Submit your post

Follow Us

नासा ने बताया कि इसरो के चंद्रयान से कनेक्शन कहां फंसा हुआ है?

5
शेयर्स

चांद की सतह पर चंद्रयान का विक्रम लैंडर मौजूद है. उससे संपर्क साधने की कोशिश में इसरो लगातार लगा हुआ है. अब तो अमरीका भी साथ दे रहा है. पढ़िए इस बारे में. 

लेकिन एक काम है जो चांद के सतह पर पड़े हुए विक्रम लैंडर को भी करना होगा. अगर बस वो एक काम कर दे तो चंद्रयान और इसरो के बीच संपर्क हो जाएगा. सब ठीक हो जाएगा.

हो क्या रहा है?

नासा के Deep Space Network की मदद से रेडियो सिग्नल भेजे जा रहे हैं. अगर विक्रम लैंडर सिग्नल का जवाब देगा तो लगभग खो चुके लैंडर से सम्पर्क साध लिया जाएगा. बस विक्रम लैंडर को जवाब देने भर की देर है.

नासा के DSN के स्टेशन अमरीका के साउथ कैलिफोर्निया में, स्पेन के मैड्रिड में, और ऑस्ट्रेलिया के कैनबरा में मौजूद हैं. ये तीनों स्टेशन एक दूसरे से 120 डिग्री के एंगल पर हैं. और स्पेस में मौजूद किसी भी सैटलाइट से संपर्क करने की क्षमता रखते हैं. हरेक स्टेशन पर चार एंटीना मौजूद होते हैं. हर एंटीना 25 से 70 मीटर की क्षेत्रफल में फैला हुआ है.

सितम्बर 11 

अमरीका के साउथ कैलिफोर्निया में मौजूद DSN स्टेशन. दोपहर 1 बजे से शाम 5 बजे तक. चंद्रयान से संपर्क स्थापित करने का पहला फेज़. चांद की सतह पर मौजूद विक्रम लैंडर की ओर सिग्नल भेजे गए.

डीप स्पेस नेटवर्क से लैंडर को भेजे जा रहे सिग्नल.
डीप स्पेस नेटवर्क से लैंडर को भेजे जा रहे सिग्नल.

दूसरा फेज़. चांद का चक्कर काट रहे ऑर्बिटर को सिग्नल भेजा गया.

डीप स्पेस नेटवर्क से ऑर्बिटर को भेजा गया सिग्नल
डीप स्पेस नेटवर्क से ऑर्बिटर को भेजा गया सिग्नल

लेकिन लैंडर और ऑर्बिटर में से केवल ऑर्बिटर ने ही वापिस जवाब भेजा. लैंडर की ओर से कोई सिग्नल नहीं आया.

चित्र में दाहिनी तरफ दिख रहा है कि ऑर्बिटर से वापिस सिग्नल आ रहा है, लेकिन लैंडर से नहीं आ रहा है.
चित्र में दाहिनी तरफ दिख रहा है कि ऑर्बिटर से वापिस सिग्नल आ रहा है, लेकिन लैंडर से नहीं आ रहा है.

सितम्बर 12

ऑस्ट्रेलिया के कैनबरा में मौजूद DSN स्टेशन. दोपहर 2:30 बजे से शाम 6:00 बजे तक. यहां से लैंडर को सिग्नल भेजा जाता है. लगातार साढ़े तीन घंटों तक. लेकिन वहां से कोई जवाब नहीं आता है.

ऑस्ट्रेलिया के DSN स्टेशन से भेजे जाने पर भी लैंडर ने कोई जवाब नहीं दिया.
ऑस्ट्रेलिया के DSN स्टेशन से भेजे जाने पर भी लैंडर ने कोई जवाब नहीं दिया.

बस लैंडर को यही काम करना है. सिग्नल का जवाब देना है. फिर गाड़ी चल निकलेगी.


लल्लनटॉप वीडियो : ISRO के 85 से 90 फीसदी वैज्ञानिकों और इंजीनियरों की सैलरी घट गई है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

इमरान खान: इक्कीसवीं सदी के वो कोलंबस, जिन्होंने 11 नए देश खोज डाले हैं

पहले आती थी हर बात पर हंसी...

बैन के बावजूद होर्डिंग लगाया, स्कूटी चला रही लड़की पर गिरा, संभलने से पहले ट्रक ने कुचल दिया

नेता के बेटे की शादी का होर्डिंग था.

अरे बाप रे! बुड्ढा बनकर देश से भाग रहे इस बंदे ने तो बहुत बड़े-बड़े कांड किए हैं

फर्जीवाड़े की 'थोक की दुकान' है ये!

बच्चा बोल रहा था, 'मेरे चाचा को छोड़ दो', यूपी पुलिस ने गाड़ी का कागज़ न मिलने पर लात-घूंसों से पीट दिया

फिर कार्रवाई क्या हुई?

खुश तो बहुत होंगे अमिताभ, KBC में उस डॉक्टर से मिले जिसने 35 साल पहले जान बचाई थी

इंतेहा हो गई....

चंकी पांडे ने साजिद खान के बारे में ये बात बोलकर पूरे मीटू मूवमेंट की आत्मा मार दी

आमिर खान के आंखों की नींद क्या गायब हुई, इंडस्ट्री की आंखों का तो पानी ही चला गया.

गज़ब! इन श्रद्धालुओं ने कुछ अच्छा करने के लिए गणपति विसर्जन की रैली तक रोक दी

'श्रद्धा' के साथ 'सबूरी' भी जुड़ जाए तो ये होता है.

4,6,8,10,12... दिल्ली में ऑड-ईवन दोबारा

जान लीजिए कब से लागू हो रहा है?

चुनाव जीतने के लिए हेटस्पीच फैला रहे थे नेतन्याहू, फेसबुक ने सस्पेंड किया अकाउंट

इज़राइल में 6 महीने के अंदर दोबारा चुनाव हो रहे हैं.

गणपति विसर्जन करने गए थे, झील में नाव पलटी और 11 लोग मर गए

खुशी का माहौल मातम में बदल गया.