Submit your post

Follow Us

CM नीतीश कुमार अस्पताल में थे, बच्चे की मौत हो गई

बिहार के मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार की वजह से अब तक 129 बच्चों की मौत हो चुकी है. ये सरकारी आंकड़ा है, जिसे श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज और अस्पताल ने जारी किया है. अगर गैर सरकारी आंकड़ों की माने तो ये संख्या 250 के पार हो चुकी है. इनमें निजी अस्पतालों, दूसरे सरकारी अस्पतालों और घर में दम तोड़ने वाले बच्चों की संख्या भी शामिल है.

इतनी मौतों के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 18 जून को मुजफ्फरपुर के श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में पहुंचे. जब नीतीश का काफिला अस्पताल की ओर बढ़ रहा था, स्थानीय लोग नीतीश कुमार मुर्दाबाद और नीतीश कुमार वापस जाओ के नारे लगा रहे थे. उनका कहना था कि मुजफ्फरपुर पटना से 100 किलोमीटर से भी कम दूरी पर है और नीतीश कुमार को इतने दिनों के बाद मर रहे बच्चों की सुध आई है.

विरोध प्रदर्शन के बावजूद नीतीश कुमार अस्पताल में पहुंचे. वो अस्पताल का मुआयना कर ही रहे थे कि आईसीयू में भर्ती एक बच्चे की मौत हो गई. इसके बाद प्रदर्शन और भी उग्र हो गया. लोग कह रहे थे कि इलाज ठीक से नहीं हो रहा है. बच्चे रोज मर रहे हैं. अभी नीतीश कुमार के सामने भी एक बच्चे की मौत हो गई है. नीतीश अब क्यों जागे हैं, उन्हें वापस चले जाना चाहिए. इसके बाद भी नीतीश कुमार अस्पताल का मुआयना करते रहे और फिर वापस चले गए. बीजेपी सांसद ने कहा, 4जी से हो रही है मौत

बीजेपी सांसद ने कहा है कि बच्चों की मौत 4जी की वजह से हो रही है.
बीजेपी सांसद ने कहा है कि बच्चों की मौत 4जी की वजह से हो रही है.

मुजफ्फरपुर से बीजेपी के सांसद हैं अजय निषाद. उन्होंने कहा है कि चमकी बुखार के लिए 4जी को जिम्मेदार ठहराया है. 4जी के बारे में बताते हुए अजय निषाद ने कहा कि अभी तक बीमारी की वजह पता नहीं चल पाई है. हर कोई अपनी-अपनी राय दे रहा है. इसलिए 4जी पर काम करने की ज़रूरत है. पहले जी से गांव, दूसरे जी से गर्मी, तीसरे जी से गरीबी और चौथे जी से गंदगी. अजय निषाद ने कहा कि इलाज के लिए जो भी मरीज आ रहे हैं, वो गरीब तबके के हैं. उनका रहन-सहन का स्तर नीचे है, जिसे उसको भी ऊपर उठाने की जरूरत है. जेडीयू सांसद ने कहा, गर्मी में तो बच्चे मरते ही हैं जेडीयू के सांसद हैं दिनेश चंद्र यादव. उन्होंने कहा कि हर साल गर्मी में बच्चे मरते ही हैं. हर साल ये आंकड़ा बढ़ रहा है, लेकिन इसमें नीतीश कुमार की कोई गलती नहीं है. जब बारिश होगी, तो सब ठीक हो जाएगा.

मंत्री ने कहा, 120 मरे तो 200 बचाए भी गए

बिहार के नगर विकास मंत्री हैं सुरेश शर्मा. उन्होंने कहा है कि अगर 120 बच्चों की मौत हुई है तो 200 से ज्यादा बच्चों को बचाया भी गया है. उन्होंने कहा कि एईएस से प्रभावित 200 बच्चों का इलाज किया गया है और उन्हें अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई है.


 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

दिल्ली से मॉस्को की उड़ान, रास्ते में पता चला पायलट को कोरोना है, 1800 किमी जा चुकी फ्लाइट वापस लौटी

रूस में फंसे भारतीयों को लाने जा रही थी फ्लाइट.

कांग्रेस और बीएसपी से गठंबधन कर चुके अखिलेश ने बताया, अगला चुनाव किसके साथ लड़ेंगे?

कहा – राजनीति में कोई लॉकडाउन नहीं होता.

क्या सरकार ने फाइल ट्रांसफर करने वाली साइट WeTransfer को बैन कर दिया है?

WeTransfer फाइल शेयर करने के लिए कमाल का जरिया है.

कांग्रेस नेता अधीर रंजन बोले, अगर ये एक काम करती मोदी सरकार तो ना बढ़ता कोरोना

अधीर रंजन चौधरी ने आज तक ई-एजेंडा में शिरकत की.

नितिन गडकरी ने कहा-20 लाख नहीं 50 लाख करोड़ रुपये का पैकेज है

गडकरी ने मजदूरों के बारे में भी बयान दिया है.

प्रज्ञा ठाकुर के लापता होने के पोस्टर लगे, बीजेपी ने बताया कैंसर के इलाज के लिए दिल्ली में हैं

29 मई की सुबह भोपाल में प्रज्ञा ठाकुर के पोस्टर लगे.

अमेरिका ने WHO से कट्टी कर ली, ट्रंप ने फिर कहा- चीन का उस पर कंट्रोल है

हर साल अमेरिका करीब 450 मिलियन डॉलर WHO को देता था.

भारत-चीन सीमा पर तनाव, कैसे निकलेगा हल, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बताया

आज तक के ई-एजेंडा में कहा-किसी तीसरे देश की मध्यस्थता की स्थिति नहीं.

फॉर्ब्स की ज्यादा कमाई करने वाले खिलाड़ियों की लिस्ट में किस नंबर हैं कोहली?

भारत की तरफ से इस लिस्ट में इकलौते खिलाड़ी हैं.

श्रमिक ट्रेनों में अब तक 80 लोगों की जान जा चुकी है!

रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स यानी आरपीएफ के डेटा के रिव्यू से मिली जानकारी.