Submit your post

Follow Us

चीन ने उस जीव को दवा बनाने की लिस्ट से हटाया, जिसका नाम कोरोना वायरस से जुड़ा था

चीन से जब कोरोना वायरस शुरू हुआ, तो इसका संबंध पैंगोलिन नाम के जीव से भी जोड़ा गया. अब चीन ने परंपरागत दवाइयां बनाने के सामान की लिस्ट से पैंगोलिन का नाम हटा दिया है. उसकी खाल का इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा. सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक, कहा जा रहा है कि इस जानवर को बचाने के लिए ये कदम उठाया गया. दावा किया जाता है कि दुनिया में इसकी सबसे ज्यादा तस्करी की जाती है.

चीन के ‘हेल्थ टाइम्स’ अखबार के मुताबिक, ट्रेडिशनल चाइनीज मेडिसिन (TCM) की लिस्ट से इसे हटाने का फैसला तब आया है, जब इसके प्रोटेक्शन लेवल को पिछले हफ्ते सबसे ज़्यादा बढ़ा दिया गया.

पैंगोलिन को चींटीखोर भी कहते हैं. चीन में परंपरागत दवाओं के लिए पैंगोलिन स्केल का इस्तेमाल किया जाता है. पैंगोलिन की त्वचा के ऊपर सख्त लेयर होती है, जो अलग-अलग ब्लॉक जैसी दिखती है. इन्हें स्केल कहते हैं. ये स्केल कैरोटिन के बने होते हैं. इनसे पैंगोलिन अपनी रक्षा भी करते हैं.

एशिया के कई देशो में बड़ी मात्रा में इस्तेमाल

चीन की परंपरागत दवाइयों में इनका इस्तेमाल इस दावे के साथ किया जाता है कि इससे आप युवा और खूबसूरत रहेंगे. गठिया के लिए भी ये इस्तेमाल होता है. एशिया के कई इलाकों में इसका मीट खाया जाता है और इसके स्केल की ट्रैफिकिंग की जाती है. ‘गार्डियन’ की रिपोर्ट के मुताबिक, हर साल एशिया में इसी वजह से करीब दो लाख पैंगोलिन मारे जाते हैं. पिछले साल 130 टन पैंगोलिन स्केल अलग-अलग बॉर्डर पर ट्रैफिकिंग की वजह से सीज किए गए. एशिया-अफ्रीका के जंगलों से चीन और वियतनाम के बाज़ारों में ये सबसे ज़्यादा बेचे जाते हैं.

चीन में तस्करी पर सजा मिलती है

पैंगोलिन की सभी आठ प्रजातियों को इंटरनेशनल लॉ की मदद से संरक्षण मिला हुआ. चीन में इसकी तस्करी करने वालों पर कम से कम 10 साल की सजा का प्रावधान है. पैंगोलिन का नाम सूची से हटाए जाने पर हॉन्ग-कॉन्ग में वर्ल्ड वाइल्ड फंड फॉर नेचर (WWF) के निदेशक डेविड ओल्सन ने कहा-

‘चीन के इस कदम का बड़ा प्रभाव होगा. अगर इस जानवर को वाकई बचाना है, तो ये कदम उठाना जरूरी था.’

कहा गया कि कोरोना वायरस को लेकर चमगादड़ के अलावा पैंगोलिन की भी भूमिका है. पैंगोलिन से मिले वायरस में स्पाइक प्रोटीन मिला था, जो कोरोना वायरस के प्रोटीन से मेल खाता हैं.


कोरोना वायरस पर चीन की एक रिसर्च ने ‘गर्दन घुसेड़ गोल’ होने वाले जानवर को बताया जिम्मेदार?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

संसद सत्र से पहले दो जगह कराई कोरोना जांच, रिपोर्ट देखकर चकरा गए सांसद महोदय

मॉनसून सत्र से पहले हुई जांच में 17 MP कोविड पॉजिटिव मिले हैं.

बिहार: 70 साल के इस शख्स ने दशरथ मांझी जैसा काम कर दिया है

और इस नेक काम में उन्हें 30 साल लगे.

कोरोना से ठीक होने के बाद अगले कुछ दिनों तक क्या करें, स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया

प्रोटोकॉल जारी किया है, पढ़ लें.

पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह का एम्स में निधन

तीन दिन पहले लालू की पार्टी छोड़ी थी.

दिल्ली दंगा: पुलिस ने कहा-चार्जशीट में योगेंद्र यादव और येचुरी का नाम है पर आरोपी के रूप में नहीं

मीडिया में चल रही खबरों पर दिल्ली पुलिस ने स्थिति स्पष्ट की है.

जो काम खुद बाल ठाकरे करते थे, शिवसेना वालों ने उसी के लिए एक्स नेवी ऑफिसर को पीट दिया!

पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

क्या यूपी में कोविड किट खरीद में घोटाला हुआ है? जांच के लिए SIT बनी

बीजेपी नेताओं ने ही घोटाले का आरोप लगाया है. ताजा मामला सहारनपुर से आया है.

जोकोविच ने अंपायर को गेंद मार घायल किया, उसके बाद जो हुआ वो क्रिकेट फैन्स के लिए सीख है

और इंडिया के बड़े सुपरस्टार्स के लिए भी.

ड्रग्स मामले में रिया चक्रवर्ती गिरफ्तार, आरोप साबित हुए तो 10 साल कैद हो सकती है

भाई शौविक और सुशांत के हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा पहले ही अरेस्ट हो चुके हैं.

GDP गिरने पर रघुराम राजन ने सरकार को बहुत बड़ी नसीहत दे दी है

किस बात पर रघुराम राजन ने कहा, 'सरकार अपने खोल में चली गयी'