लिश रिपोर्ट में निसिथ प्रमाणिक को बांग्लादेशी बताया गया है. उनका जन्म स्थान बांग्लादेश के गैबांधा जिले के पलासबारी पुलिस स्टेशन के तहत हरिनाथपुर में हुआ. वह कंप्यूटर की पढ़ाई के लिए पश्चिन बंगाल आए थे. कंप्यूटर की डिग्री लेने के बाद TMC में शामिल हो गए और बाद में बीजेपी में आए और कोचबिहार से सांसद चुने गए.

बोरा ने आगे लिखा है,

समाचार चैनलों के मुताबिक प्रामाणिक ने ‘छेड़छाड़ कर’ चुनावी नामांकन पत्र में अपना पता कोचबिहार दिखाया. चैनलों ने बांग्लादेश स्थित उनके पैतृक गांव का ‘खुशनुमा माहौल’ भी दिखाया है, जिसमें ‘उनके बड़े भाई’ और कुछ ग्रामीण प्रामाणिक के केंद्रीय मंत्री बनने पर खुशी जता रहे हैं. अगर ऐसा है तो देश के लिए बहुत गंभीर मामला है कि एक विदेशी को केंद्रीय मंत्री नियुक्त किया गया है. इसलिए मैं आपसे से मांग करता हूं कि निसिथ प्रामाणिक के जन्मस्थान और राष्ट्रीयता की जांच पारदर्शी तरीके से कराएं ताकि पूरे देश में उत्पन्न भ्रम की स्थिति दूर हो सके.

इंडिया टुडे के राहुल श्रीवास्तव/सूर्याग्नि रॉय की रिपोर्ट के मुताबिक इन आरोपों पर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री की ओर से कोई जवाब नहीं आया है. शनिवार, 17 जुलाई की रात तक, गृह मंत्रालय की वेबसाइट पर मंत्रियों की सूची से प्रमाणिक का नाम और तस्वीर गायब पाई गई.

Ministery Portel

आधिकारिक वेबसाइट पर ‘अबाउट अस’ लिंक ‘हू इज हू’ सेक्शन की ओर ले जाता है. इसके तहत दो लिंक हैं- एक तो केंद्रीय मंत्री और दूसरा राज्य मंत्री का है. राज्य मंत्री पर क्लिक करने पर नित्यानंद राय और अजय कुमार मिश्रा का ही नाम दिखाई दे रहा है. नित्यानंद राय पहले से राज्य मंत्री थे, जबकि अजय कुमार मिश्रा और प्रामाणिक को 7 जुलाई को मंत्री बनाया गया था.

कैबिनेट सचिवालय ने 7 जुलाई को राष्ट्रपति कार्यालय से लेकर भारत सरकार के सभी सचिवों को एक नोट में बताया था कि निसिथ प्रमाणिक ने गृह मामलों और युवा और खेल मंत्रालय में MoS के रूप में कार्यभार संभाला है.

Letter

एक सीनियर अधिकारी ने इंडिया टुडे को बताया कि यदि एक ही दिन में दो लोगों को मंत्री बनाया जाता है और कार्यभार सौंपा जाता तो फिर वेबसाइट पर एक ही मंत्री की फोटो और नाम ही क्यों दिखाया गया. यह जरूर कोई गंभीर चूक है. इंडिया टुडे ने जब गृह मंत्रालय से बात करनी चाही तो वहां से कोई जवाब नहीं मिला. वहीं प्रामाणिक को फोन करने पर भी कोई जवाब नहीं आया.

बोरा के आरोपों पर बंगाल बीजेपी के प्रवक्ता समिक भट्टाचार्जी ने कहा,

‘इस तरह के आरोप हमेशा विपक्ष द्वारा लगाए जाते हैं. लेकिन उन्हें साबित करने के लिए विपक्ष को सबूत देने की जरूरत है.

वहीं पश्चिम बंगाल भाजपा के महासचिव सयंतन बसु ने कहा कि अगर वे इस मुद्दे को और तूल देना चाहते हैं, तो वे अदालत जाने के लिए स्वतंत्र है.

बोरा से पहले  पश्चिम बंगाल के सूचना एवं सांस्कृतिक मामलों के राज्य मंत्री, इंद्रनील सेन कहा था कि वह यह जानकर हैरान और स्तब्ध हैं कि केंद्रीय मंत्री निसिथ प्रमाणिक बांग्लादेश के नागरिक हो सकते हैं! यदि मौजूदा केंद्रीय मंत्री एक विदेशी नागरिक है, तो यह भारत की सुरक्षा के लिए खतरनाक चिंता का विषय है. नरेन्द्र मोदी सरकार इस तरह की सुरक्षा चूक कैसे होने दे दे सकती है?”

वहीं खबरें चल रही हैं कि प्रामाणिक के करीबी सूत्रों का कहना है कि मंत्री ‘देशभक्त भारतीय’ हैं, जिनका जन्म, पालन-पोषण और शिक्षा-दीक्षा भारत में ही हुई है. उन पर लगाए जा रहे आरोप निराधार हैं. अगर मंत्री के कुछ रिश्तेदार दूसरे देश में जश्न मना रहे हैं तो वह क्या कर सकते हैं.  अगर कनाडा के सांसद के भारतीय रिश्तेदार गर्व महसूस करते हुए भारत में उत्सव मनाते हैं तो उससे कनाडा के सांसद को क्या लेना देना है. यह उसी तरह का मामला हो सकता है.

2019 के लोकसभा चुनावों और 2021 के पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में दिए अपने हलफनामे में प्रमाणिक ने पश्चिम बंगाल में अपने दिनहाटा पते का हवाला दिया है.


पश्चिम बंगाल: बीजेपी के जगन्नाथ सरकार और निशीथ प्रमाणिक ने विधायकी से इस्तीफा किया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

मुंबई में बारिश से बड़ा हादसा, चेंबूर में दीवार गिरने से 17 की मौत

विक्रोली में भी 6 की मौत, पीएम ने दुख जताया, मुआवजे की घोषणा की.

टी-सीरीज़ वाले भूषण कुमार पर रेप का आरोप लगा, मुंबई में रिपोर्ट दर्ज

मुंबई के डीएन थाने में तीस साल की महिला ने रिपोर्ट दर्ज कराई.

अफगानिस्तान में भारतीय पत्रकार दानिश सिद्दीकी की हत्या, तालिबान ने किया था हमला

दानिश सिद्दीकी अपनी तस्वीरों के लिए फेमस थे, 2018 में Pulitzer अवार्ड भी मिला था.

MP के विदिशा में 30 से ज्यादा लोग कुएं में गिरे, 4 की मौत, 13 लापता, 19 बचाए गए

बच्चा कुएं में गिरा, तो बड़ी संख्या में ग्रामीण कुएं की छत पर चढ़ गए थे.

'नदिया के पार' जैसी बड़ी फ़िल्मों में काम कर चुकीं एक्ट्रेस सविता बजाज की हताशा, "मेरा गला घोंट दो"

इलाज के लिए पैसे नहीं हैं.

PM मोदी ने वाराणसी में जिस रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर का उद्घाटन किया, वो है क्या?

योगी सरकार के लिए क्या बोले PM?

कांवड़ यात्रा पर सुप्रीम कोर्ट ने दिखाई सख्ती, लेकिन यूपी सरकार पीछे हटने को तैयार नहीं?

योगी सरकार में स्वास्थ्य मंत्री के बयान से तो कुछ ऐसा ही लग रहा.

पीएम मोदी के मंत्रिमंडल विस्तार में ऐसा क्या हुआ कि महाराष्ट्र बीजेपी में उथल-पुथल मच गई?

क्या पंकजा मुंडे की नाराजगी महाराष्ट्र बीजेपी को भारी पड़ेगी?

पंजाबी सिंगर मनमीत सिंह का शव बरामद हुआ, भारी बारिश के बाद बह गए थे

एक नाला पार करते वक्त गिर गए थे मनमीत सिंह.

कोंगु नाडु: मोदी कैबिनेट का विस्तार तमिलनाडु के विभाजन से जुड़े इस पुराने मुद्दे को कैसे हवा दे गया?

तमिल मीडिया के एक हिस्से में इसे लेकर काफी गर्मजोशी दिखाई जा रही है.