Submit your post

Follow Us

अब पैंगोंग झील के किनारे फिर चीन की हलचल बढ़ी, सैटेलाइट इमेज में दिख रहे टेंट

लद्दाख की गलवान घाटी. भारत-चीन तनाव के बीच 15 जून को दोनों देशों के सैनिकों के बीच हिंसा में भारत के 20 जवान शहीद हुए. इसके बाद डीएस्केलेशन की बात हुई. मतलब सैनिक पीछे हटें. ख़बरें आईं कि गलवान में चीन पीछे हटने लगा, लेकिन एक जगह फिर उसने गतिविधियां ज्यादा बढ़ा दी हैं. वो जगह है पैंगोंग त्सो झील. मई महीने में 5-6 तारीख को इसी झील के किनारे झड़प हुई थी. इसके बाद कई झड़पों के बाद विवाद बढ़ता ही गया. अब इंडिया टुडे  को मिलीं एक्सक्लूसिव सैटेलाइट इमेज के मुताबिक, झील के किनारे फिंगर 4 से 6 के बीच टेंट दिख रहे हैं, जो चीन के बताए गए हैं. रिपोर्ट के मुताबिक, चीन यहां बिल्डअप कर रहा है.

ये हाई डेफिनिशन सैटेलाइट तस्वीरें सैट इंटेल एनालिस्ट नेथन रूज़र ने पब्लिश की हैं और ‘इंडिया टुडे’ से साझा की हैं. फिंगर 4 पर इस इमेज में चीन की पोजिशन देखी जा सकती है.

फिंगर चार पर चीन की पोजीशनिंग. Twitter/@Orion_Int
फिंगर चार पर चीन की पोजीशनिंग. Twitter/@Orion_Int

LAC और फिंगर्स की स्थिति

फिंगर्स झील के किनारे की पहाड़ियां हैं, जो उंगलियों की तरह झील की तरफ जाती दिखती हैं. भारत का स्टैंड रहा है कि पैंगोंग झील पर लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) फिंगर 8 से गुजरती है. पहले भारत के सैनिक यहां तक पैट्रोलिंग भी करते थे, लेकिन फिंगर 4 के आगे ज़्यादा एक्टिव कंट्रोल नहीं रहा. 2017 में चीन के सैनिक यहां तक आ गए थे.

चीन दावा करता है कि LAC फिंगर 2 से गुजरती है. वो फिंगर 4 तक पैट्रोलिंग करते रहे हैं. मई में जो झड़प हुई थी, वो फिंगर 5 पर हुई थी. फिलहाल फिंगर 2 पर भारतीय सेना है और फिंगर 4 पर चीन की हलचल बढ़ गई है. इससे तनाव बढ़ सकता है. नीचे के मैप पर फिंगर्स की स्थिति समझें.

पैंगोंग झील पर 8 फिंगर्स को इस मैप के जरिए समझें. फोटो: India Today
पैंगोंग झील पर 8 फिंगर्स को इस मैप के जरिए समझें. फोटो: India Today

भारतीय सेना भी पैंगोंग इलाके में मौजूद

‘इंडिया टुडे’ के डिफेंस जर्नलिस्ट शिव अरूर ने आर्मी सूत्रों के हवाले से बताया कि भारतीय सेना भी पैंगोंग इलाके में पर्याप्त संख्या में मौजूद है. रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले 10 दिनों की सैटेलाइट इमेज और एनालिसिस से पता चलता है कि न सिर्फ चीन ने यहां टेंट लगा रखे हैं, बल्कि फिंगर 4 की रिजलाइन पर पिलबॉक्स (हथियारों के बंकर) भी बना रखे हैं. आर्मी के सूत्रों का कहना है कि सीने तक ऊंची कुछ डेफेंसिव दीवारें भी उन्हें दिखी हैं.

पैंगोंग झील पर फिर से चीन की गतिविधि बढ़ने से इसे चीन की तरफ से ‘स्टेटस को’ (यथास्थिति) बदलने की कोशिश की तरह देखा जा रहा है. सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे इसी हफ्ते दो दिन पूर्वी लद्दाख में रहे और उन्होंने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को स्थिति की जानकारी दी. लद्दाख में जनरल नरवणे ने पैंगोंग इलाके में सैनिकों से मुलाकात की. गलवान घाटी में 15 जून को घायल हुए सैनिकों का भी हाल-चाल जाना.

दूसरी जगहों पर भी चीन की हलचल

इसके अलावा चीन दौलत बेग ओल्डी (DBO) और देपसांग सेक्टर में भी दखल बढ़ा रहा है. ‘इंडिया टुडे’ के मंजीत सिंह नेगी की रिपोर्ट के मुताबिक, LAC के पास स्थित DBO इलाके में पेट्रोलिंग पॉइंट 10 से 13 के बीच चीन, भारतीय जवानों के लिए दिक्कत बढ़ा रहा है.

‘इंडिया टुडे’ के सूत्र का कहना है,

दौलत बेग ओल्डी (DBO) सेक्टर में चीन भारत के लिए परेशानियां खड़ी करना चाहता है. वो हमारे पेट्रोल्स के रास्तों को ब्लॉक कर रहा है, उन्हें पेट्रोलिंग पॉइंट 10 से 13 तक नहीं पहुंचने दे रहा. ये कारवां नदी घाटी से सटे हुए हैं और DBO सेक्टर में इंडियन बटालियन के पास हैं.

चीन के बेस के पास कैंप और वाहन देखे गए हैं. चीन की ओर से ये बेस 2016 से पहले ही बनाए गए थे, लेकिन इस महीने सैटेलाइट तस्वीरों से पता चला है कि यहां पर नए कैंप और वाहनों के लिए ट्रैक बनाए गए हैं. ज़मीनी ट्रैकिंग के जरिए भी इसकी पुष्टि हो चुकी है. देपसांग वो इलाका है, जहां पर चीन की सेना ने 2013 में घुसपैठ की थी.


भारत और चीन की सेना के बीच दूसरे दौर की बातचीत कहां फंस रही?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

बादशाह ने यूट्यूब पर व्यूज चोरी कर अपना गाना हिट बनाया!

पुलिस के हत्थे चढ़े, 10 घंटे हुई पूछताछ.

दिल्ली दंगा : मरा है या नहीं, ये चेक करने के लिए ज़िंदा शाहबाज़ पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी गयी!

कोर्ट में सुनवाई में दिल्ली पुलिस ने क्या बताया

अयोध्या भूमिपूजन से पहले मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की 'धमकी' का क्या सुप्रीम कोर्ट लेगा संज्ञान?

AIMPLB ने Tweet पर विवाद देख डिलीट कर लिया है.

दिशा सालियान की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट ने खुलासा किया कि मौत की असली वजह क्या थी

मुंबई में एक बिल्डिंग के 14वें माले से गिरकर दिशा की जान गई थी.

दिशा सालियान केस में मुंबई पुलिस अब लोगों से क्या मदद मांग रही है?

बीजेपी सांसद नारायण राणे ने गंभीर आरोप लगाए थे.

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के UPSC निकालने वाले कैंडिडेट्स ने बताया एग्ज़ाम की तैयारी कैसे की

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के 16 कैंडिडेट ने परीक्षा पास की है.

अयोध्या : भूमिपूजन में नरेंद्र मोदी और सारे गेस्ट्स की इन तस्वीरों को देखिए!

राम मंदिर का भूमिपूजन.

UPSC रैंकर जिसकी तुलना 'पाताल लोक' के इमरान अंसारी से हो रही है

दिल्ली पुलिस परिवार से पांच लोगों ने इस बार UPSC एग्ज़ाम क्रैक किया है.

इमरान खान ने तमाम छेड़छाड़ करके पाकिस्तान का एक नया नक्शा पेश किया है

उनकी कैबिनेट ने वो नक्शा पास कर दिया है.

मुंबई पुलिस कमिश्नर ने अधिकारियों से कहा, सुशांत की मौत से जुड़ी जानकारी किसी से भी शेयर नहीं करना!

उस मीटिंग में और क्या कहा मुंबई के पुलिस कमिशनर ने?